वर्तमान सरकार ने 1074 विद्यालय फिर से खोले, जिन्हे गत सरकार ने बन्द कर दिया था - डोटासरा

वर्तमान सरकार ने 1074 विद्यालय फिर से खोले, जिन्हे गत सरकार ने बन्द कर दिया था - डोटासरा

वर्तमान सरकार ने 1074 विद्यालय फिर से खोले, जिन्हे गत सरकार ने बन्द कर दिया था - डोटासरा

जयपुर: शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने बुधवार को विधानसभा में बताया कि विगत सरकार द्वारा 2 हजार 450 विद्यालय बंद किये गये थे. राज्य सरकार ने इस  फैसले को गलत मानते हुये जन प्रतिनिधियों, कलक्टर व एसडीएम से प्रस्ताव लेकर एक हजार 74 विद्यालय को फिर से खोल दिये गये हैं. 

डोटासरा प्रश्नकाल में विधायकों द्वारा इस संबंध में पूछे गये पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे. उन्होंने बताया कि विगत सरकार द्वारा आरटीई के नियमों के विपरीत बंद किये गये स्कूलों को वर्तमान सरकार ने फिर से शुरू किया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा पारदर्शिता के साथ प्रदेश की सभी पार्टियों के जन प्रतिनिधियों को भागीदार बनाकर इन स्कूलों को शुरू करने के प्रस्ताव लिये गये. उन्होंने बताया कि फिर से स्कूल खोलने के प्राप्त प्रस्तावों में से एक हजार 74 स्कूलों को फिर से खोल दिया गया है. 

 

विधानसभा क्षेत्र चौमूं में 75 विद्यालय बंद किये गये थे: 
उन्होंने बताया कि विधानसभा क्षेत्र चौमूं में 75 विद्यालय बंद किये गये थे. यहां से विद्यालयों को फिर से शुरू करने के 9 प्रस्ताव प्राप्त हुये हैं. इससे पहले विधायक रामलाल शर्मा के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में डोटासरा ने बताया कि प्रदेश में वर्ष 2018 से पूर्व समन्वित किये गये विद्यालयों की आर.टी.ई. एक्ट के परिपेक्ष्य में समीक्षा उपरान्त पर्याप्त नामांकन की सम्भावनाओं को ध्यान में रखते हुये गुणावगुण के आधार पर पुनः खोले जाने (डी मर्ज) की कार्यवाही की गई है.
 

और पढ़ें