Petrol Diesel Price: नहीं रुक रही तेल कम्पनियों की रफ्तार, जयपुर में पहली बार पेट्रोल 115 के पार

Petrol Diesel Price: नहीं रुक रही तेल कम्पनियों की रफ्तार, जयपुर में पहली बार पेट्रोल 115 के पार

Petrol Diesel Price: नहीं रुक रही तेल कम्पनियों की रफ्तार, जयपुर में पहली बार पेट्रोल 115 के पार

जयपुर: अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत स्थिर रहने के बावजूद देश में तेल कंपनियां अपनी मनमानी जारी है. दीपावली से पहले पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार बढ़ने से आम आदमी का बजट बिगड़ रहा है. पिछले 34 दिन से पेट्रोल-डीजल के दामों में एक बार फिर वृद्धि का दौर शुरू हो चुका है. आज भी पेट्रोल 37 पैसे तो डीजल 38 पैसे प्रति लीटर बढ़ा. नतीजा यह हुआ कि राजधानी पेट्रोल 115 के पार पहुंच गया. आज पेट्रोल 115 रुपए 21 पैसे तो डीजल 106 रुपए 47 पैसे के सर्वोच्च स्तर पर पहुंच गया. 

राजस्थान के श्रीगंगानगर में पेट्रोल 120.15 रुपये प्रति लीटर तो डीजल 111.01 रुपये बिक रहा है. वहीं दिल्ली में पेट्रोल 107.94 रुपये प्रति लीटर और डीजल 96.67 रुपये प्रति लीटर बिका रहा है. वहीं, मुंबई पेट्रोल 113.80 रुपये प्रति लीटर और डीजल 104.75 रुपये प्रति लीटर बिका रहा है. पटना, बेंगलुरू, हैदराबाद जैसे शहरों में पेट्रोल 110 रुपये प्रति लीटर के पार बिक रहा है. अक्टूबर के महीने में 20 वीं बार कीमतों में इजाफा हुआ हैं. 

34 दिन में पेट्रोल 7 रुपए 08 पैसे और डीज़ल 8 रुपए 46 पैसे चढ़ चुका:
पिछले 34 दिन में पेट्रोल 7 रुपए 08 पैसे और डीज़ल 8 रुपए 46 पैसे चढ़ चुका है. दरों में वृद्धि का यह आलम बरकरार रहा तो पेट्रोल जल्द 120 के पार पहुंच जाएगा. कोरोना जैसी महामारी के दौर में तेल कंपनियों की यह वक्री चाल आम आदमी की कमर तोड़ने में लगी है. अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 85 डॉलर प्रति बैरल के आसपास स्थिर है ऐसे में अभी पेट्रोल डीजल  की कीमतों में इजाफा जनता पर भारी पड़ रहा है. 

केंद्र सरकार सेंट्रल एक्साइज में राहत दे तो पेट्रोल डीजल के दामों में कमी आ सके:
दरअसल केंद्र सरकार सेंट्रल एक्साइज और राज्य सरकार वैट के रूप में पिछले 19 महीने में कई बार वृद्धि कर चुके हैं. हालांकि राज्य सरकार ने पेट्रोल और डीजल में 2 फ़ीसदी की वैट में राहत भी दी थी लेकिन यह राहत 'ऊंट के मुंह में जीरे' के समान रही. अब आमजन उम्मीद कर रहे हैं कि केंद्र सरकार सेंट्रल एक्साइज में राहत दे तो पेट्रोल डीजल के दामों में कमी आ सके. 

और पढ़ें