Live News »

VIDEO: SMS अस्पताल में मौत-जिन्दगी के बीच जूझते मासूमों ने मनाया गणतंत्र दिवस 

VIDEO: SMS अस्पताल में मौत-जिन्दगी के बीच जूझते मासूमों ने मनाया गणतंत्र दिवस 

जयपुर (विकास शर्मा)। गणतंत्र दिवस के मौके पर ध्वजारोहण समेत कई बड़े कार्यक्रम तो आज आपने देखे होंगे, लेकिन हम आपको बताते हैं 'मौत और जिन्दगी' के बीच 'खिलखिलाता' हमारा 'गणतंत्र'। जी हां, कुछ ऐसी ही तस्वीर दिखी सवाई मानसिंह अस्पताल के न्यूरो सर्जरी वार्ड में, जहां ब्रेन ट्यूमर से पीड़ित नौनिहालों ने न सिर्फ बड़े उत्साह के साथ 26 जनवरी का पर्व मनाया बल्कि देशभक्ति का संदेश भी दिया। एक्सक्लूसिव रिपोर्ट-

प्रदेश का सबसे बड़ा एसएमएस अस्पताल का जनरल वार्ड, वार्ड भी वो, जहां हर समय मष्तिष्क से जुड़ी गंभीर बीमारी के पेंशेंट हर समय दर्द से तनावपूर्ण रहते हैं। खासतौर पर पीडियाट्रिक न्यूरो सर्जरी वार्ड के मासूम बच्चे, जिनके लिए दर्द भरे उपचार के बीच गणतंत्र दिवस के बारे में सोच पाना भी मुमकिन नहीं होता, लेकिन अपने आप में खासियत में भरपूर इस वार्ड में आज देशभक्ति के तराने गूंजते सुनाई दिए। पहल रही न्यूरो सर्जरी के एचओडी डा वीडी सिन्हा की, जिसके चलते मासूम बच्चों ने बड़े सौहार्दपूर्ण माहौल में वार्ड में गणतंत्र दिवस मनाया गया। 

कार्यक्रम में अतिरिक्त मुख्य सचिव (पीडब्ल्यूडी) वीनू गुप्ता, चिकित्सा शिक्षा सचिव हेमन्त गेरा, एसएमएस मेडिकल कॉलेज प्राचार्य डा सुधीर भण्डारी समेत सभी विभागों के चिकित्सक शामिल हुए। इस दौरान जब बच्चों को वंदे मातरम की थीम के बीच गिफ्त बांटे गए तो नौनिहालों की खुशी देखकर एकबारगी हर किसी की आंख नम हो गई। कार्यक्रम के लिए पूरे वार्ड को देशभक्ति की थी पर सजाया गया। इस तरह की पहल की एसी वीनू वीनू गुप्ता ने तारीफ की। प्राचार्य भण्डारी ने कहा कि अस्पताल के दूसरे विभागों को भी इस तरह की अनुकरणीय पहल के लिए प्रेरित किया जाएगा। 

अस्पताल के एक विभाग की यह पहल हर किसी के दिल को छु गई। फिर चाहे वो वार्ड में भर्ती हो या परिजन, हर कोई एकबारगी यह भूल गया कि वे अस्पताल में है। अब जरूरत ये है कि दूसरे विभाग भी ऐसी ही सकारात्मक पहल के लिए आगे आए। अगर ऐसा हुआ तो निश्चित तौर पर अस्पताल देशभर में अनूठी पहल के लिए जाना जाएगा। 


First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in