VIDEO: संकट में रोडवेज, 5740 पद रिक्त, 4960 की भर्ती करना जरूरी

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/08/31 09:35

जयपुर: राजस्थान रोडवेज में एक तरफ जहां बसों की संख्या घटती जा रही है, वहीं दूसरी तरफ बसाें को चलाने वाले स्टाफ की संख्या भी कम होती जा रही है. प्रदेश में परिवहन साधनों के लिए जनता की लाइफ लाइन रही रोडवेज अब सिमटती जा रही है. हजारों पद रिक्त होने से बसों का संचालन कम हो रहा है. रिक्त पदों पर भर्ती के लिए रोडवेज प्रशासन लम्बे समय से प्रयास कर रहा है, आखिर क्यों हुए स्टाफ की कमी के हालात, कैसे हो सकता है समाधान, एक्सक्लूसिव रिपोर्ट:

पिछले 5 साल में 1 तिहाई स्टाफ कम:
राज्य सरकार यदि इच्छाशक्ति दिखाए तो प्रदेश के करीब 5 हजार युवाओं को राजस्थान रोडवेज में रोजगार दिया जा सकता है. रोडवेज में लगातार बढ़ते जा रहे रिक्त पदों के चलते न केवल स्टाफ की कमी हो रही है, बसों के संचालन फेरे बरकरार रखने में भी रोडवेज प्रशासन को जोरदार प्रयास करने पड़ रहे हैं. वजह है रोडवेज में लगातार कर्मचारियों और अफसरों का रिटायर होना. पिछले 5 साल में रोडवेज में करीब 6 हजार कार्मिक रिटायर हो चुके हैं. 5 वर्ष पहले रोडवेज में कर्मचारियों और अधिकारियों के कुल स्टाफ की संख्या लगभग 20 हजार थी, वहीं अब केवल 14 हजार कार्मिक ही बचे हैं. बड़ी संख्या में चालक-परिचालकों व अन्य स्टाफ के रिटायर होने से बसों के संचालन पर असर पड़ रहा है. रोडवेज में अंतिम भर्ती वर्ष 2013 में की गई थी, इसके बाद कोई नई भर्ती रोडवेज में नहीं की जा सकी है. इस कारण बड़ी संख्या में पद रिक्त पड़े हुए हैं. विभाग के कैडर स्टाफ के हिसाब से बात करें तो स्वीकृत पदों में से वर्तमान में 5740 पद रिक्त चल रहे हैं. रोडवेज प्रशासन इनमें से 4960 पदों पर भर्ती करना चाह रहा है. इसे लेकर पिछले 3 साल में कई बार राज्य सरकार को प्रस्ताव भिजवाया जा चुका है. 

रोडवेज में 5740 पद हैं रिक्त, 4960 पदों पर भर्ती की जरूरत:
—परिचालक के 8893 पद स्वीकृत, इनमें से 2682 पद रिक्त, इतने ही पदों पर भर्ती होगी
—आर्टिजनल ग्रेड तृतीय के 1624 पद स्वीकृत, इनमें 889 पद रिक्त, 889 पदों पर भर्ती
—आर्टिजन ग्रेड द्वितीय के 1590 पद, 1029 पद हैं रिक्त, 296 पदों पर भर्ती होगी
—कनिष्ठ अभियंता ए के 54 पद स्वीकृत, 49 पद हैं रिक्त, 7 पदों पर भर्ती होगी
—कनिष्ठ अभियंता बी के 207 पद स्वीकृत, इनमें 131 पद हैं रिक्त, 129 पदों पर भर्ती होगी
—सहायक अभियंता निर्माण के 5 स्वीकृत पदों में से 4 पद रिक्त, 1 पद पर भर्ती होगी
—कनिष्ठ अभियंता निर्माण के 6 स्वीकृत पदों में से 4 पद रिक्त, 4 पदों पर भर्ती होगी
—कनिष्ठ विधि अधिकारी के 45 स्वीकृत पदों में से 36 रिक्त पद, 36 पदों पर भर्ती होगी
—स्टेनोग्राफर 19 स्वीकृत पदों में से 18 पद रिक्त, 18 पदों पर भर्ती होगी
—कनिष्ठ लेखाकार के 230 स्वीकृत पदों में से 202 पद हैं रिक्त, 202 पदों पर भर्ती होगी
—संगणक के के 148 स्वीकृत पदों में से 64 रिक्त पद, 64 पदों पर भर्ती होगी
—क्लर्क ग्रेड द्वितीय के 1081 स्वीकृत पदों में से 632 पद रिक्त, 632 पदों पर भर्ती होगी

आर्थिक स्थिति खराब:
रोडवेज प्रशासन ने रिक्त पड़े 5740 पदों के विपरीत 4960 पदों पर भर्ती के लिए अनुमति मांगी है. इन रिक्त पदों के अलावा चालकों के भी करीब ढाई हजार पद रिक्त पड़े हुए हैं, लेकिन बसों का संचालन प्रभावित नहीं हो, इसके लिए रोडवेज प्रशासन ने चालक अनुबंध पर लगाए हुए हैं. दरअसल राज्य सरकार द्वारा रोडवेज को भर्ती की अनुमति इस वजह से नहीं दी जा रही है, क्योंकि रोडवेज की आर्थिक स्थिति खराब चल रही है. नई भर्ती किए जाने पर रोडवेज पर अतिरिक्त भार पड़ेगा. 

कितना खर्चा बढ़ेगा रोडवेज पर ?
—4960 पदों पर भर्ती से रोडवेज पर पड़ेगा अतिरिक्त भार
—2 साल तक प्रोबेशन पीरियड में 4 करोड़ रुपए प्रतिमाह का भार
—इसके बाद सभी कार्मिकों का किया जाएगा नियमित
—2 साल बाद हर माह 12 करोड़ रुपए का भार पड़ेगा
—हालांकि भर्ती नहीं हुई तो रोडवेज के लिए बढ़ जाएगा संकट

अब जबकि रोडवेज प्रशासन 1152 नई बसों की खरीद करने जा रहा है, तो सबसे पहले जरूरत होगी बसों के संचालन के लिए स्टाफ की. ऐसे में इन बसों के लिए करीब ढाई हजार नए परिचालकों सहित आर्टिजन व अन्य स्टाफ की जरूरत पड़ेगी. यानी नई बसों की खरीद के समानांतर ही रोडवेज में नई भर्ती करनी होगी. राज्य सरकार चाहे तो रोडवेज की स्थिति सुधारने के साथ ही 5 हजार युवाओं को रोजगार भी मुहैया करवाया जा सकता है. देखना होगा कि रोडवेज के भर्ती के प्रस्ताव को कब तक मंजूरी मिल पाती है।

... संवाददाता काशीराम चौधरी की रिपोर्ट 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in