जयपुर Rajasthan: कांग्रेस में अब जिलाध्यक्षों के ऊपर होगा संभाग अध्यक्ष का पद, वरिष्ठ और अनुभवी नेताओं को मिलेगा मौका

Rajasthan: कांग्रेस में अब जिलाध्यक्षों के ऊपर होगा संभाग अध्यक्ष का पद, वरिष्ठ और अनुभवी नेताओं को मिलेगा मौका

जयपुर: उदयपुर में 13 से 15 मई तक हुए कांग्रेस के नव संकल्प शिविर (Congress Chintan Shivir 2022) में संगठन में बदलाव को लेकर दिए गए सुझावों पर अब अमल होता नजर आ रहा है. कांग्रेस में मंडल अध्यक्ष की कवायद को अमलीजामा पहनाने के बाद अब संभागीय अध्यक्ष (Congress Division President) के नए पद को भी पार्टी में सृजन किया जा रहा है. अगर सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो इस बार संगठन चुनावों के जरिए राजस्थान को सात संभागीय अध्यक्ष मिलेंगे. 

हाल ही में प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भी संभागीय अध्यक्ष बनाए जाने के संकेत दिए थे, संभागीय अध्यक्ष जिला अध्यक्षों से ऊपर होंगे. कांग्रेस में जिलाध्यक्षों को संगठनात्मक लिहाज से सबसे पावरफुल फुल माना जाता है, लेकिन अब संगठन में बदलाव की कवायद के कारण अब संभागीय अध्यक्ष सबसे ज्यादा पावरफुल माने जाएंगे, क्योंकि जिलाध्यक्षों के ऊपर संभागीय अध्यक्ष बनाए जाएंगे और इस लिहाज से राजस्थान में 7 संभाग है तो 7 संभागीय अध्यक्ष बनाए जाएंगे.

 - संभागीय अध्यक्ष के पद पर वरिष्ठ और अनुभवी नेता को कमान दी जाएगी.

- जिन्हें संगठन में काम करने का लंबा अनुभव हो.

 - साथ ही कम से कम दो बार विधायक भी रह चुके हैं. ऐसे नेताओं को संभागीय अध्यक्ष के पद पर मनोनीत किया जाएगा.

- प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के बाद सबसे पावरफुल हो सकता है ये पार

- इनका सीधा दखल जिलों में भी रहेगा

- सात संभागों की कार्यकारिणी भी बनेगी

- संभाग अध्यक्षों की नियुक्ति के बाद सात संभागों की कार्यकारिणी का भी गठन होगा जिसमें वरिष्ठ, अनुभवी और युवा चेहरों को भी कार्यकारिणी में शामिल किया जाएगा. 

संगठन में संभागीय अध्यक्ष का पद सृजन करने को लेकर पार्टी का ही एक धड़ा अंदर खाने विरोध कर रहा है. पार्टी के असंतुष्ट खेमे का कहना है कि इससे जिलाध्यक्षों की पावर कम हो जाएगी लेकिन विरोध के बावजूद भी संभागीय अध्यक्ष का पद पार्टी में सृजित किया जा रहा है.

संभाग अध्यक्ष 6 जिलों के ऊपर होगा:
वहीं प्रदेश प्रदेश कांग्रेस में पहली बार जिन सात संभागों में संभागीय अध्यक्षों की नियुक्ति होगी उनमें जयपुर, उदयपुर बीकानेर, जोधपुर, भरतपुर, अजमेर और कोटा संभाग हैं. जयपुर संभाग अध्यक्ष 6 जिलों के ऊपर होगा. बताया जाता है कि जयपुर संभाग अध्यक्ष भी संगठन के लिहाज से 6 जिलों के ऊपर नियुक्त होंगे. नई घोषणाएं जल्द होगी. 

और पढ़ें