रियासत से सियासत: राजपरिवारों का लोकतंत्र की मजबूती में कितना योगदान, बताएंगी राजसमंद सांसद दीया कुमारी

रियासत से सियासत: राजपरिवारों का लोकतंत्र की मजबूती में कितना योगदान, बताएंगी राजसमंद सांसद दीया कुमारी

रियासत से सियासत: राजपरिवारों का लोकतंत्र की मजबूती में कितना योगदान, बताएंगी राजसमंद सांसद दीया कुमारी

जयपुर: राजपरिवार!! अपनी दादी-नानी से स्कूल की किताबों में अकसर बच्चों ने राजपरिवारों की कहानी सुनी,पढ़ी होगी. राजशाही ठाट-बाट के बारें में जाना होगा. उनकी शानों-शौकत ने रूबरू हुए होंगे लेकिन असल जिंदगी में राजपरिवार के सदस्य किस तरह अपनी जिंदगी जीते है किस तरह लोकतंत्र के निर्माण में सहयोगी होते है ये बात शायद ही बच्चे जानते हो. कि किस तरह लोकतंत्र को मजबूती देने में राजपरिवारों का एक बड़ा योगदान है. अब डिजिटल बाल मेला जो बच्चों को राजनीति के हर परिपेक्ष्य से रूबरू करवा रहा है राजनीति के हर विषय में उन्हें विकसित कर रहा है. वही मंच एक बार फिर बच्चों को एक नया पाठ पढ़ाएगा. जो राजपरिवारों का राजनीति में योगदान बताएंगा. किस तरह राजपरिवार के सदस्य रियासत से सियासत का सफर तय करते है. सरकार द्वारा बनायी जा रही प्रक्रिया में किस तरह अपनी अहम भूमिका निभाते है. इन सभी बातों से बच्चों को रूबरू कराने आ रही है राजसमंद सांसद दीया कुमारी.

जयपुर के महाराजा सवाई सिंह और महारानी पद्मिनी देवी की पुत्री दीया कुमारी जिन्होंने अपनी दादी महारानी गायत्री देवी के कदमों का अनुसरण कर राजनीति में प्रवेश किया वो आज राजसमन्द से लोकसभा सांसद है. राजनीति में उन्होनें साल 2013 में जयपुर में एक रैली के दौरान औपचारिक रूप से भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की थी.बचपन से राजशाही जीवन जीने वाली दीया कुमारी ने राजनीति को करीब से जाना था. लोकतंत्र की मजूबती में राजपरिवार किस तरह अपना योगदान दे रहे है ये दीया कुमारी बेहद नजदीकी से जानती है. राजपरिवार की इकलौती सन्तान होने के नाते, राजकुमारी दीया कुमारी व्यक्तिगत रूप से अपनी दादी राजमाता गायत्री देवी की देखरेख में पली बढ़ी. वो विरासत की संरक्षक और अस्तित्वमय जयपुर के शाही परिवार की कला और संस्कृति को बनाए रखने के लिए एक राजकुमारी का कार्य भी कर रही हैं. इसी के साथ वो राजनीति में अपना वर्चस्व कायम कर रही है और एक नेता के पद पर जनता के हितों की रक्षा कर रही है.

डिजिटल बाल मेला के मंच पर अब बच्चे राजसमंद सांसद दीया कुमारी से राजपरिवारों के राजनीति में दिये जा रहे योगदान को जानेंगे. राजपरिवारों की लाइफस्टाइल से रूबरू होंगे. इस बीच एक बार फिर से बच्चे राजनीति के अहम विषयों को जानेंगे और सदियों पहले किस तरह की राजनीति चल रही थी किस तरह सरकार अपने काम करती थी को करीब से जानेंगे. इस बीच बच्चों को ​भारत के इतिहास की अनूठी कहानी जानने का भी अवसर मिलेगा. बच्चे राजपरिवारों का राजनीति मे ​कैसे योगदान है पर अपने सवाल कर सकते है. यदि उनके पास किसी भी प्रकार का सुझाव हो उनके मन में कोई विचार हो तो बच्चे सांसद दीया कुमारी से लाइव सेशन में साझा कर सकते है. ये एक बड़ा मौका है जब पहली बार बच्चों को राजकुमारी के साथ ही लोकसभा की सांसद से सीधे बात करने का अवसर मिल रहा है.

14 जुलाई शाम 3 बजे डिजिटल बाल मेला के गूगल मीट पर होगा संवाद :
डिजिटल बाल मेला पर अगले सप्ताह होने जा रहे ये संवाद शाम 3 बजे आयोजित किया जाएगा. जिसमें राजकुमारी दीया कुमारी बच्चों से शाम 3 बजे जुड़ेंगी. संवाद डिजिटल बाल मेला के गूगल मीट https://meet.google.com/ysn-pfjh-shh.  पर आयोजित किया जाएगा. जिसमें बच्चे अपने मन की हर बात स़ाझा कर सकते है. अपने सवाल उनके सामने रख सकते है तो वही यदि वो सरकार को कोई सुझाव देना चाहते है तो इस लाइव सेशन में दे सकते है.

डिजिटल बाल मेला लाया है बच्चों के लिए नई सौगात:
15 जून को शुरू हुआ डिजिटल बाल मेला 2021 सीजन की थीम 'बच्चों की सरकार कैसी हो' है. ऐसे में इस सीजन के हर एक पहलू में बच्चों को राजनीतिक, सामाजिक, सरकार के हर एक पहलू से परिचित कराया जाएगा. आपको पता हो तो सरकार द्वारा की जाने वाली सभी गतिविधियां विधानसभा में पारित की जाती है. जिसके लिए बाल राजनीति में शामिल होने जा रहे बच्चों को विधानसभा जाना और वहां कि गतिविधियों, कार्यप्रणाली को करीब से समझना आवश्यक है. ऐसे में बाल राजनीति में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने जा रहे बच्चों को अपनी सरकार बनाने के लिए देश में पहली बार किसी मंच के सहयोग से विधानसभा जाने का मौका मिलेगा. खास बात ये है कि ये मंच देशभर के बच्चों के लिए आयोजित किया गया है. देशभर के बच्चे इसमें भाग ले सकते है. और डिजिटल बाल मेला 2021 में बनने जा रहे इस इतिहास में अपना नाम कर सकते है.

डिजिटल बाल मेला की वेबसाइड के साथ अब बच्चे व्हॉटसप पर भी भेज सकते है अपनी एंट्री:
डिजिटल बाल मेला सीजन 2 में 'बच्चों की सरकार कैसी हो' की किसी भी प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए बच्चों को अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा जिसके लिए बच्चे रजिस्ट्रेशन के लिए वेबसाइड www.digitalbaalmela.com के साथ ही डिजिटल बाल मेला के व्हॉटसप नंबर 8005915026 पर भी अपनी एंट्री भेज सकते है.

और पढ़ें