4 सूत्रीय मांगों को लेकर रोडवेज कर्मचारियों का धरना दूसरे दिन भी जारी

4 सूत्रीय मांगों को लेकर रोडवेज कर्मचारियों का धरना दूसरे दिन भी जारी

4 सूत्रीय मांगों को लेकर रोडवेज कर्मचारियों का धरना दूसरे दिन भी जारी

जोधपुर: विभिन्न मांगों को लेकर एक बार फिर रोडवेज कर्मचारी आंदोलन की राह पर है. 4 सूत्रीय प्रमुख मांगो को लेकर राजस्थान रोडवेज कर्मचारियों का धरना आज दूसरे दिन भी जारी रहा. जोधपुर के पावटा मुख्य बस स्टैंड पर रोडवेज कर्मचारियों ने धरना देकर अपना विरोध जताया. रोडवेज यूनियन के सचिव लक्ष्मण सिंह राजपुरोहित ने बताया कि चुनाव से पूर्व कांग्रेस ने रोडवेज कर्मचारियों से वादा किया कि यदि उनकी सरकार बनेगी तो उनकी जायज मांगों को माना जाएगा. राजपुरोहित ने बताया कि रोडवेज कर्मचारी 1500 नई बसों की खरीद करने, 800 नए कर्मचारियों को भर्ती करने, सातवां वेतनमान लागू करने और सेवानिवृत्त कर्मचारियों को पूरा लाभ देने की प्रमुख मांगों को लेकर आज विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

23 अक्टूबर को 1 घंटे का चक्का जाम कर कार्य बहिष्कार की चेतावनी: 
उन्होंने बताया कि इसी मांग को लेकर 17 अक्टूबर को मुख्यमंत्री सचिन पायलट के गृह विधानसभा क्षेत्र टोंक में विशाल प्रदेश स्तरीय रैली का आयोजन किया जाएगा और सरकार को उनके वादे को याद दिलाने का प्रयास करेंगे. इसके बावजूद यदि सरकार ने उनकी मांगें नहीं मानी तो 23 अक्टूबर को 1 घंटे का चक्का जाम करके कार्य बहिष्कार किया जाएगा. उन्होंने बताया कि रोडवेज कर्मचारी राज्य सरकार से पूरी उम्मीद रखते हैं कि वह उनकी मांगों पर सकारात्मक विचार करेगी लेकिन 2 दिन से यह धरना चालू होने के बावजूद भी अभी तक सरकार की ओर से कोई पहल नहीं की गई है. 

और पढ़ें