Live News »

चुनाव आयोग की अनोखी पहल, वन्यजीव कर रहे मतदान की अपील

चुनाव आयोग की अनोखी पहल, वन्यजीव कर रहे मतदान की अपील

जयपुर। वाइल्डलाइफ टूरिज्म को बढ़ावा देने और प्रदेश में मतदान का प्रतिशत बढ़ाने के लिए इस बार बाघ, भालू, हिरण, तोता और गोडावण जैसे वन्यजीव प पक्षी वोट अपील कर रहे हैं। इस बार सवाई माधोपुर सहित 9 जिन्होंने स्वीप कार्यक्रम के तहत इन पशु पक्षियों को चुनावी मैस्कॉट बनाया है। 

चुनाव आयोग के निर्देश पर इस बार प्रदेश के विभिन्न जिलों में वन्य जीव एवं पक्षी वोट अपील करते नजर आ रहे हैं। स्वीप कार्यक्रम के तहत जिला निर्वाचन अधिकारियों ने अपने जिला पशु पक्षियों को इलेक्शन मैस्कॉट बनाया है। दरअसल इस पहल के पीछे वाइल्डलाइफ टूरिज्म को बढ़ाने, वन और वन्य जीवों के संरक्षण के साथ ही मतदान प्रतिशत को बढ़ाने का उद्देश्य रहा है। 

इस पहल का ताना-बाना प्रदेश के कुछ वन्य जीव विशेषज्ञ खासकर पक्षी विशेषज्ञ अनिल रोजर्स द्वारा तैयार किया गया है। इस मुहिम में पाली जिला निर्वाचन अधिकारी ने जहां  बघेरे को अपना मैस्कॉट बनाया है वहीं जालौर ने जबरा भालू, सिरोही ने ग्रीन मुनिया, अजमेर ने खरमोर पक्षी,  झालावाड़ ने गागरोन तोता, कोटा ने ऊदबिलाव, सवाई माधोपुर बाघ शेरु, जैसलमेर गोदावन, भरतपुर साइबेरियन क्रेन और बारां ने ब्लैक बक जैसे वन्यजीव और पक्षियों को अपना इलेक्शन मैस्कॉट बनाया है। 

ध्यान रहे पिछले एक दशक में विभिन्न जिलों में वन्यजीवों की संख्या में वृद्धि हुई है ऐसे में प्रदेश में वाइल्डलाइफ टूरिज्म को भी मजबूती मिली है और हर वर्ष वाइल्डलाइफ टूरिज्म के लिए आने वाले पर्यटकों की संख्या में इजाफा हुआ है। 

हालांकि ताजा मुहिम से 9 जिले ही जुड़े हैं जबकि अलवर का सरिस्का टाइगर पार्क देश दुनिया में मशहूर है वहां से कोई मैस्कॉट जारी नहीं हुआ। इसी तरह जयपुर का प्रोजेक्ट लेपर्ड किसी से पीछे नहीं लेकिन जयपुर में भी किसी वन्यजीव को मैस्कॉट नहीं बनाया गया।

बहराल, जिन जिलों द्वारा पहल की गई है उसके काफी अच्छे परिणाम आ रहे हैं और न केवल स्थानीय लोगों को वरन वाइल्ड लाइफ से जुड़े लोगों को भी इस मुहिम के प्रति काफी लगाव नजर आ रहा है। अब जिलों में संबंधित लोकसभा क्षेत्र के जिला निर्वाचन अधिकारियों द्वारा शुभंकर की एक सीरीज़ बनाई गई है जो अब सोशल मीडिया, स्टीकर व बैनर के रूप में शहर से लेकर गांवों तक नज़र आ रही है। 

दरअसल, जो मैस्कॉट जारी किए गए हैं उनसे संबंधित जिले की  विरासत के लिए भी संरक्षण के प्रति जागरूकता आएगी साथ ही साथ वोटर्स भी लोकतंत्र के इस तैयोहार में अपनी पूर्ण रूप से भूमिका निभा पाएंगें। अनिल रोजर्स ने बताया कि जिस तरह गागरोनी तोते को झालावाड़ जिले में पुर्नस्थापित करने के प्रयास किए जा रहें है उसी तरह अन्य जिलों में भी वहां के स्थानीय वन्यजीव व पक्षियों को लेकर इससे जागरुकता बढ़ेगी।

जयपुर से संवाददाता निर्मल तिवारी की रिपोर्ट

और पढ़ें

Most Related Stories

राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा, पत्रकारिता ने समाज में एकजुटता पैदा की है

राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा, पत्रकारिता ने समाज में एकजुटता पैदा की है

जयपुर: राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा है कि पत्रकारिता ने समाज में एकजुटता पैदा की है. सकारात्मक वातावरण का निर्माण किया है और लोगों के मन में सद्भाव का भाव जगाकर समाज को जोडा है. इस नैतिक शक्ति ने कोविड-19 का डटकर मुकाबला करने में समाज को सक्षम बनाया है. राज्यपाल ने मीडिया के संवाददाताओं, छायाकारों और हाॅकर्स को कोरोना वारियर्स बताते हुए उन सभी का अभिनन्दन किया है.

