सीएम गहलोत के समर्थन को लेकर आज निर्दलीय विधायकों की होगी बैठक, पायलट कैंप के खिलाफ बनेगी रणनीति !

सीएम गहलोत के समर्थन को लेकर आज निर्दलीय विधायकों की होगी बैठक, पायलट कैंप के खिलाफ बनेगी रणनीति !

जयपुर: प्रदेश में आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के समर्थन को लेकर निर्दलीय विधायकों की बैठक होगी. जयपुर के अशोका होटल में सभी निर्दलीय विधायक मिलकर रणनीति बनाएंगे. ये विधायक पायलट कैंप (Sachin Pilot) के खिलाफ रणनीति तैयार करने में जुटेंगे. हालांकि बसपा से कांग्रेस में शामिल विधायक बैठक में शामिल नहीं होंगे. बसपा से कांग्रेस में आए विधायक लाखन सिंह मीणा ने कहा कि हमने कभी नहीं कहा कि निर्दलीय विधायकों की बैठक में शामिल होंगे. 

वहीं मिली जानकारी के अनुसार कुल 13 निर्दलीय विधायकों में से 12 विधायक बैठक में शामिल होंगे. विधायक बाबूलाल नागर जयपुर से बाहर बताए जा रहे हैं. ये सभी विधायक पायलट कैंप के खिलाफ बड़ा फैसला ले सकते हैं. अलबत्ता इन सभी विधायकों ने सरकार बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. 

कांति मीना के वीटो से मीटिंग में बदलाव !
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार निर्दलीय विधायक कांति मीना के वीटो से मीटिंग में बदलाव हुआ है. यह अहम बैठक आज शाम 5 बजे प्रस्तावित है. अब BSP से कांग्रेस में आने वाले विधायक बैठक में शामिल नहीं होंगे. सूत्रों के अनुसार कांति मीना ने बड़ी आपत्ति की थी. उन्होंने BSP से कांग्रेस में आने वाले विधायकों को बुलाने पर आने से मना किया था. कांति मीना थानागाजी से निर्दलीय विधायक हैं. वैसे BSP से कांग्रेस में आने वाले सभी विधायक भी मीटिंग में जाने के इच्छुक नहीं थे.  

रामकेश मीना ने सचिन पायलट के खिलाफ जमकर हमला बोला:
इस बैठक से पहले मंगलवार को गंगापुर सिटी से निर्दलीय विधायक रामकेश मीणा और महुवा विधायक ओम प्रकाश हुडला ने बयान दिए. रामकेश मीना ने सचिन पायलट के खिलाफ जमकर हमला बोला. पूर्व संसदीय सचिव और विधायक रामकेश मीणा ने कहा कि बैठक को लेकर हमारा कोई विशेष एजेंडा नहीं है. प्रदेश में जो सियासी घटनाक्रम चल रहा है उस पर बात करेंगे. मैं गहलोत के साथ था, साथ हूँ और साथ रहूंगा. राजस्थान में गहलोत ही एकमात्र व्यक्ति हैं जो कांग्रेस को जिन्दा रख सकते हैं. हम ज्यादातर निर्दलीय विधायक कांग्रेस पृष्ठभूमि के हैं. 

पायलट राजस्थान में रहेंगे उतना ही कांग्रेस को नुकसान होगा:
रामकेश मीणा ने सीधे सचिन पायलट का नाम लेकर हमला बोलते हुए कहा कि आलाकमान ऐसे नेताओं को बढ़ावा देगा तो पार्टी का ही नुकसान होगा. निर्दलीय विधायक रामकेश मीणा ने कहा कि सचिन पायलट क्या मांगते हैं राजस्थान में, यहां के लोग मर गए जो पायलट सीएम बनना चाहते हैं. राजस्थान में रहेंगे उतना ही कांग्रेस को नुकसान होगा. कांग्रेस में यह पहला उदाहरण है जब उसी के अध्यक्ष ने सरकार गिराने की कोशिश की. वहीं हुडला ने कहा कि हम मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी के लिए दबाव नहीं बना रहे. मेरे हिसाब से अभी उचित समय नहीं है. कोरोना से मुकाबले के लिए सभी को सीएम का सहयोग करना चाहिए. 


 

और पढ़ें