जयपुर कांग्रेस स्थापना दिवस: CM गहलोत बोले- कांग्रेस मुक्त भारत की बात करने वाले खुद मुक्त हो जाएंगे, राहुल गांधी ने हिंदू को लेकर जो कहा वो सच

कांग्रेस स्थापना दिवस: CM गहलोत बोले- कांग्रेस मुक्त भारत की बात करने वाले खुद मुक्त हो जाएंगे, राहुल गांधी ने हिंदू को लेकर जो कहा वो सच

कांग्रेस स्थापना दिवस: CM गहलोत बोले- कांग्रेस मुक्त भारत की बात करने वाले खुद मुक्त हो जाएंगे, राहुल गांधी ने हिंदू को लेकर जो कहा वो सच

जयपुर: कांग्रेस का आज स्थापना दिवस है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने पीसीसी में स्थापना दिवस कार्यकम में भाग लिया और महात्मा गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने वालों की आलोचना की. सीएम गहलोत ने कहा कि जो माहौल देश में है, उस माहौल के अनुरूप ये लोग अपनी वाणी को सामने ला रहे हैं, आप समझ सकते हैं कि देश किस दिशा में जा रहा. सीएम ने कहा कि राहुल गांधी ने हिंदू को लेकर जो कहा वो सच है.

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी का स्थापना दिवस मनाया गया. पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने इस अवसर पर पार्टी का ध्वज फहराया. सीएम गहलोत और पीसीसी चीफ डोटासरा ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर की जा रही अभद्र टिप्पणियों की निंदा की और अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल करने वालों को आड़े हाथों लिया. सीएम गहलोत ने कहा कि जितनी निंदा करें उतनी कम है, महात्मा गांधी जिनको अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस उनके जन्मदिवस को लेकर मना रही है, पूरी दुनिया मना रही है, विश्व मना रहा है, उस व्यक्तित्व के लिए, उस महान आत्मा के लिए, उस महापुरुष के लिए जिस प्रकार के लफ्ज़ काम में लिए गए साधु-संतों द्वारा, उसकी जितनी निंदा करें उतनी कम है, आप सोच सकते हो कि देश को किस दिशा में ले जाना चाह रहे हैं. जो माहौल देश में है, उस माहौल के अनुरूप ये लोग अपनी वाणी को सामने ला रहे हैं, आप समझ सकते हैं कि देश किस दिशा में जा रहा है, उसको हमें समझना पड़ेगा.

Image

सीएम अशोक गहलोत ने कार्यकर्ताओं से कहा कि कांग्रेस का आज स्थापना दिवस है, पूरे देश के अंदर कार्यकर्ताओं में एक संकल्प लेने का वक्त है कि जो चुनौतियां हमारे सामने हैं, कांग्रेस का त्याग-कुर्बानी- बलिदान कोई भूल नहीं सकता, चाहे कितनी ताकतें कितना ही जोर लगा लें, कांग्रेस मुक्त भारत की बात कर लें, ऐसी बात करने वाले खुद मुक्त हो जाएंगे, कांग्रेस तो हर घर में, हर दिल के अंदर है देश के अंदर है. 

Image

हिंदू वर्सेज हिंदुत्व को समझने की आवश्यकता: 
सीएम गहलोत ने राहुल गांधी के हिंदू और हिंदुत्ववादी के बयानों को सामने रखते हुए कहा कि अभी राहुल गांधी जी ने जो बहस छेड़ी है हिंदू वर्सेज हिंदुत्व की, उसके मर्म को समझने की आवश्यकता है. उनका मर्म यही था कि एक तरफ तो हिंदू है, जिसके महान संस्कार-संस्कृति-परंपराएं सदियों से हैं, जिसके भाव ऐसे हैं कि प्रेम का, भाईचारे का, मोहब्बत का है और वो ताकतें जो हिंदुत्व के नाम पर राजनीति कर रही हैं, उनका हिंदू बनना भी स्यूडो है. जिस प्रकार से अभी साधु-संतों ने जो भाषा काम में ली है हरिद्वार में और रायपुर के अंदर, वो शर्मनाक भाषा है. साधु-संतों का हम सब सम्मान करते हैं, उनका जो भगवा वस्त्र है वो अपने आपमें त्याग का, संस्कार का संदेश देता है उन साधु-संतों में से कुछ लोगों ने जो कुछ वाणी निकाली है, वो शर्मनाक थी, निंदनीय थी, जितनी निंदा करें, उतनी कम है. उनकी और मैं समझता हूं कि एक साधु-संत ने तो खड़े होकर श्यामसुंदर दास जी ने तो वहीं पर कह दिया कि मैं इस धर्म संसद से अलग होता हूं, उसके मायने क्या हुए? तो आप समझ सकते हैं कि देश बड़े अजीब दौर से गुजर रहा है. ऐसे वक्त में कांग्रेस संगठन की, उसकी विचारधारा की, उसकी नीतियों की, उसके कार्यक्रमों की और ज्यादा जरूरत है देश को, ये मेरा मानना है.

जब देश आजाद हो रहा था तो आरएसएस के लोग लड़ाई को कमजोर करने में लगे थे:
पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि हमें गौरव है कि हम कांग्रेस पार्टी के सिपाही है, इस पार्टी के महान नेताओं ने देश को आजाद कराया. देश के निर्माण में अपना बहुत बड़ा योगदान दिया. इंदिरा गांधी, राजीव गांधी शहीद हो गए, लेकिन देश को अखंड रखा. जब देश आजाद हो रहा था तो आरएसएस के लोग लड़ाई को कमजोर करने में लगे थे. ऐसे लोग सत्ता में आकर कांग्रेस से 70 साल का हिसाब मांग रहे हैं. खुद 7 साल का हिसाब नहीं दे रहे. दुर्भाग्य से ऐसे लोग सत्ता में आ गए जिन्होंने झूठे वादे कर सत्ता हथियाई, अब ये लोकतंत्र को कमजोर कर रहे हैं. देश की संवैधानिक संस्थाओं को नष्ट कर रहे हैं. ऐसे लोगों को सत्ता से उखाड़ने के लिए हम लोग गांव-गांव, ढाणी-ढाणी जाएंगे आज स्थापना दिवस के दिन हम लोग इस बात का संकल्प ले रहे हैं. 

 

महात्मा गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी को कांग्रेस ने मुद्दा बनाया:
महात्मा गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी को कांग्रेस ने मुद्दा बनाया है. पहले से ही राहुल गांधी कह रहे हिन्दू का अर्थ महात्मा गांधी से और हिंदुत्ववादी का अर्थ गोडसे है. देश और प्रदेशों के नेता राहुल गांधी के सिद्धांत को आम जन तक पहुंचाने में जुटे हैं यही संकल्प लिया गया कांग्रेस के स्थापना दिवस पर. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए योगेश शर्मा की रिपोर्ट

और पढ़ें