131 दिन की अनोखी तपस्या से बनाया रिकॉर्ड, गर्म पानी से किया गुजारा 

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/12/24 10:06

प्रतापगढ़। एक दिन दो दिन, 3 दिन, 20, 40, 50 दिन नहीं पूरे 131 दिन यानी लगभग 4 माह और 11 दिनों तक कुछ भी नहीं खाना। केवल सूर्योदय के बाद और सूर्यास्त से पहले गर्म पानी पीना और वह भी निश्चित मात्रा में। इस तरह की तपस्या पूरी की आज प्रतापगढ़ की एक जैन श्राविका ने। इस रिकॉर्ड तपस्या के लिए उनका नाम गोल्डन बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया है। इसके पहले यह कीर्तिमान रतलाम की निर्मला नाहर के नाम था। जिन्होंने 125 उपवास की तपस्या की थी।

प्रतापगढ़ में चिपड़ परिवार की बहू मोनिका चीपड़ ने आज कीर्तिमान रच दिया। 131 दिनों तक लगातार उपवास करने वाली 32 वर्षीय मोनिका का आज विभिन्न सामाजिक संगठनों और धार्मिक संगठनों की ओर से अभिनंदन किया गया। साधुमार्गी जैन श्रावक संघ की ओर से आयोजित किए गए कार्यक्रम में बड़ी संख्या में रतलाम, नीमच, मंदसौर, दिल्ली, मुंबई, जयपुर आदि स्थानों से आए जैन धर्मावलंबियों ने भाग लिया। तप अभिनंदन समारोह के इस कार्यक्रम में अतिरिक्त जिला कलेक्टर हेमेंद्र नागर, नगर परिषद सभापति कमलेश डोसी सहित कई जैन संघों के प्रतिनिधि मौजूद थे। अतिरिक्त जिला कलेक्टर हेमेंद्र नागर ने इस मौके पर कहा कि सामान्य व्यक्ति के लिए 1 दिन भी भूखा रहकर तप करना मुश्किल होता है। 131 तक की संख्या गिनना भी भारी लगता है, ऐसे में मोनिका द्वारा इस प्रकार के तप की आराधना करना वास्तव में तपस्या की पराकाष्ठा है।

गौरतलब है कि जैन धर्म में तपस्या का विशेष महत्व है 10, 20, 30 दिनों की उपवास की तपस्या कई श्रद्धालु करते रहते हैं। लेकिन इतनी लंबी तपस्या अपने आप में एक कीर्तिमान है। इस मौके पर मौजूद गोल्डन बुक ऑफ रिकॉर्ड्स के प्रतिनिधि मनोज शुक्ला ने कंपनी की ओर से प्रमाण पत्र दिया। उन्होंने कहा कि मेडिकल साइंस के मुताबिक इस तरह निराहार रहकर तपस्या करना शरीर को काफी कमजोर करता है। लेकिन इसे आस्था और धर्म का प्रभाव का है कहा जा सकता है कि जैन समाज में इस तरह की तपस्या होती है। जो वास्तव में एक चमत्कार के सामान ही है। इस कीर्तिमान को एक प्रक्रिया के तहत गोल्डन बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज कर लिया गया है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in