युवाओं के लिए खुशखबरीः हाउसिंग बोर्ड में जल्द ही अलग-अलग 573 पदों के लिए की जाएगी भर्तियां 

युवाओं के लिए खुशखबरीः हाउसिंग बोर्ड में जल्द ही अलग-अलग 573 पदों के लिए की जाएगी भर्तियां 

जयपुरः नौकरी का इंतजार कर रहे लाखों युवाओं को हाउसिंग बोर्ड ने खुशखबरी दी है.हाउसिंग बोर्ड में जल्द ही अलग अलग पदों के लिए 573 भर्तियां की जाएंगी. हाउसिंग बोर्ड की 244वीं संचालक मंडल की बैठक मंगलवार को बोर्ड अध्यक्ष भास्कर ए सावंत की अध्यक्षता में हुई. बैठक में बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा समेत कई अधिकारी मौजूद रहे. संचालक मंडल की इस बैठक में कई महत्वपूर्ण फ़ैसले लिए गए हैं.

हाउसिंग बोर्ड में जल्द ही अलग-अलग पदों के लिए 573 भर्तियां की जाएंगीः
जानकारी के अनुसार हाउसिंग बोर्ड मुख्यालय में मंगलवार को हुई संचालक मंडल की 244 वी बैठक में कई महत्वपूर्ण फ़ैसले लिए गए हैं. बैठक में सबसे महत्वपूर्ण फ़ैसला हुआ है बोर्ड में नई भर्तियों को लेकर. हाउसिंग बोर्ड में जल्द ही अलग-अलग पदों के लिए 573 भर्तियां की जाएंगी. हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने बताया कि बोर्ड में पिछले काफी समय से विभिन्न संवर्गों में कार्मिकों की काफी कमी है. हर महीने अधिकारियों और कर्मचारियों के सेवानिवृत्त होने के कारण कार्मिकों की कमी का संकट और गहराता जा रहा है. इसे ध्यान में रखते हुए बोर्ड के काम को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए विभिन्न संवर्गों के लिए जल्द ही 573 रिक्त पदों पर भर्तियां की जाएंगी. 

भर्तियों के लिए जल्द ही राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजेगा बोर्डः
पवन अरोड़ा ने बताया कि बोर्ड में पिछले काफी समय से नई भर्तियों को करने के लिए जरूरत महसूस की जा रही है. ऐसे में मंगलवार को संचालक मंडल की बैठक में हुआ यह फ़ैसला काफी महत्वपूर्ण है.भर्तियों को लेकर जल्द ही बोर्ड की ओर से राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा जाएगा. नई भर्तियां होने से जहां एक और बेरोजगारों को रोजगार मिलेगा तो वहीं हाउसिंग बोर्ड का काम और बेहतर और सुचारू हो सकेगा. हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने बताया कि बोर्ड बैठक में यह तय किया गया है कि जमीनों की अवाप्ति और पट्टे से जुड़े जो मामले हैं, उनका एक समिति परीक्षण करेगी और कौनसी जमीनें हाउसिंग बोर्ड के लिए उपयोगी हैं और कौनसी नहीं है. परीक्षण के बाद उसका प्रस्ताव सरकार को भिजवाया जाएगा. जो जमीन बोर्ड के लिए उपयोगी होंगी, उनके लिए बोर्ड 25 प्रतिशत विकसित भूमि देकर समझौते के माध्यम से जमीन लेगा.

राज्य निर्वाचन विभाग के लिए भवन बनाने का काम भी हाउसिंग बोर्ड करेगाः
पवन अरोड़ा ने बताया कि संचालक मंडल की बैठक में एक और बड़ा फ़ैसला हुआ है कि अब राज्य निर्वाचन विभाग के लिए भवन बनाने का काम भी हाउसिंग बोर्ड करेगा. यह भवन जयपुर स्थित इंदिरा गांधी नगर आवासीय योजना में 3 हजार 368 वर्गमीटर क्षेत्र में बनाया जाएगा. राज्य निर्वाचन आयोग के लिए बनने वाले प्रस्तावित भवन में बेसमेंट, भूतल औऱ पांच मंजिलें होंगी, इसका निर्माण दो चरणों में आई.जी.बी.सी. मापदंडों के अनुसार ग्रीन बिल्डिंग के रूप में किया जाएगा. इस भवन के निर्माण पर क़रीब 29 करोड़ रुपए की लागत आएगी. इस समय राज्य निर्वाचन  विभाग के पास अपना कोई भवन नहीं है ऐसे में इंदिरा गांधी नगर जैसी शानदार लोकेशन पर भवन बनने के बाद राज्य निर्वाचन विभाग का काम और बेहतर तरीके से हो सकेगा.

बैठक में भवन विनियम 2020 के नियमों को बोर्ड में भी लागू करने का लिया गया फैसलाः 
पवन अरोड़ा ने बताया कि हाउसिंग बोर्ड में अब नीलामी के प्रकरणों में नगरीय विकास विभाग की ओर से जारी परिपत्र को स्वीकार कर लिया गया है. आपको बतादें है कि नगरीय विकास विभाग ने जनवरी, 2020 में नीलामी से सम्बंधित प्रक्रिया को सरलीकरण करने के लिए परिपत्र जारी किया था. इस परिपत्र के अनुसर न्यूनतम बोली से अधिक बोली आने पर भूखंड की नीलामी को अस्वीकार नहीं किया जाएगा. हाउसिंग बोर्ड की आज हुई संचालक मंडल की बैठक में भवन विनियम 2020 के नियमों को बोर्ड में भी लागू करने का महत्वपूर्ण फ़ैसला भी लिया गया है. बोर्ड मुख्यालय में हुई इस बैठक में मुख्य नगर नियोजना आर.के.विजयवर्गीय, सचिव  संचिता विश्नोई, वित्तीय सलाहकार  रेखा भास्कर, मुख्य अभियंता प्रथम के.सी. मीणा, मुख्य अभियंता द्वितीय जी.एस. बाघेला, सम्पदा प्रबंधक कश्मि कौर, भू राजस्व अधिकारी डॉ. प्रभा व्यास सहित सम्बंधित अधिकारी मौजूद रहे.
फर्स्ट इंडिया के लिए शिवेन्द्र सिंह परमार कि रिपोर्ट

और पढ़ें