जयपुर सीएम गहलोत ने की कुछ अहम घोषणाएं, यूनिवर्सल हेल्थ योजना का नाम मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना होगा

सीएम गहलोत ने की कुछ अहम घोषणाएं, यूनिवर्सल हेल्थ योजना का नाम मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना होगा

सीएम गहलोत ने की कुछ अहम घोषणाएं, यूनिवर्सल हेल्थ योजना का नाम मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना होगा

जयपुर: राजस्थान विधानसभा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को सदन में कुछ अहम घोषणाएं की. सीएम गहलोत ने कहा कि यूनिवर्सल हेल्थ योजना का नाम मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना होगा. 1 अप्रैल 2021 से रजिस्ट्रेशन शुरू होगा. इस योजना में 500000 तक का इलाज होगा. 100 ममता स्पेशल वाहनों का संचालन किया जाएग. सीएम गहलोत ने कहा कि उप स्वास्थ्य केंद्रों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में बदलने की घोषणा की हैं. कुछ जगह प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने की घोषणा की हैं. 

चुनिंदा अस्पतालों में बैड की संख्या बढ़ाने की घोषणा की:
सीएम गहलोत ने कहा कि कुछ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में बदला जाएगा. चुनिंदा अस्पतालों में बैड की संख्या बढ़ाने की घोषणा की हैं. सीएम गहलोत ने कहा कि 11वीं,12वीं की कक्षा में 500से अधिक छात्राएं होने पर वहां कन्या महाविद्यालय बनाया जाएगा. गहलोत ने कन्या महाविद्यालय खोलने की घोषणा की.कुछ स्नातक कॉलेज को पीजी कॉलेज में क्रमोन्नत करने की घोषणा की हैं. विधायकों की मांग पर कुछ कॉलेज में नए विषय खोलने की घोषणा की. 

उर्दू अध्यापक का पद सृजित करने की घोषणा की:
सीएम गहलोत ने कुछ अहम घोषणाएं करते हुए उर्दू अध्यापक का पद सृजित करने की घोषणा की हैं. उर्दू अध्यापकों के पदों की संख्या बढ़ाकर 1000 की. कृषक उपहार योजना को संशोधित रूप में शुरू किया जाएगा. 2 नए कृषि महाविद्यालय खोलने की घोषणा हैं. सीएम गहलोत ने NCC के लिए 10 करोड़ का प्रावधान हैं. सालाना 2 कैंप लगाना अनिवार्य हैं. केकड़ी में खेल स्टेडियम बनाने की घोषणा की हैं. सड़कों के चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण का फैसला किया हैं. आर्टिजन के लिए 25 करोड़ का प्रावधान हैं. नए औद्योगिक क्षेत्र की घोषणा की हैं. 

2 वर्ष में ACB ने कई ट्रैप किये:
सीएम गहलोत ने कहा कि 2 वर्ष में ACB ने कई ट्रैप किये हैं. मल्टी स्टेट कोऑपरेटिव सोसायटी की धोखाधड़ी से बचाने के लिए साल में 2 बार इनका निरीक्षण होगा. सीएम गहलोत ने नवीन पुलिस चौकी खोलने की घोषणा की हैं. नए पुलिस थाने खोलने की भी घोषणा की हैं. कुछ उप तहसील को तहसील में क्रमोन्नत करने की घोषणा की हैं. उपखंड कार्यालय खोलने की घोषणा की. कर्मचारियों को उपादेय अवकाश के एवज में नगद भुगतान की घोषणा की हैं. EWS में आयु सीमा,फीस में छूट की घोषणा की हैं.

और पढ़ें