डॉ. डीएन पांडे को मिली वन विभाग के मुखिया की कमान, कई अहम पदों पर दे चुके सेवाएं

डॉ. डीएन पांडे को मिली वन विभाग के मुखिया की कमान, कई अहम पदों पर दे चुके सेवाएं

जयपुर: आखिरकार डॉक्टर DN पांडे को वन विभाग के मुखिया यानी हॉफ की कमान मिल गई. मौजूदा हॉफ 1987 बैच की आईएफएस श्रुति शर्मा के आज अंतिम कार्य दिवस के दिन सुबह ही कार्मिक विभाग ने इसका आदेश जारी कर दिया.1988 बैच के सीनियर आईएफएस अधिकारी पांडे को हेड ऑफ फॉरेस्ट फोर्स के रूप में पदोन्नत करते हुए इस पद की वेतन  श्रृंखला भी दी गई है. इसी के साथ ही फर्स्ट इंडिया की खबर पर फिर एक बार मुहर लग गई है.

फर्स्ट इंडिया ने कुछ दिन पहले ही बता दिया था कि 1988 बैच के सीनियर आईएएस डॉ. पांडे ही गए हॉफ होंगे. सीएस की अध्यक्षता वाली चयन समिति ने उनके साथ उन्हीं के बैच के आईएफएस राजीव कुमार गोयल के नाम पर भी विचार किया था. लेकिन वरिष्ठता को तरजीह देते हुए और सीएम के गुड बुक में होने के लिहाज से पांडे को हॉफ बनाने का निर्णय हुआ और आज इस बारे में आदेश जारी कर दिए. उनकी घर-घर औषधि योजना को खासी सराहना मिली है. वे औषधीय पौधों के विशेषज्ञ माने जाते हैं. 

मई 2023 तक इस पद के लिए खोजबीन की मशक्कत नहीं करनी पड़ेगी:
पांडे को हॉफ बनाने के साथ मई 2023 तक इस पद के लिए खोजबीन की मशक्कत नहीं करनी पड़ेगी. इसके साथ ही उनके ही बैच के गोयल और उनसे नीचे की वरिष्ठता के अफसरों की इस पद के लिए दावेदारी समाप्त हो गई है क्योंकि गोयल खुद जून 2022 में रिटायर्ड हो जाएंगे और उनसे अगली वरिष्ठता के समीर कुमार दुबे अभी APCCF हैं जिन्हें पहले PCCF बनना होगा और उनका भी रिटायरमेंट भी जून 2022 में ही है.

आज भी सीएम गहलोत के पसंदीदा अफसरों में से एक DN पांडे:
1988 बैच के वरिष्ठ IFS डॉक्टर DN पांडे 17 दिसंबर 2008 से लेकर 13 नवंबर 2009 में तत्कालीन सीएमओ में सीएम विशिष्ट सचिव जैसे अहम पद पर रह चुके हैं. तब सीएम गहलोत ही थे. उनकी हॉफ पद पर नियुक्ति से यह भी साफ है कि वे आज भी सीएम गहलोत के पसंदीदा अफसरों में से एक हैं.

इन अहम पदों पर डॉक्टर पांडे दे चुके हैं सेवाएं:-
- PCCF व सचिव पर्यावरण, APCCF डेवलपमेंट.
- स्टेट मेडिसिनल प्लांट्स बोर्ड में सदस्य सचिव व CCF के बतौर किया बेहतरीन कार्य.
- 17 दिसंबर 2008 से लेकर 13 नवंबर 2009 में तत्कालीन सीएमओ में रहे सीएम विशिष्ट सचिव जैसे अहम पद पर.
- सीएम गहलोत के पसंदीदा अफसरों में से एक माने जाते हैं पांडे.
- इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेस्ट.
- मैनेजमेंट भोपाल में एसोसिएट प्रोफेसर के रूप में रह चुके हैं प्रतिनियुक्ति पर भी. 

और पढ़ें