जयपुर राज्यपाल ने केन्द्र सरकार को भेजी एक गंभीर रिपोर्ट! जानकार सूत्रों ने दिए संकेत

राज्यपाल ने केन्द्र सरकार को भेजी एक गंभीर रिपोर्ट! जानकार सूत्रों ने दिए संकेत

राज्यपाल ने केन्द्र सरकार को भेजी एक गंभीर रिपोर्ट! जानकार सूत्रों ने दिए संकेत

जयपुर: राजस्थान में चल रहे सियासी संकट के बीच जानकार सूत्रों ने राज्यपाल द्वारा  केन्द्र सरकार को एक गंभीर रिपोर्ट भेजने के संकेत दिए हैं. सियासी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रिपोर्ट में राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति ठीक नहीं होने की सूचना दी गई है. इसके साथ ही इसमें 24 जुलाई को राजभवन में हुई विधायकों की नारेबाजी की घटना का खास तौर पर जिक्र किया है. वहीं कांग्रेस नेताओं द्वारा राजभवन को घेरने की धमकी का भी उल्लेख किया है. 

Rajasthan Political Crisis: बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय मामले पर मदन दिलावर की याचिका खारिज 

सचिवालय में आम आदमी के नहीं हो पा रहे कोई काम:
राज्यपाल की रिपोर्ट में तेजी से बढ़ते कोरोना की रोकथाम में भी सरकार के विफल होने की बात लिखी है. दूसरी ओर अधिकांश मंत्री और विधायक एक फाइव स्टार होटल के बाड़े में आमोद-प्रमोद कर रहे हैं, ऐसे में सचिवालय सूना पड़ा है. जिसके चलते सचिवालय में आम आदमी के कोई काम नहीं हो पा रहे हैं. हालांकि रिपोर्ट में राज्यपाल ने राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश नहीं की. लेकिन फिर भी राजभवन से जुड़े क्षेत्रों में इसे गंभीर घटना माना जा रहा है. 

राजभवन के रुख से हैरान और परेशान सीएम गहलोत! पीएम से की फोन पर बात 

हाई कोर्ट ने बीजेपी विधायक मदन दिलावर की याचिका को खारिज कर दिया: 
दूसरी ओर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को बड़ी राहत मिली है. हाई कोर्ट ने बीजेपी विधायक मदन दिलावर की याचिका को खारिज कर दिया है. मदन दिलावर ने बीएसपी के सभी 6 विधायकों के कांग्रेस में विलय करने के खिलाफ याचिका दाखिल की थी. दरअसल, बीजेपी विधायक मदन दिलावर ने बसपा के 6 विधायकों के कांग्रेस में विलय के खिलाफ स्पीकर सीपी जोशी के सामने दायर याचिका पर कार्रवाई नहीं होने को राजस्थान हाई कोर्ट में चुनौती दी थी. इस मामले में सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने याचिका को खारिज कर दिया है.
 

और पढ़ें