पुण्य भी सम्मान भी: CM गहलोत का संवेदनशील फैसला, बाड़मेर सड़क हादसे में लोगों की जान बचाने वाले मददगारों को किया जाएगा सम्मानित

पुण्य भी सम्मान भी: CM गहलोत का संवेदनशील फैसला, बाड़मेर सड़क हादसे में लोगों की जान बचाने वाले मददगारों को किया जाएगा सम्मानित

पुण्य भी सम्मान भी: CM गहलोत का संवेदनशील फैसला, बाड़मेर सड़क हादसे में लोगों की जान बचाने वाले मददगारों को किया जाएगा सम्मानित

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कल बाड़मेर में हुई बस-ट्रक दुर्घटना (Barmer Accident Case) मामले में अपनी जान की बाजी लगाकर कई लोगों की जान बचाने वाले लोगों को धन्यवाद दिया है. इसके साथ ही प्रशासन को इन सभी के जिला स्तरीय एवं राज्य स्तरीय सम्मान के लिए निर्देशित किया है. ऐसे में लोगों की जान बचाने वाले मददगारों को पुण्य के साथ सम्मान भी मिलेगा. 

मुख्यमंत्री गहलोत ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि कल बाड़मेर में हुई बस-ट्रक दुर्घटना एक भीषण हादसा था जिसमें 12 लोगों की जान चली गई. मैं इन सभी के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं. इस दुर्घटना में कई स्थानीय लोगों ने अपनी जान पर खेलते हुए अन्य लोगों की जान बचाई. ये सभी धन्यवाद के पात्र हैं. 

उन्होंने कहा कि प्रशासन को इन सभी के जिला स्तरीय एवं राज्य स्तरीय सम्मान के लिए निर्देशित किया है. इन मददगारों की वजह से इस दुर्घटना में जनहानि को कम किया जा सका. मैं इन सभी का व्यक्तिगत तौर पर धन्यवाद करता हूं. 

हादसे में पांच माह की बच्ची सहित 12 लोगों की मौत:  
आपको बता दें कि यह हादसा एक बस एवं ट्रक के बीच आमने सामने की टक्कर होने के कारण हुआ था, जिसके बाद दोनों वाहनों में आग लग गई. बाड़मेर के जिला अधिकारी लोकबंधु ने बताया कि हादसे में पांच माह की बच्ची सहित 12 लोगों की मौत हो गई. गंभीर रूप से घायल कुछ लोगों को उपचार के लिये जोधपुर रेफर किया गया. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीतेश आर्य ने बताया कि हादसे में 38 लोग घायल हुए.  दुर्घटनास्थल और अस्पताल में अफरातफरी का माहौल देखा गया था. 

मृतकों के परिवारों को और घायलों के लिए आर्थिक मदद की घोषणा:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और अन्य नेताओं ने बाड़मेर-जोधपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर भांडियावास गांव के पास हुई इस दुर्घटना पर खेद जताया है. प्रधानमंत्री ने मृतकों के परिवारों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दो-दो लाख रुपये की मदद देने की घोषणा की और साथ ही घायलों को 50-50 हजार रुपये दिये जाने का ऐलान किया. राज्य सरकार ने मृतकों के लिए पांच-पांच लाख रुपए एवं घायलों के लिए एक-एक लाख रुपए की सहायता स्वीकृत की है. 

और पढ़ें