डिजिटल बाल मेला की वेबसाइट लांच करते हुए बीडी कल्ला ने दी बच्चों को बधाई, कहा - सर्वांगीण विकास में मिलेगी मदद

डिजिटल बाल मेला की वेबसाइट लांच करते हुए बीडी कल्ला ने दी बच्चों को बधाई, कहा - सर्वांगीण विकास में मिलेगी मदद

डिजिटल बाल मेला की वेबसाइट लांच करते हुए बीडी कल्ला ने दी बच्चों को बधाई,  कहा - सर्वांगीण विकास में मिलेगी मदद

जयपुर: दुनियाभर में फ़ैल रहे कोरोना वायरस के प्रति जागरूकता फ़ैलाने के लिए राजस्थान में राज्यस्तर पर बच्चों के लिए LIC स्पॉन्सर्ड 'डिजिटल बाल मेला' की मुहीम 14 नवंबर से शुरू की गयी. जलदाय एवं ऊर्जा मंत्री डॉ. बी.डी.कल्ला ने डिजिटल बाल मेला की वेबसाइट की औपचारिक लांचिंग की और उनके पौते राघव कल्ला ने पहला वीडियो बनाकर पहला रजिस्ट्रेशन किया. बी डी कल्ला ने बाल मेला टीम को बधाई दी. 

महामारी के बीच भी बच्चों के सर्वांगीण विकास में मदद करेगा:
ऊर्जा मंत्री कल्ला ने कहा कि कोरोना से जंग के बीच बच्चों के लिए 'डिजिटल बाल मेला' प्लेटफॉर्म राज्य में एक अनूठी सोच है जो इस महामारी के बीच भी बच्चों के सर्वांगीण विकास में मदद करेगा. देशभर में ऐसे कठिन समय पर बच्चों के मानसिक और शारीरिक विकास के लिए ऐसे कार्यक्रम बेहद जरूरी हैं. कल्ला ने राज्यभर के बच्चों से 'डिजिटल बाल मेला' में बड़ी संख्या में शामिल होने की अपील की. साथ ही प्रतियोगिताओं में बढ़-चढ़कर अपने हुनर को दिखाने का आग्रह किया और सतर्क होकर कोरोना के प्रति जागरूकता में लड़ाई लड़ने का आह्वान किया. 

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने पोस्टर लॉन्च कर किया था शुभारंभ: 
गौरतलब है कि कोरोना के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए राज्यस्तर पर LIC और फ्यूचर सोसायटी की ओर से ‘’डिजिटल  बाल मेला’’ की शुरुआत राजस्थान में 14 नवंबर से हो चुकी है. राज्य के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने डिजिटल बाल मेला का पोस्टर लॉन्च कर मेला का शुभारंभ किया था. साथ ही बच्चों के लिए नवाचार पर बधाई देते हुए राजस्थान के बच्चों के डिजिटल बाल मेला को सुनहरा अवसर भी बताया था. 

डिजिटल बाल मेला' का विषय 'कोरोना के प्रति जागरूकता' तय किया: 
'डिजिटल बाल मेला' का विषय 'कोरोना के प्रति जागरूकता' तय किया गया है. अतः प्रतियोगिता में कोरोना से जंग जीतने और और जागरुकता बढ़ाने से संबंधित संदेश देते हुए गतिविधि अनिवार्य है. बच्चे अपने टैलेंट अनुसार पसंदीदा प्रतियोगिता में हिस्सा लेकर अपने कार्य का वीडियो मोबाइल से बनाकर प्रतियोगिता की कैटेगरी के अनुसार अपनी एंट्री ऑनलाइन भेज सकते हैं. 

डिजिटल मेले में दस अलग-अलग क्षेत्रों का समावेश किया गया:
एक महीने तक चलने वाले डिजिटल मेले में विभिन्न कलाओं/प्रतियोगिताओं के लिए दस अलग-अलग क्षेत्रों का समावेश किया गया है. जिसमें जिनमें पेंटिंग, एक्टिंग, कुकिंग, सिंगिंग, डांसिंग, क्विज़, शॉर्ट फिल्म मेकिंग......शामिल हैं. जीतने वाले प्रतिभागी को राज्यस्तर पर कैश अवार्ड भी दिया जायेगा. डिजिटल बाल मेले की किसी भी प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए ऑनलाइन प्रोसेस रखा गया है. मेले में ऑनलाइन वीडियो सबमिट करने की अंतिम तारीख 14 दिसंबर तथा परिणाम की तारीख 25 दिसंबर, 2020 तय की गई है. डिजिटल मेला वेबसाइट http://www.digitalbaalmela.com/ पर प्रतियोगिता और ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से जुडी सभी जानकारियां दी गईं हैं.

और पढ़ें