VIDEO: पुलिस मुख्यालय में सम्मान समारोह, IPS, RPS समेत 66 DGP डिस्क से सम्मानित, देखिए ये खास रिपोर्ट

VIDEO: पुलिस मुख्यालय में सम्मान समारोह, IPS, RPS समेत 66 DGP डिस्क से सम्मानित, देखिए ये खास रिपोर्ट

जयपुर: राजस्थान पुलिस मुख्यालय में सोमवार को आयोजित कार्यक्रम में पुलिस महकमे में सराहनीय कार्य करने वाले 66 पुलिस अधिकारियों और पुलिसकर्मियों को डीजीपी डिस्क और रोल प्रदान कर सम्मानित किया गया. पुलिस मुख्यालय में आयोजित सम्मान समारोह में डीजीपी एमएल लाठर ने 8 आईपीएस , एक अतिरिक्त निदेशक प्रचार, एक उप निदेशक स्वास्थ्य, 10 आरपीएस , 2 निजी सचिव, 9 पुलिस निरीक्षक और कंपनी कमांडर, 3 उप निरीक्षक और प्लाटून कमांडर, 2-2 मंत्रालयिक कर्मी और हेड कांस्टेबल के साथ ही 28 कांस्टेबल को डीजीपी प्रशस्ति पत्र और रोल प्रदान कर सम्मानित किया.

कार्यक्रम में एडीजी पुनर्गठन एवं नियम संजीव कुमार नार्जारी, आईजी इंटेलीजेंस रूपिंदर सिंघ, डीआईजी कार्मिक गौरव श्रीवास्तव, एडिशनल कमिश्नर जयपुर द्वितीय जयपुर हैदर अली जैदी, डीआईजी सीआईडी सीबी अनिल कुमार टॉक, एसपी जयपुर ग्रामीण मनीष अग्रवाल, एसपी सीआईडी सीबी जयपुर गौरव यादव और एसपी प्रशिक्षण पीटीसी जयपुर दौलतराम अटल का सम्मानित किया गया. वहीं पुलिस मुख्यालय में तैनात अतिरिक्त निदेशक प्रचार गोविंद पारीक सहित कुल 66 पुलिस अधिकारियों और पुलिसकर्मी डीजीपी डिस्क से नवाजे गए.

कार्यक्रम में डीजीपी एमएल लाठर ने सभी सम्मानित पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को शुभकामनाएं दी. उन्होंने कहा कि पुलिस महकमे में तैनात सभी कार्मिक बेहतर कार्य कर रहे है. आगे भी अपराध और कानून व्यवस्था को लेकर बेहतर काम करने की जरूरत है. प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए डीजीपी ने पुलिस बेड़े को फिर जागरूकता लाने और कोविड प्रोटोकॉल की सख्ती से पालना कराने के निर्देश दिए.

पुलिस मुख्यालय में आयोजित डीजीपी डिस्क सम्मान समारोह के दौरान खुद डीजीपी एमएल लाठर ने भी स्वीकार किया है कि प्रदेश में अपराध बढ़ रहा है, लेकिन मीडिया से मुखाबित होते हुए डीजीपी एमएल लाठर ने कहा कि सरकार की ओर से प्रदेश में हर अपराध पंजीबद्ध करने के निर्देश देने के बाद अपराधों का यह आंकडा बढ़ा है. उन्होंने कहा कि सर्दी का मौसम शुरू होते ही संपत्ति संबंधी अपराध बढ़ने लगते है. ऐसे में पुलिस अधिकारियों और पुलिसकर्मियों को अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए सर्तकता बरतने को कहा गया है.   

प्रदेश में दलितों पर अत्याचार की घटनाओं को लेकर डीजीपी एमएल लाठर ने लोगों की मानसिकता को जिम्मेदार ठहराया है. डीजीपी एमएल लाठर ने कहा कि लोगों की पुरानी मानसिकता के चलते प्रदेश में ऐसी घटनाएं सामने आ रही है. इसे बदलने में अभी वक्त लगेगा. उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा है कि ऐसी घटनाओं पर लगाम कसे. दलितों के साथ बढ़ते अत्याचारों की घटनाएं सामने आने के बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दोषियों पर सख्त कार्रवाई भी की है.  

सिरोही जिले में पैसा लेकर डोडा पोस्त तस्कर को फरार कराने के मामले में पुलिस महकमे ने सख्ती दिखाई है. पुलिस महकमे ने महिला पुलिस उपनिरीक्षक सीमा जाखड़ को बर्खास्त कर दिया है. पुलिस अधिकारियों और पुलिसकर्मियों पर अपराधियों से मिलीभगत के आरोपों पर डीजीपी एमएल लाठर ने कहा है कि पुलिस महकमे पर ऐसे आरोप लगते रहे है. मामले सामने आने के बाद पुलिस महकमा जांच कर दोषी पाए जाने पर कार्रवाई भी करता है.

उपनिरीक्षक सीमा जाखड़ पर भी सिरोही जिले के बरलूट थानाप्रभारी के पद पर रहते हुए गिरफ्त में आए डोडा पोस्त तस्कर को रिश्वत लेकर फरार कराने का आरोप था. इस मामले की जांच के बाद उन्हें बर्खास्त कर दिया गया है. सीमा जाखड़ के फरार होने की खबरों को लेकर डीजीपी ने कहा कि फिलहाल मामले की जांच की जा रही है. जब तक सीमा जाखड़ जांच में दोषी साबित नहीं होती तब तक उन पर कार्रवाई नहीं हो सकती है.

...फर्स्ट इंडिया के लिए शिवेंद्र परमार की रिपोर्ट 

और पढ़ें