बागपत बागपत में दुष्कर्म पीड़िता को मिली उन्नाव से बड़ा कांड करने की धमकी

बागपत में दुष्कर्म पीड़िता को मिली उन्नाव से बड़ा कांड करने की धमकी

बागपत में दुष्कर्म पीड़िता को मिली उन्नाव से बड़ा कांड करने की धमकी

बागपत: हैदराबाद और उन्नाव में देश की दो बेटियों के साथ जो हुआ उसका जिक्र करते ही रूह कांप जाती है, लेकिन बावजूद इसके दरिंदो के हौंसले इस कदर बुलंद हैं कि दुष्कर्म का शिकार बागपत की बेटी को अदालत में गवाही देने पर उन्नाव से भी बड़ा कांड करने की धमकी दी जा रही है. पीड़िता के घर पर एक कागज चिपकाकर उसपर लिख दिया है कि "यदि गवाही दी तो अंजाम उन्नाव कांड से भी बड़ा होगा". 

दहशत में पीड़ित परिवार:
धमकी के बाद पीड़ित परिवार दहशत में है. पुलिस मामले में जांच की बात कहकर पल्ला झाड़ रही है और मामले पर कुछ भी बोलने से बच रही है. 'अगर तुमने 13 तारीख को अदालत में गवाही दी तो उसका अंजाम बहुत बुरा होगा. उसका अंजाम उन्नाव कांड से भी भयंकर होगा' ये धमकी उस योगी राज में बेटियों को दी जा रही है, जिसमें बेटियों की सुरक्षा को बड़े-बड़े दावे किये जा रहे हैं. इस धमकी भरे कागज ने पहले से ही परेशान उस परिवार की दहशत और बढ़ा दी है, जो बेटी के साथ हुए दुष्कर्म से मामले से सदमे में हैं. पूरा परिवार ख़ौफ़ के साए में है कि यदि 13 दिसम्बर को दिल्ली की अदालत में गवाही दे दी तो कहीं उन्नाव से बड़ा कांड उनकी बेटी के साथ ना हो जाए. बागपत की ये बेटी पहले ही टूट चुकी है, क्योंकि उसके साथ छल करके दुष्कर्म किया गया और उसकी वीडियो बनाकर ब्लैकमेल किया गया. पीड़िता का कहना है कि वो भी मोदी और योगीजी की बेटी है उसे इंसाफ चाहिए. 

2018 का है मामला:
दरअसल मामला बड़ौत थाना इलाके के एक गांव (बिजरौल) का है. यहां रहने वाले एक युवक ने दिल्ली में पढ़ाई करने गई गांव की ही युवती के साथ जुलाई 2018 में पढ़ाई में मदद करने के बहाने उसे नशीला पदार्थ पिलाकर रेप किया और उसकी वीडियो बनाकर उसे ब्लैकमेल किया. पीड़िता ने हिम्मत दिखाई और आरोपी पर मुकद्दमा दर्ज करा दिया. आरोपी को कुछ महीने बाद जमानत मिल गई. जुलाई में इस मामले में सुनवाई थी, लेकिन पीड़िता कई धमकी मिलने के बाद दहशत में आ गई और गवाही पर नहीं गई. अब इस मामले में फिर 13 दिसम्बर को दिल्ली की अदालत में सुनवाई है, तो इस सुनवाई से पहले उसे फिर धमकी दी जा रही है और बागपत में उसके घर के बाहर धमकी भरा कागज चिपका दिया गया. पीड़िता और उसके पिता दिल्ली रहते हैं औऱ धमकी मिलने के बाद बड़ौत में अपने घर आ गए. इस मामले में पीड़िता के दादा ने बड़ौत कोतवाली में शिकायत की तो पुलिस ने ये कहते हुए पल्ला झाड़ लिया कि जांच कराएंगे.

दिल्ली से लौटे बड़ौत:
पीड़िता के पिता भी दहशत में है और सरकार से माग कर रहें हैं किं उन्हें इंसाफ दिलाया जाए. फिलहाल वो अपनी बेटी के साथ दिल्ली में ही रह रहे थे और उसकी पढ़ाई करा रहे हैं, लेकिन बड़ौत में घर पर धमकी भरा कागज चिपकाए जाने के बाद बेटी को लेकर बड़ौत घर आ गए. वहीं पीड़िता की माँ ने भी न्याय की मांग की है. दुष्कर्म पीड़िता को मिली इस धमकी के बाद भी पुलिस अधिकारी ऑफ रिकॉर्ड जांच की बात कह रहे हैं और मीडिया से कुछ भी कहने से बच रहे हैं, लेकिन यदि दुष्कर्म पीड़िता के साथ कोई घटना हो गई तो आखिर उसका जिम्मेदारी कौन होगा? 

... बागपत से पारस जैन की रिपोर्ट 

और पढ़ें