जयपुर Rajasthan Weather Update: सप्ताहांत में फिर शुरू होगा भारी बारिश का दौर, 21 अगस्त से इन जिलों में अति भारी बारिश का अलर्ट

Rajasthan Weather Update: सप्ताहांत में फिर शुरू होगा भारी बारिश का दौर, 21 अगस्त से इन जिलों में अति भारी बारिश का अलर्ट

Rajasthan Weather Update: सप्ताहांत में फिर शुरू होगा भारी बारिश का दौर, 21 अगस्त से इन जिलों में अति भारी बारिश का अलर्ट

जयपुर: बंगाल की खाड़ी और बांग्लादेश के तट पर बने कम दबाव के एक नए क्षेत्र के चलते इस सप्ताहांत से राज्‍य के अनेक इलाकों में भारी बारिश का नया दौर शुरू हो सकता है. हालांकि राज्‍य में बारिश की गतिविधियां बीते चौबीस घंटे में धीमी पड़ी हैं.

मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी और बांग्लादेश के तट पर एक और नया, गहरा, कम दबाव का क्षेत्र बन गया है. इसके अब और तीव्र होकर गहरे दबाव में बदलने व अगले 1-2 दिनों में ओडिशा, झारखंड, मध्य प्रदेश तथा उत्तर प्रदेश से होकर पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ने की प्रबल संभावना है. 

इसके असर से पूर्वी राजस्थान के कोटा, भरतपुर संभाग के जिलों में 20 अगस्त की रात से ही बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी. जबकि 21-22 अगस्त को राज्‍य के कोटा, उदयपुर, जयपुर, भरतपुर व अजमेर संभाग के अधिकतर भागों में बारिश व कहीं-कहीं भारी से लेकर अति भारी बारिश होने की संभावना है.

21-22 अगस्त से बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी:
विभाग के अनुसार, पश्चिमी राजस्थान में अगले दो दिन केवल छुटपुट स्थानों पर हल्की बारिश होने व अधिकतर भागों में मौसम मुख्यतः शुष्क रहने की संभावना है. जोधपुर, बीकानेर संभाग के जिलों में नए कम दबाव के क्षेत्र के प्रभाव से 21-22 अगस्त से बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी तथा 22-23 अगस्त को भारी बारिश हो सकती है. 

मौसम केंद्र जयपुर ने राज्‍य के बीकानेर, जोधपुर, अजमेर, जयपुर व उदयपुर संभाग के जिलों के किसानों को सलाह दी है कि आगामी दो-तीन दिन आसमान खुला रहने व बारिश में कमी रहने से फसलों में कीटनाशक या अन्य रसायन का छिड़काव करने के लिए समय अनुकूल है.

राज्‍य में बारिश की गतिविधियां बीते चौबीस घंटे में थोड़ी कमजोर हुई:
इस बीच राज्‍य में बारिश की गतिविधियां बीते चौबीस घंटे में थोड़ी कमजोर हुई हैं. शुक्रवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक चौबीस घंटे में राज्‍य के कुछ ही स्थानों पर हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश हुई. इस दौरान सबसे अधिक 33 मिलीमीटर बारिश जैसलमेर के सम में दर्ज की गई.

और पढ़ें