close ads


राजनाथ का विपक्ष को जवाब, भीड़ की हिंसा रोकना राज्य सरकार का काम

राजनाथ का विपक्ष को जवाब, भीड़ की हिंसा रोकना राज्य सरकार का काम

नई दिल्ली। संसद के मानसून सत्र के दूसरे दिन केंद्रीय गृंह मंत्री राजनाथ सिंह ने मॉब लिंचिंग के मुद्दे पर सरकार का रुख स्पष्ट किया। गृह मंत्री ने भीड़ की हिंसा पर चिंता जताते हुए कहा कि इस तरह की घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण है। लिंचिंग की घटनाएं पहले भी होती रही हैं। इस तरह की घटनाओं में जो भी हताहत होते हैं, यह किसी भी सरकार के लिए चिंता का विषय है। 

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने इसे लेकर कई बार राज्य सरकारों को निर्देश दिए हैं। भीड़ की हिंसा रोकना राज्य सरकार का काम है। उन्होंने कहा कि जहां भी मॉब लिंचिंग की घटनाएं होती हैं, मैं उस राज्य के मुख्यमंत्री से बात करता हूं।

राजनाथ सिंह ने कहा, हमने इन घटनाओं को लेकर हाल ही में एक एडवाइजरी भी जारी की है और 2016 में भी की थी। सोशल मीडिया का इस्तेमाल अब अफवाहों को फैलाने के लिए भी किया जाता है। जो मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं का मुख्य कारण बनते हैं। हमने सभी सोशल साइट्स को इन अफवाह वाले मैसेजों पर रोक लगाने के लिए कहा है। हालांकि, राजनाथ सिंह के बयान से कांग्रेस असंतुष्ट नजर आई और लोकसभा से वॉक आउट कर गई।

और पढ़ें