श्रीपद नाइक के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी के बाद राजनाथ सिंह ने कहा- उनकी हालत स्थिर, जरूरत हुई तो उन्हें दिल्ली ले जाया जाएगा

श्रीपद नाइक के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी के बाद राजनाथ सिंह ने कहा- उनकी हालत स्थिर, जरूरत हुई तो उन्हें दिल्ली ले जाया जाएगा

श्रीपद नाइक के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी के बाद राजनाथ सिंह ने कहा- उनकी हालत स्थिर, जरूरत हुई तो उन्हें दिल्ली ले जाया जाएगा

पणजी: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक को आगे उपचार के लिए नई दिल्ली ले जाया जाएगा. दुर्घटना में घायल हुए नाइक का गोवा के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है. राजनाथ सिंह ने कहा कि नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की एक टीम गोवा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (जीएमसीएच) के डॉक्टरों के साथ समन्वय करेगी. 

उत्तर कन्नड़ जिले कल दुर्घटना ग्रस्त हो गई थी नायक की कार, पत्नी और सहायक की हो गई थी मौतः
दुर्घटना में घायल होने के बाद नाइक को जीएमसीएच में ही भर्ती कराया गया था. सिंह ने कहा कि नाइक की हालत स्थिर है और वह खतरे से बाहर हैं. दुर्घटना में नाइक के साथ कार में सवार उनकी पत्नी विजया और एक सहायक की मौत हो गई. यह हादसा उत्तर कन्नड़ जिले में अकोला के निकट हुआ, जब मंत्री कर्नाटक में धर्मस्थल से गोवा लौट रहे थे.आयुष मामले और रक्षा राज्य मंत्री नाइक (68) की कल रात जीएमसीएच में कई सर्जरी की गयी.
 
राजनाथ सिंह डॉक्टरों को टीम से की बात, जाने नाइक के हालचालः
नाइक का हालचाल जानने सिंह गोवा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल पहुंचे. राजनाथ सिंह ने जीएमसीएच के डीन डॉ. शिवानंद बांदेकर समेत वरिष्ठ डॉक्टरों के साथ मुलाकात की और नाइक के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली. सिंह ने संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया से बात की है, जो नाइक का इलाज कर रहे जीएमसीएच के डॉक्टरों की टीम के साथ समन्वय के लिए सहमत हो गए.

राजनाथ सिंह ने कहा- हो सकता है कि नाइक को दिल्ली ले जाने की जरूरत ना पड़ेः
राजनाथ सिंह ने कहा कि नाइक की हालत स्थिर है और वह खतरे से बाहर हैं. एम्स और जीएमसीएच के डॉक्टरों की टीम उनके उपचार की निगरानी करेगी और जरूरत हुई तो उन्हें आगे इलाज के लिए नई दिल्ली ले जाया जाएगा. सिंह ने कहा कि हो सकता है कि उन्हें दिल्ली ले जाने की जरूरत ना पड़े.

डॉ. बांदेकर ने कहा- नाइक अगले 10-15 दिन अस्पताल में ही रहेंगेः
डॉ. बांदेकर ने कहा कि फिलहाल नाइक को जीएमसीएच से दूसरे अस्पताल ले जाने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि नाइक को जब जीएमसीएच लाया गया तब उनकी स्थिति गंभीर थी लेकिन अब उपचार का असर हो रहा है और उनकी चेतना लौट रही है. रात में नाइक की चार सर्जरी की गई. बांदेकर ने कहा कि नाइक अगले 10-15 दिन अस्पताल में ही रहेंगे, जिसके बाद पूरी तरह ठीक होने में तीन से चार महीने लगेंगे.
सोर्स भाषा
 

और पढ़ें