जयपुर रीट परीक्षा 2021 पेपर लीक मामले को लेकर राजस्थान SOG को मिली बड़ी सफलता, दो मुख्य आरोपी गिरफ्तार; शिक्षा संकुल से ही आउट हुआ था

रीट परीक्षा 2021 पेपर लीक मामले को लेकर राजस्थान SOG को मिली बड़ी सफलता, दो मुख्य आरोपी गिरफ्तार; शिक्षा संकुल से ही आउट हुआ था

जयपुर: रीट परीक्षा 2021 पेपर लीक मामले को लेकर राजस्थान एसओजी को बड़ी सफलता मिली है. राजस्थान एसओजी ने रीट परीक्षा का पेपर लीक करने वाले मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया है. राजस्थान एसओजी के एडीजी अशोक राठौड़ ने प्रेसवार्ता कर बताया कि रीट परीक्षा 2021 पेपर लीक मामले में एसओजी मुख्य कड़ी तक पहुंच गई है. एसओजी ने मामले में उदाराम और रामकृपाल मीणा को गिरफ्तार किया है. 

एसओजी की गिरफ्त में आए रामकृपाल मीणा ने ही शिक्षा संकुल स्थित पेपर संग्रहण केन्द्र से परीक्षा से पहले पेपर निकालकर उदाराम विश्नोई को दिया था. इसके बदले उदाराम विश्नोई की ओर से एक करोड़ 22 लाख रुपए देने की जानकारी सामने आई है. आरोपी उदाराम विश्नोई ने यह पेपर भजनलाल विश्नोई को मुहैया कराया था. उन्होंने बताया कि इस मामले में भजनलाल विश्नोई की गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में इन दोनों आरोपियों का नाम सामने आया था. 

एसओजी अब तक करीब 35 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी: 
आरोपी रामकृपाल मीणा जयपुर में निजी शिक्षण संस्थान संचालित करता है. इससे पहले भी रामकृपाल मीणा द्वारा कई प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक करने की जानकारी सामने आई है. इस मामले में एसओजी अब तक करीब 35 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है. ADG ATS SOG अशोक राठौड़ ने बताया की जिन अभ्यथियों ने लीक पेपर से फायदा उठाया है. उनको भी गिरफ्तार किया जाएगा. साथ ही इस प्रकरण में जिन जिन लोगों के नाम सामने आएंगे उनके खिलाफ भी कानूनी कार्यवाही की जाएगी.

और पढ़ें