भारत निर्माण में पत्रकारिता की भूमिका पर हुई वेबीनार:
राज्यपाल कलराज मिश्र मंगलवार को यहां राजभवन से वीडियो काॅन्फ्रेस के माध्यम से कोविड-19 के संकट में भारत निर्माण में पत्रकारिता की भूमिका विषय पर आयोजित वेबीनार को सम्बोधित कर रहे थे. वेबीनार का आयोजन अजमेर के महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय की ओर से किया गया. राज्यपाल ने कहा कि मीडिया ने कोविड- 19 के दौरान आम जन को केन्द्र व राज्य सरकार के द्वारा समय-समय पर दी गई एडवाइजरी, कोरोना वारियर्स द्वारा किये जा रहे कार्य और अन्य सावधानियों व सुविधाओं की जानकारी देकर सराहनीय कार्य किया है.

राजस्थान में लॉकडाउन 4.0 में बढ़ा छूट का दायरा, शादी के आयोजन के लिए नहीं लेनी होगी SDM से परमिशन 

उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने भी मीडिया के कार्यों की सराहना की:
कोविड-19 की स्थिति एक युद्व की भांति हैं. इस युद्व में मीडिया ने जान हथेली पर लेकर निर्भिकता से कार्य किया है. प्रिन्ट और इलेक्ट्रानिक मीडिया की इस मेहनत की, जितनी प्रंशसा की जाये, उतनी ही कम है. उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि कोरोना से लडाई में मीडिया ने अग्रणी भूमिका निभाई है. मीडिया के द्वारा उठाये गये सवालों पर राज्य सरकार कार्यवाही करती है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य में पत्रकारिता को बढावा दिया है. मुख्यमंत्री ने अपनी पहली ही बैठक में पत्रकारिता विश्वविद्यालय खोलने की पहल की थी. वेबीनार में हरिदेव जोशी पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति ओम थानवी और एमडीएस विश्वविद्यालय के कुलपति आर.पी.सिंह ने भी विचार व्यक्त किए.

जयपुर एयरपोर्ट पर उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां, आज डिपार्चर के दौरान रही यात्रियों की खासी भीड़

जयपुर एयरपोर्ट पर उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां, आज डिपार्चर के दौरान रही यात्रियों की खासी भीड़

जयपुर: जयपुर एयरपोर्ट पर मंगलवार को फ्लाइट संचालन का दूसरा ही दिन था कि एक साथ अधिक संख्या में यात्री आने पर सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना संभव नहीं हो सका. एयरपोर्ट के डिपार्चर गेट से प्रवेश के दौरान मेडिकल स्क्रीनिंग की जा रही है.

केवल एक ही डिपार्चर गेट से दिया जा रहा है प्रवेश: 
मेडिकल स्क्रीनिंग के दौरान चिकित्सा विभाग की टीमों को यात्रियों से पूछताछ और बॉडी टेंपरेचर लेने में अधिक समय लग रहा है. चूंकि यात्रियों को केवल एक ही डिपार्चर गेट से प्रवेश दिया जा रहा है.

मुंबई से आये परिवार के 3 लोग पाए गए पॉजिटिव, गांव में मची खलबली, दुकानें हुई बंद 

नहीं हुआ सोशल डिस्टेंसिंग की पालना: 
इस कारण यात्रियों की कतार डिपार्चर गेट से लेकर अराइवल गेट तक पहुंच गई. इस दौरान यात्रियों के लिए निर्धारित सोशल डिस्टेंसिंग की पालना नहीं हो सकी. जायजा लिया फर्स्ट इंडिया न्यूज़ संवादाता काशीराम चौधरी ने.

