नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता के कोर्ट में बयान देने से पहले पिता की हत्या, चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता के कोर्ट में बयान देने से पहले पिता की हत्या, चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता के कोर्ट में बयान देने से पहले पिता की हत्या, चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

रामगढ़(अलवर): रामगढ़ में नाबालिग बालिका से दुष्कर्म और बालिका के पिता का बुधवार को शव मिलने के बाद आरोपियों पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया गया है. पीड़ितों का आरोप है कि नाबालिग किशोरी के कोर्ट में बयान देने से पहले ही आरोपी परिवार द्वारा पीड़ित के पिता की हत्या कर दी गई. मृतक का शव घर से 500 मीटर की दूरी 1 पेड़ पर रस्सी से लटका मिला था. 

VIDEO: राजस्थान में बेखौफ बिजली चोर ! जानिए कहां-कहां कितनी चोरी 

चार जनों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज:  
पूरे मामले में पीड़िता के भाई की ओर से आरोपी परिवार के चार जनों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया गया है. जबकि छेड़छाड़ व दुराचार का आरोपी अनीश पॉक्सो एक्ट में न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है. घटना को लेकर बुधवार को दिन भर थाने पर लोगों की भीड़ रही कई हिंदू संगठनों के लोग भी रामगढ़ थाने पहुंचे और विरोध जताया. पीड़िता के भाई ने थाने में दी लिखित रिपोर्ट में कहा कि नाबालिक बहन के साथ अनीश पुत्र सुमरदिन ने दुराचार किया जिसकी एफ आई आर रामगढ़ थाने में दर्ज कराई गई. 24 जून को कोर्ट में बयान होने थे उससे पहले ही पीड़िता के परिवार पर समझौता करने का दबाव डाला गया और समझौता नहीं करने पर हत्या कर शव पेड़ पर टांग दिया.

जयपुर पुलिस की बड़ी कामयाबी, गुमशुदा हुए 1430 मोबाइल किए बरामद

आरोपियों को राजनीतिक संरक्षण का आरोप:
आरोपियों में सुमरादिन महमूद अंजुम और तौफीक धमिल है. मृतक के बेटे ने आरोपियों पर दो-तीन अन्य व्यक्तियों के साथ मिलकर गला घोट कर हत्या करने का आरोप लगाया. पीड़ित पक्ष का यह भी आरोप है कि आरोपियों को राजनीतिक संरक्षण प्राप्त है इसलिए कार्यवाही होने की शंका है. छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज करने में भी पुलिस ने देर की थी जिसके कारण आरोपियों के हौसले बुलंद है. घटना के बाद मौकेपर एएसपी, सीओ समेत पुलिस के अलाधिकारी भी पहुंचे थे. 

और पढ़ें