राजस्थान जासूसी मामला: रेलवे डाक सेवा के कर्मी को 13 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेजा गया

 राजस्थान जासूसी मामला: रेलवे डाक सेवा के कर्मी को 13 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेजा गया

 राजस्थान जासूसी मामला: रेलवे डाक सेवा के कर्मी को 13 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेजा गया

जयपुर: पाकिस्तानी गुप्तचर एजेंसी की महिला एजेंट के हनी ट्रैप में फंसकर भारतीय सेना के सामरिक महत्व के गोपनीय दस्तावेजों की फोटो पाकिस्तानी आका को भेजने के आरोप में गिरफ्तार रेलवे डाक सेवा के कर्मी भरत बावरी को शनिवार को दो दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया.

पुलिस महानिदेशक (खुफिया) उमेश मिश्रा ने बताया कि आरोपी भरत को शनिवार को मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया. अदालत ने मामले की गंभीरता और गहन जांच की आवश्यकता को देखते हुए आरोपी को 13 सितंबर तक पुलिस रिमांड में भेज दिया. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. रेलवे डाक सेवा के मल्टी टॉस्किंग स्टाफ (एमटीएस) भरत बावरी (27) को सैन्य खुफिया व राज्य आसूचना ने संयुक्त कार्रवाई व निगरानी के बाद शुक्रवार को गिरफ्तार किया था.

आरोप है कि बावरी ने पाकिस्तान गुप्तचर एजेंसी आईएसआई की एक महिला एजेंट के मोह जाल में फंस कर सेना के गोपनीय डाक पत्रों के लिफाफे खोले और पत्रों की फोटो खींचकर व्हाट्सएप से पाकिस्तानी आका को भेजा था. (भाषा) 

और पढ़ें