राजस्थान में लॉकडाउन 4.0 में बढ़ा छूट का दायरा, शादी के आयोजन के लिए नहीं लेनी होगी SDM से परमिशन 

राजस्थान में लॉकडाउन 4.0 में बढ़ा छूट का दायरा, शादी के आयोजन के लिए नहीं लेनी होगी SDM से परमिशन 

जयपुर: कोरोना संकट की वजह से देशव्यापी लॉकडाउन जारी है. लॉकडाउन 4 में केन्द्र और राज्य सरकार की ओर कई चीजों में छूट का दायरा बढ़ा दिया है. राजस्थान सरकार ने लॉकडाउन 4.0 में छूट का दायरा बढ़ा दिया है. 

नौतपा में भट्टी सा तपा शेखावाटी, 50 डिग्री पहुंचा चूरू का तापमान  

शादी समारोह में 50 लोग हो सकेंगे शामिल :

लॉकडाउन में शादी समारोह के मामले में पहले की तरह शर्तें लागू रहेंगी. शादी समारोह की SDM को पूर्व सूचना देनी होगी. वहीं शादी समारोह में 50 अधिक लोग एकत्रित नहीं हो सकेंगे. सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करनी होगी. 

मास्क लगाना होगा अनिवार्य:
शादी समारोह में मौजूद सभी लोगों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा. दरअसल पूर्व आदेश में एक शब्द को ठीक किया गया. पूर्व अनुमति की जगह पूर्व सूचना शब्द जोड़ा गया है. SDM से परमिशन लेनी की जरूरत नहीं,लेकिन सूचना देना जरूरी होगा. 

मुंबई से आये परिवार के 3 लोग पाए गए पॉजिटिव, गांव में मची खलबली, दुकानें हुई बंद 

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कुल 7 हजार 476 संक्रमित, 176 नए केस आये सामने, अब तक 167 मरीजों की मौत  

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कुल 7 हजार 476 संक्रमित, 176 नए केस आये सामने, अब तक 167 मरीजों की मौत  

जयपुर: राजस्थान में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. राजस्थान में मंगलवार दोपहर 2 बजे तक 176 नए पॉजिटिव केस दर्ज हुए. प्रदेश में कुल 3143 कोरोना एक्टिव केस है. कुल 4165 मरीज पॉजिटिव से नेगेटिव हुए. राजस्थान में कुल मरीजों की संख्या 7 हजार 476 पहुंच गई है. वहीं कोरोना की चपेट में आने से 168 मरीजों की मौत हो गई है. कुल 1949 पॉजिटिव प्रवासियों की संख्या शामिल है. मंगलवार दोपहर 2 बजे तक अजमेर 2, बाड़मेर 4, भरतपुर 2, भीलवाड़ा 4, बीकानेर 5, चित्तौड़गढ़ 4, धौलपुर 2, गंगानगर 1, जयपुर 21, झालावाड़ 12, झुंझुनूं 5, जोधपुर 4, कोटा 10, नागौर 7, पाली 10, प्रतापगढ़ 1, राजसमंद 11, सवाईमाधोपुर 1, सीकर 19
सिरोही 27, उदयपुर में 24 केस सामने आये. 

भारत में कोरोना वायरस को लेकर अमेरिकी प्रोफेसर का बड़ा अनुमान, जुलाई में होंगे करीब 5 लाख मामले

अब तक 167 लोगों की मौत:
राजस्थान में कोरोना से अब तक 167 लोगों की मौत हुई है. इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 83 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई. इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, पाली और नागौर में 6, भरतपुर में 5, अजमेर में 6, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है. वहीं दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई है.

सोमवार को सामने आए 272 नए मामले: 
इससे पहले सोमवार को प्रदेश में कोरोना के 272 नए मामले सामने आए हैं. इसमें सर्वाधिक 50 पॉजिटिव केस अकेले पाली जिले में सामने आये है. इसके अलावा अलवर में 5, बाड़मेर में 5, भीलवाड़ा में एक, चूरू में 17, दौसा में एक, डूंगरपुर में एक, जयपुर में 13, जालोर में 5, झुंझुनूं में 3, जोधपुर में 47, कोटा में 7, नागौर में 48, राजसमंद में 3, सवाई माधोपुर में एक, सीकर में 44, सिरोही में 9 और उदयपुर में 12 पॉजिटिव केस मिले हैं. 

राजस्थान में पान, गुटखा और तम्बाकू बिक्री की अनुमति मिली, किया गया यह संशोधन

रात को अच्छी नींद नहीं आने पर करें ये उपाय, स्ट्रेस से मिलेगा छुटकारा

रात को अच्छी नींद नहीं आने पर करें ये उपाय, स्ट्रेस से मिलेगा छुटकारा

जयपुर: अच्छी नींद लेना हमारी सेहत के लिए बहुत ज्यादा जरूरी है. अगर हम रोज अच्छी नींद लेते है तो काफी तरोताजा महसूस करते हैं. इसके साथ ही कई गंभीर बीमारियों से भी दूर रह सकते हैं. ऐसे में आइए जानते हैं आखिर कैसे आयुर्वेद के अनुसार अपने खान-पान में कुछ बदलाव करके आप अच्छी नींद का मजा ले सकते हैं...

