अपने 34वें जन्मदिन पर ये काम करने जा रहे हैं पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना

अपने 34वें जन्मदिन पर ये काम करने जा रहे हैं पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना

अपने 34वें जन्मदिन पर ये काम करने जा रहे हैं पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना

वास्को: पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना ने उत्तर प्रदेश, जम्मू और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के 34 स्कूलों में शौचालय और पीने के पानी की सुविधाएं मुहैया कराने का संकल्प लिया है.

27 नवंबर को अपना 34वां जन्मदिन मनाएंगे सुरेश रैनाः
इस साल 15 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले रैना ने अपनी बेटी के नाम पर बने गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) गार्सिया रैना फाउंडेशन (जीआरएफ) के सहयोग से 27 नवंबर को अपने 34वें जन्मदिन के मौके पर कई परोपकारी गतिविधियां कराने का फैसला किया. बयान के अनुसार इस पहल से इन स्कूलों में पढ़ने वाले 10000 से अधिक बच्चों को स्वास्थ्य और साफ-सफाई की सुविधा मिलेगी.

गाजियाबाद के नूर नगर सिहानी के गवर्नमेंट कंपोजिट मिडल स्कूल से करेंगे जन्मदिन के हफ्ते की शुरुआतः
रैना और फाउंडेशन की सह संस्थापक उनकी पत्नी प्रियंका ने उनके जन्मदिन के हफ्ते की शुरुआत गाजियाबाद के नूर नगर सिहानी के गवर्नमेंट कंपोजिट मिडल स्कूल, पीने के पानी की सुविधा में सुधार, लड़के और लड़कियों के लिए अलग शौचालय, हाथ धोने की व्यवस्था, बर्तन धोने की जगह और स्मार्ट कक्षा का उद्घाटन करके की. यह गार्सिया रैना फाउंडेशन और युवा अनस्टॉपेबल की संयुक्त परियोजना का हिस्सा है. रैना और प्रियंका ने इस दौरान कमजोर तबके की 500 महिलाओं को राशन किट भी दी. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान के दूत भी है सुरेश रैनाः
रैना ने कहा कि इस पहल के साथ अपने 34वें जन्मदिन का जश्न मनाने से मुझे काफी खुशी मिली है. प्रत्येक बच्चे को अच्छी शिक्षा का अधिकार है जिसमें स्कूलों में साफ और सुरक्षित पीने का पानी और शौचालय की व्यवस्था भी शामिल है. उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले रैना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान के भी दूत हैं.
सोर्स भाषा

और पढ़ें