जयपुर Rajasthan: CM गहलोत का बड़ा फैसला, मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में रजिस्ट्रेशन की तारीख एक बार फिर आगे बढ़ी

Rajasthan: CM गहलोत का बड़ा फैसला, मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में रजिस्ट्रेशन की तारीख एक बार फिर आगे बढ़ी

Rajasthan: CM गहलोत का बड़ा फैसला, मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में रजिस्ट्रेशन की तारीख एक बार फिर आगे बढ़ी

जयपुर: मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना (mukhyamantri chiranjeevi swasthya bima yojana registration) में अब 31 मई तक पंजीकरण करवाया जा सकता है. इससे पहले सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने प्रदेश के लोगों के लिए 'मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना' (mukhyamantri chiranjeevi swasthya bima yojana) में रजिस्ट्रेशन की अंतिम तारीख 30 अप्रैल 2022 से बढ़ाकर 7 मई 2022 की थी. लेकिन अब एक बार फिर पंजीकरण की समय सीमा को बढ़ाया गया है. 

इस बारे खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट करते हुए लिखा कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में आमजन के रूझान से लगातार बढ़ रही पंजीकरण संख्या को देखते हुए योजना में पुनः एवं नवीन पंजीकरण की समय सीमा 31 मई तक बढ़ाने का फैसला किया है.

उन्होंने कहा कि चिरंजीवी योजना में जुड़ने वाले परिवारों को 10 लाख रूपये का स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) 5 लाख रूपये का दुर्घटना बीमा (Accidental Insurance)  एवं परिवार की महिला मुखिया को मुख्यमंत्री डिजिटल सेवा योजना के तहत तीन साल की इंटरनेट कनेक्टिविटी के साथ स्मार्टफोन मिलेगा.

सीएम गहलोत ने कहा कि हमारा उद्देश्य है कि प्रदेश का हर परिवार चिरंजीवी योजना से जुडे़ जिससे कभी बीमार होने या दुर्घटना होने पर परिवार को बडे़ आर्थिक खर्च की चिंता ना रहे. 

योजना से लगातार प्राइवेट अस्पतालों को जोड़ा जा रहा:
आपको बता दें कि राज्य सरकार ने योजना में सालाना स्वास्थ्य बीमा कवर भी 5 लाख रुपये से बढ़ाकर 10 लाख रुपये कर दिया है. साथ ही अब लीवर, हार्ट, किडनी, बोन मेरो ट्रांसप्लांट, कॉकलियर इम्प्लांट, नी रिप्लेसमेंट, हिप रिप्लेसमेंट जैसे महंगे इलाज भी योजना में अब निःशुल्क उपलब्ध है. इन नए इलाज के जुड़ने के साथ ही अब योजना में पैकेज भी 1597 से बढ़कर 1633 हो गए हैं. प्रदेश के लोगों को उनके घरों के पास ही गुणवत्तापूर्ण इलाज निःशुल्क मिले, इसके लिए योजना से लगातार प्राइवेट अस्पतालों को जोड़ा जा रहा है.

और पढ़ें