उत्तर भारत के कई हिस्सों में गर्मी का सितम, 47 डिग्री तक पहुंचा तापमान, रेड अलर्ट जारी 

- सोने से पहले शहद का सेवन करने से उसका सकारात्मक असर पूरे शरीर पर रहता है. शहद एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और एंटी ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है. 

- रात में सोने से पहले गुनगने दूध में चुटकी भर दालचीनी पाउडर और उतना ही इलायची पाउडर डालकर पीने से न सिर्फ दूध का स्वाद अच्छा होगा, नींद भी अच्छी आएगी.

- अगर आपको नींद नहीं आ रही तो बादाम अच्छा विकल्प साबित हो सकते हैं. इससे तेज नींद आने में मदद मिलती है और साथ ही नींद गहरी भी आती है.

- केले में भरपूर मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स होते हैं. कार्बोहाइड्रेट्स ट्रिप्टोफेन बनाने में मदद करता है जो दिमाग को अच्छी नींद दिलाता है. 

सोनू सूद से गुहार, एक बार गर्लफ्रेंड से मिलवा दीजिए बिहार ही जाना है- एक्टर ने दिया ये मज़ेदार जवाब 

उत्तर भारत के कई हिस्सों में गर्मी का सितम, 47 डिग्री तक पहुंचा तापमान, रेड अलर्ट जारी

उत्तर भारत के कई हिस्सों में गर्मी का सितम, 47 डिग्री तक पहुंचा तापमान, रेड अलर्ट जारी

नई दिल्ली: देश में गर्मी का भी सितम बढ़ने से कई शहरों में आसमान से आग बरस रही है. उत्तर भारत के कई हिस्सों में तापमान 47 डिग्री सेल्सियस से ऊपर पहुंच गया है. मौसम विभाग ने दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और राजस्थान के लिए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है. मौसम विभाग ने अनुसार कुछ हिस्सों में तापमान 47.5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है. इस दौरान जब लू का प्रकोप अपने चरम पर हो सकता है.

भारत में कोरोना वायरस को लेकर अमेरिकी प्रोफेसर का बड़ा अनुमान, जुलाई में होंगे करीब 5 लाख मामले 

दोपहर 1 बजे से शाम 5 बजे तक घरों से नहीं निकलने की सलाह: 
मौसम विभाग ने लोगों को दोपहर 1 बजे से शाम 5 बजे तक घरों से नहीं निकलने की सलाह दी है जिस समय लू का प्रकोप चरम पर होगा. राजस्थान में सोमवार को दिन का सर्वाधिक तापमान चूरू में 47.5 डिग्री सेल्सियस मापा गया, वहीं उत्तर प्रदेश में इलाहाबाद सबसे गर्म रहा जहां तापमान 46.3 डिग्री सेल्सियस रहा. राष्ट्रीय राजधानी में अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

राजस्थान में पान, गुटखा और तम्बाकू बिक्री की अनुमति मिली, किया गया यह संशोधन 

29-30 मई को धूल भरी आंधी के साथ छींटे पड़ने की संभावना:
मौसम विभाग ने कहा कि उत्तर भारत के अनेक हिस्सों में 29-30 मई को धूल भरी आंधी चलने और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है जिससे लू के प्रकोप से राहत मिल सकती है. मौसम विभाग ने बताया कि राजस्थान में जोधपुर, बीकानेर, जयपुर, अजमेर, भरतपुर और कोटा संभाग के कुछ क्षेत्रों में लू का प्रकोप और बढ़ सकता है. हालांकि पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता की वजह से शुक्रवार और शनिवार को जोधपुर, बीकानेर, जयपुर और भरतपुर में हल्की बारिश हो सकती है.

इस बार घरेलू टूर्नामेंट भी चढ़ा कोरोना वायरस की भेंट, ट्रायल के माध्यम से ही चुनी जाएगी टीम

इस बार घरेलू टूर्नामेंट भी चढ़ा कोरोना वायरस की भेंट, ट्रायल के माध्यम से ही चुनी जाएगी टीम

जयपुर: राजस्थान के घरेलू टूर्नामेंट भी इस बार कोरोना वायरस की भेंट चढ़ गए हैं.  लॉक डाउन के कारण 2 महीने से अधिक समय तक खेल मैदान बंद रहने के कारण खिलाड़ियों को तो नुकसान हुआ ही है और अब खेल संघ भी इसका खामियाजा भुगतेंगे. लॉक डाउन के कारण आरसीए के घरेलू टूर्नामेंट इस बार नहीं हो सकेंगे और एक बार फिर ट्रायल और कैंप के आधार पर ही बीसीसीआई के विभिन्न टूर्नामेंटों के लिए आरसीए की टीम चयनित की जाएगी. 

