जयपुर धारीवाल और डोटासरा के बीच हुई बहस को लेकर बोले खाचरियावास, कहा- सामान्य बातचीत थी, कोई हॉट-टॉक नहीं हुई

धारीवाल और डोटासरा के बीच हुई बहस को लेकर बोले खाचरियावास, कहा- सामान्य बातचीत थी, कोई हॉट-टॉक नहीं हुई

जयपुर: मंत्रिपरिषद की बैठक में विवाद को लेकर परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि सामान्य बातचीत थी, कोई हॉट-टॉक नहीं हुई. उन्होंने कहा कि सारी बातचीत पॉजीटिव-वे में हुई है. लेकिन कोई मिस अन्डर स्टैंडिंग हुई जिसके बाद बहस हुई. उन्होंने कहा कि हमारे प्रदेश अध्यक्ष और मंत्री शांति धारीवाल दोनों में अच्छे संबंध है. दोनों में हॉट-टॉक अच्छे काम को लेकर हुई है. दोनों ही नेता फ्री वैक्सीन दिलवाने की बात कह रहे थे. कांग्रेस पार्टी का हर मंत्री, विधायक, कार्यकर्ता, नेता एकजुट है. वाद-विवाद, डिबेट लोकतंत्र का हिस्सा है, इसे पॉज़िटिव वे में लेना चाहिए नेगेटिव वे में नहीं. 

एक वैक्सीन पर दो नीति क्यों ?
इससे आगे उन्होंने कहा कि फ्री वैक्सीन को लेकर पूरे देशभर से एक ही आवाज है. इसके साथ ही उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि एक वैक्सीन पर दो नीति क्यों ? अब तो सुप्रीम कोर्ट ने मुहर लगा दी. मंत्री ने कहा कि राजस्थान बीजेपी के नेता मौतों के लिए जिम्मेदार है. राजस्थान सरकार को पैसे देने के बाद भी वैक्सीन नहीं मिल रही है. ग्लोबल टेंडर के नाम पर राज्य सरकार को गुमराह किया है. राज्यों को अधिकार ही नहीं है. 

कलेक्टर से नाराजगी के सवाल पर बोले:
खाचरियावास ने कहा कि जिस ईमानदारी से पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ रहे हैं उसी तरह वैक्सीन फ्री देनी चाहिए. वहीं कल जयपुर कलेक्टर को लेकर की गई टिप्पणी पर बोलते हुए कहा कि महामारी के समय सभी को बाहर निकलना चाहिए. जनप्रतिनिधि हो या अधिकारी सभी को जनता की सुध लेनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कोरोना से हुई मौते चिन्हित नहीं हो रही है. मैंने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं. कोरोना से हुई मौत का तुरंत सर्टिफिकेट देना चाहिए. 

और पढ़ें