दो भारतीय जवानों की शहादत का बदला, भारतीय सेना की कार्रवाई में आतंकी ठिकानों को पहुंचा भारी नुकसान

दो भारतीय जवानों की शहादत का बदला, भारतीय सेना की कार्रवाई में आतंकी ठिकानों को पहुंचा भारी नुकसान

दो भारतीय जवानों की शहादत का बदला, भारतीय सेना की कार्रवाई में आतंकी ठिकानों को  पहुंचा भारी नुकसान

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के तंगधार सेक्टर में दो भारतीय जवानों की शहादत का बदला भारत ने ले लिया है. भारतीय सेना ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में मौजूद लश्कर के कैंपों को तबाह कर दिया.जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद सेना प्रमुख बिपिन रावत ने एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि कुछ लोग हैं जो जम्मू-कश्मीर में माहौल बिगाड़ने के लिए पर्दे के पीछे से काम कर रहे हैं. रावत ने कहा कि हमारे पास इंटेलिजेंस इनपुट है कि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद बड़ी संख्या में आतंकवादी घुसपैठ करने की तैयारी में है. इसे लेकर हमनें अपनी सेना को पहले ही अलर्ट किया हुआ है. हम किसी भी स्थिति से निपटने में सक्षम हैं. 

सेना प्रमुख ने कहा कि समय के साथ-साथ घाटी में चीजें समान्य हो रही हैं. लेकिन कुछ लोग हैं जो ऐसा नहीं चाहते हैं. और इसलिए वह हर संभव कोशिश कर रहे हैं कि माहौल को बिगाड़ा जाए. भारतीय सेना की इस कार्रवाई में आतंकी ठिकानों को भारी नुकसान पहुंचा है.जिन ठिकानों को भारतीय फौज ने निशाना बनाया वो पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में पड़ते हैं.

पीओके के जिन ठिकानों पर कार्रवाई हुई उनमें जूरा, अथमुकाम और कुंडलसाही शामिल हैं. तीनों ही ठिकाने पीओके की नीलम वैली में हैं. ये भारत के तंगधार के सामने पाक अधिकृत कश्मीर में हैं.

और पढ़ें