भारत में कोरोना वायरस को लेकर अमेरिकी प्रोफेसर का बड़ा अनुमान, जुलाई में होंगे करीब 5 लाख मामले 

उम्मीद है कि अगले कुछ दिनों में बोर्ड से गाइडलाइंस आ जाएगी:
अगस्त के आखिरी सप्ताह से बीसीसीआई का घरेलू टूर्नामेंट शुरू हो जाता है और उससे पहले आरसीए को अपने घरेलू टूर्नामेंट कराने होते हैं लेकिन फिलहाल यह स्थिति नजर नहीं आ रही और इसके बाद बारिश का मौसम भी शुरू हो जाएगा.  आरसीए के सचिव महेंद्र शर्मा से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि आरसीए बीसीसीआई की गाइडलाइंस की पालना करेगी और उम्मीद है कि अगले कुछ दिनों में बोर्ड से गाइडलाइंस आ जाएगी. 

राजस्थान में पान, गुटखा और तम्बाकू बिक्री की अनुमति मिली, किया गया यह संशोधन 

इस बार ट्रायल के माध्यम से ही टीम चुनी जाएगी:
उन्होंने स्वीकार किया कि इस बार ट्रायल के माध्यम से ही टीम चुनी जाएगी. महेंद्र शर्मा ने कहा कि क्रिकेट में क्योंकि टीम गेम होता है ऐसे में हमें बहुत सी सावधानियां रखनी होगी. दरअसल जब आरसीए के घरेलू टूर्नामेंट होते हैं तो खेल मैदान, सहयोगी स्टाफ और होटल जैसी कई सुविधाएं लेनी पड़ती है. फिलहाल इन सुविधाओं के बारे में असमंजस की स्थिति है. ऐसे में एक बार फिर खिलाड़ियों को कॉल्विन शील्ड जैसे टूर्नामेंटों से महरूम रहना पड़ेगा. वैसे लोग डाउन के कारण आरसीए का ऑफिस भी बंद है और अधिकांश क्रिकेट मैदानों में मेंटेनेंस में समय लगेगा. 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में सामने आए 76 नए पॉजीटिव, मरीजों का ग्राफ पहुंचा 7376

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में सामने आए 76 नए पॉजीटिव, मरीजों का ग्राफ पहुंचा 7376

जयपुर: राजस्थान में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. पिछले 12 घंटे में प्रदेश में 76 नए पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं. इसमें झालावाड़ में 12, नागौर में 4, राजसमंद 11, उदयपुर 13, जयपुर में 16, झुंझुनूं में 5, बीकानेर में 5, कोटा में 4, भरतपुर में 1, पाली में 3 और धौलपुर में 2 पॉजिटिव केस चिन्हित किए गए हैं. ऐसे में प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 7376 पहुंच गया है. 

भारत में कोरोना वायरस को लेकर अमेरिकी प्रोफेसर का बड़ा अनुमान, जुलाई में होंगे करीब 5 लाख मामले 

अब तक 167 लोगों की मौत:
राजस्थान में कोरोना से अब तक 167 लोगों की मौत हुई है. इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 83 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई. इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, पाली और नागौर में 6, भरतपुर में 5, अजमेर में 6, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है. वहीं दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई है.

राजस्थान में पान, गुटखा और तम्बाकू बिक्री की अनुमति मिली, किया गया यह संशोधन 

सोमवार को सामने आए 272 नए मामले: 
इससे पहले सोमवार को प्रदेश में कोरोना के 272 नए मामले सामने आए हैं. इसमें सर्वाधिक 50 पॉजिटिव केस अकेले पाली जिले में सामने आये है. इसके अलावा अलवर में 5, बाड़मेर में 5, भीलवाड़ा में एक, चूरू में 17, दौसा में एक, डूंगरपुर में एक, जयपुर में 13, जालोर में 5, झुंझुनूं में 3, जोधपुर में 47, कोटा में 7, नागौर में 48, राजसमंद में 3, सवाई माधोपुर में एक, सीकर में 44, सिरोही में 9 और उदयपुर में 12 पॉजिटिव केस मिले हैं. 

Open Covid-19