BSP विधायकों के कांग्रेस में विलय के मामले में सुप्रीम कोर्ट का विधानसभा अध्यक्ष और बसपा विधायकों को नोटिस

BSP विधायकों के कांग्रेस में विलय के मामले में सुप्रीम कोर्ट का विधानसभा अध्यक्ष और बसपा विधायकों को नोटिस

नई दिल्ली: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के 6 विधायकों के कांग्रेस में विलय के मामले में बसपा और बीजेपी विधायक मदन दिलावर की राजस्थान हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ अपीलों पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. कोर्ट ने राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष को नोटिस जारी किया है. न्यायमूर्ति एस अब्दुल नजीर और न्यायमूर्ति के एम जोसेफ की पीठ ने इस मामले में विधान सभा सचिव और कांग्रेस में शामिल हुये बसपा के सभी छह विधायकों को भी नोटिस जारी किया है. 

सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट में बसपा ने दलील देते हुए कहा कि बसपा नेशनल पॉलिटिकल पार्टी है जब तक राष्ट्रीय इकाई पार्टी का विलय ना कर लें विलय का फैसला राज्य की यूनिट नहीं कर सकती. 

बसपा और भाजपा के विधायक मदन दिलावर ने इस मामले में राजस्थान उच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ अलग अलग अपील दायर की हैं. इस आदेश में उच्च न्यायालय ने विधान सभा अध्यक्ष से कहा था कि बसपा विधायकों के राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस में विलय के खिलाफ दायर अयोग्यता की याचिका पर तीन महीने के भीतर निर्णय करें. बसपा के इन विधायकों के कांग्रेस पार्टी में विलय के साथ ही 200 सदस्यों वाली विधान सभा में अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस के सदस्यों की संख्या 100 पार कर गयी थी. 

और पढ़ें