जयपुर कोरोना मैनेजमेंट की तर्ज पर वैक्सीनेशन में भी मॉडल बने राजस्थान, सीएम गहलोत ने दिए निर्देश

कोरोना मैनेजमेंट की तर्ज पर वैक्सीनेशन में भी मॉडल बने राजस्थान, सीएम गहलोत ने दिए निर्देश

जयपुर: कोरोना मैनेजमेंट में देश-दुनिया में चर्चाओं में रहा राजस्थान अब कोरोना वैक्सिनेशन के काम में भी पहले पायदान पर रहेगा.मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इसी तरह की मंशा को लेकर आज कोरोना वैक्सीनेशन की तैयारियों की समीक्षा की.बैठक में सीएम ने कहा कि पिछले दस माह में जिस तरह से कोरोना मैनेजमेंट में राजस्थान ने अग्रणीय भूमिका निभाई है, उसी तरह से वैक्सीनेशन के काम में भी राजस्थान मॉडल स्टेट बनना चाहिए.

पहले फेज में लगेगा सभी हेल्थ वर्कर्स को कोरोना का टीका:
बैठक को लेकर चिकित्सा सचिव सिद्धार्थ महाजन ने बताया कि पहले फेज में सभी हेल्थ वर्कर्स को कोरोना का टीका लगेगा.टीकाकरण अभियान के लिए केन्द्र ने कोविन सॉफ्टवेयर बनाया है, जिसमें सभी बेनिफिशियरी की सूचना ऑनलाइन अपडेट की जानी है.महाजन से कहा कि कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर राजस्थान में तैयारियां पूरी है.पहले चरण में वैक्सीन के लिए पांच लाख हेल्थ वर्कर्स चिन्हित किए गए है.इनमें से 3.30 लाख बेनिफिशियरी की सूचना ऑनलाइन अपलोड हो चुकी है.शेष बचे बेनिफिशियरी की सूचना भी जल्द ऑनलाइन अपलोड हो जाएगी.

कोरोना वैक्सीन के लिए चार स्तरीय मॉनिटरिंग:
-कोरोना वैक्सिनेशन कार्यक्रम को लेकर सीएम गंभीर
-सीएम अशोक गहलोत की अध्यक्षता में कोरोना वैक्सीन को लेकर बैठक
-बैठक में चिकित्सा सचिव सिद्धार्थ महाजन ने दी जानकारी
-कोरोना वैक्सीन कैम्पेन को लेकर चार स्तर पर चल रही है मॉनिटरिंग
-स्टेट लेवल पर सीएस खुद कर रहे है पूरे मामले की जिलेवार समीक्षा
-इसके साथ ही स्टेट टॉस्क फोर्स की भी हो चुकी है दो अहम बैठकें
-जिला और ब्लॉक लेवल पर भी मॉनिटरिंग के लिए बनाई गई है टॉस्क फोर्स
-महाजन ने बताया कि वैक्सीन के कोल्ड चैन मैनेजमेंट का सिस्टम पूरी तरह से तैयार है
-जिला लेवल तक की ट्रेनिंग हो चुकी है, अब ब्लॉक लेवल की ट्रेनिंग जारी है
-महाजन ने दावा किया है जैसे ही केन्द्र से हरी झण्डी और वैक्सीन मिलेगी
-तत्काल प्रभाव से वैक्सिनेशन का काम शुरू कर दिया जाएगा

और पढ़ें