Rajasthan Political Crisis: पुलिस मुख्यालय से बड़ी खबर, गुर्जर बाहुल्य इलाकों में हाई अलर्ट जारी

Rajasthan Political Crisis:  पुलिस मुख्यालय से बड़ी खबर, गुर्जर बाहुल्य इलाकों में हाई अलर्ट जारी

जयपुर: राजस्थान में चल रहे सियासी घटनाक्रम के बीच पुलिस मुख्यालय से बड़ी खबर आई है. सचिन पायलट को पीसीसी चीफ और डिप्टी सीएम से हटाने के बाद गुर्जर बाहुल्य इलाकों में हाई अलर्ट जारी किया गया है. इसमें दौसा, अजमेर, भीलवाड़ा, धौलपुर, टोंक, सवाई माधोपुर और भरतपुर समेत कई जिले शामिल है. ऐसे में काननू व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी जिला SP को अलर्ट जारी किया गया है. सचिन पायलट की बर्खास्तगी के बाद इंटेलीजेंस ने ऐसा इनपुट दिया है. 

Rajasthan Political Crisis:  उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाए गए सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा भी बर्खास्त 

कांग्रेस पार्टी ने तीन मंत्रियों को बर्खास्त किया:   
वहीं इससे पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने तीन मंत्रियों को बर्खास्त किया है. इसमे सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा शामिल है. वहीं सचिन पायलट को पीसीस चीफ पदे से भी हटाया गया है. उनके स्थान पर  गोविंद सिंह डोटासरा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बने हैं. वहीं मुकेश भाकर को यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष पद से बर्खास्त कर उनके स्थान पर गणेश घूघरा को यूथ कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया है. वहीं हेमसिंह शेखावत सेवादल प्रदेशाध्यक्ष होंगे. 

Rajasthan Political Crisis: भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर का बड़ा बयान, कहा- सचिन पायलट के लिए दरवाजे खुले  

8 करोड़ जनता के सम्मान को चुनौती:  
कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने एक षडयंत्र के तहत राजस्थान की 8 करोड़ जनता के सम्मान को चुनौती दी है. बीजेपी ने साजिश के तहत कांग्रेस की सरकार को अस्थिर कर गिराने की साजिश की है. बीजेपी धनबल और सत्ताबल से कांग्रेस पार्टी और निर्दलीय विधायकों को खरीदने की कोशिश की है.


 

और पढ़ें