Rajasthan: कोरोना की दूसरी डोज के लिए होगी सख्ती ! कार्यभार ग्रहण करने के बाद बोले चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा

Rajasthan: कोरोना की दूसरी डोज के लिए होगी सख्ती ! कार्यभार ग्रहण करने के बाद बोले चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा

Rajasthan: कोरोना की दूसरी डोज के लिए होगी सख्ती ! कार्यभार ग्रहण करने के बाद बोले चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा

जयपुर: चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा ने आज सचिवालय स्थित अपने कार्यालय में कार्यभार संभाला. इस दौरान उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के लिए प्रदेशवासियों का स्वास्थ्य सर्वोच्च प्राथमिकता पर है. आमजन को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराने के व्यापक स्तर पर प्रयास किए जाएंगे. इस दौरान मीणा ने कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जताते हुए कहा कि दूसरी डोज से वंचित लोगों को जल्द वैक्सीन लगाई जाएगी. जरूरत पड़ी तो इसके लिए सख्ती भी करेंगे.

मीणा ने कहा कि प्रदेश में 83 प्रतिशत से अधिक लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली और 53 प्रतिशत से अधिक लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज लगाई जा चुकी है. उन्होंने कहा कि दोनों डोज लगाए बिना कोरोना से लड़ाई अधूरी रहेगी. ऐसे में अधिकारियों को टाइम बाउंड प्रोग्राम बनाकर जल्द से जल्द दूसरी डोज से वंचित लोगों का वैक्सीनेशन करने के निर्देश दिए जाएंगे. 1 सप्ताह के भीतर वेक्सीन के गेप को पूरा करने का दिया जाएगा टारगेट. इसके साथ ही मीणा ने दूसरे राज्यों का तर्क देते हुए दिए संकेत. यदि जरूरत पड़ी तो दूसरी डोज नही लगाने वालों पर पाबंदी लगाई जाएगी.  

- चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा ने संभाला कार्यभार 
- मीणा ने कहा कि सबसे पहले निशुल्क दवा, जांच योजना लागू की
- कोरोना में बेहतर काम किया, जिसका लोगो को लाभ मिला
- मीणा ने कहा पार्टी ने जो जिम्मेदारी दी है उसे ईमानदारी से निभाएंगे
- CM गहलोत की बजट घोषणाएं पूरी करेंगे
- हमारी कोशिश रहेगी कि चिरंजीवी योजना का लाभ हर व्यक्ति को मिले
- स्कूलों में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर बोले मीणा
- केंद्र की गाइडलाइन के हिसाब से ही खोले गए हैं स्कूल
- अधिकांश मामले स्कूलों के नहीं हॉस्टल के सामने आए हैं 
- होस्टल अभी चालू नही करने के लिए CM से निवेदन करेंगे
- होस्टल लापरवाही करता है तो करवाई की जाएगी

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने कोरोना काल को बेहतर उपयोग करते हुए चिकित्सा सुविधाओं के आधारभूत ढंाचे को मजबूत करने का काम किया है. इसी कड़ी में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और सामुदायिक केंद्रों पर ज्यादा से ज्यादा निशुल्क जांचें और दवाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं. उन्होंने कहा कि आगामी दिनों में सभी सीएचसी और पीएचसी पर हर जरूरी चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएगी, ताकि ग्रामीणों को उपचार के लिए शहरों की ओर रूख नहीं करना पड़े. 

- जन जागरूकता से करेंगे लोगों को शराब से दूर
- चिकित्सा एवं आबकारी मंत्री परसादी लाल मीणा ने संभाला कार्यभार
- कार्यभार संभालने के बाद मीडिया से रूबरू हुए मीणा
- शराबबंदी को लेकर पूछे गए सवाल पर बोले मीणा
- शराब से दूर करने के लिए चलाया जाएगा जन जागरूकता अभियान
- कांग्रेस के शराबबंदी के चुनावी घोषणा पत्र के वादे का मतलब समझाया मंत्री ने
- उन्होंने कहा कि लोगों को कहेंगे कि दारू मत पियो
- इसके बावजूद कोई पिए तो फिर क्या करें ? 
- उन्होंने कहा कि पटना में शराबबंदी है देखों वहां कितने लोग जहरीली शराब से मर गए
- मरने से तो अच्छा है कि लोगों को सरकारी सिस्टम के जरिए उपलब्ध करा दी जाए शराब
- मीणा ने तो यहां तक कह दिया कि लोगों को जो चीज चाहिए वह उपलब्ध करानी चाहिए फिर चाहे वह दवा हो या दारू 

मीणा ने कहा कि प्रदेश की लालसोट विधानसभा क्षेत्र में विधायक कोटे से स्थानीय स्तर के प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर चिकित्सकीय उपकरण और व अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराकर उन्हें सुदृढ़ बनाया जा रहा है. इस मॉडल को प्रदेश भर के विधायकों से भी अपनाने की अपील की जाएगी. उन्होंने कहा कि विधायक कोटे से मिले बजट से यदि स्थानीय स्तर की स्वास्थ्य सेवाएं मजबूत होती हैं तो यह बेहतर विकल्प साबित हो सकता है.

कार्यभार ग्रहण करने के दौरान चिकित्सा मंत्री के कार्यालय और आवास पर बधाई देने वाले लोगों को तांता लगा रहा..चिकित्सा सचिव वैभव गालरिया, आयुक्त चिकित्सा शिक्षा शिवांगी स्वर्णकार, आरएमएससीएल प्रबंध निदेशक अनुपमा जोरवाल सहित अन्य अधिकारी भी मंत्री कार्यालय पहुंचे और विभाग की गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी. 

और पढ़ें