Live News »

पुलिस के हत्थे चढ़ा लुटेरा दूल्हा, यूं लड़कियों को अपने जाल में फंसाता

पुलिस के हत्थे चढ़ा लुटेरा दूल्हा, यूं लड़कियों को अपने जाल में फंसाता

नोएडा। नोएडा पुलिस ने 25 हजार के ईनामी जालसाज व लुटेरे दूल्हे और उसकी महिला साथी को गिरफ्तार किया है, जो शादी डॉट कॉम जैसे मेट्रिमोनियल वेबसाइट का इस्तेमाल कर युवतियों को झांसे में लेकर शादी रचाता था और फिर कीमती सामान हड़पकर भाग जाता था। पुलिस के मुताबिक लुटेरे दूल्हे ने मेरठ, इन्दौर, बनारस, भोपाल और अन्य राज्यों में भी इस तरह की करोड़ों रूपये की धोखाधड़ी की घटना को अंजाम दिया था। इस पूरी जालसाजी में आरोपी शख्स की कथित बहन भी शामिल है। पुलिस ने नोएडा से इस जालसाज की शिकार हुई युवती की शिकायत पर मुकदमा दर्ज़ कर मामले की जांच शुरू की और थाना सेक्टर-24 पुलि ने सेक्टर-71 की रेड लाईट के पास से इसे गिरफ्तार किया है। फिलहाल, मुख्य आरोपी तरूण शर्मा और उसकी कथित बहन से पुलिस पूछताछ में जुटी हुई। 

पुलिस के मुताबिक तरूण शर्मा शातिर किस्म का ठग है। उसका मुख्य पेशा अच्छी नौकरी करने वाली लड़कियों को अपने जाल में फंसाना था। तरुण शर्मा ने शादी डॉट कॉम के जरिए नोएडा में एक बड़े अस्पताल स्टाफ नर्स आरती से संपर्क किया और खुद को एक ऑनलाइन वेबसाइट पोर्टल का मालिक बताया और माता-पिता दोनों की सड़क हादसे में मौत होने की जानकारी देकर हम दर्दी हासिल की और फिर झांसे में लेकर शादी रचा लगी। शादी के 4 महीने के भीतर ही 40 लाख रुपए हड़पकर भाग निकला। इस पूरी जालसाजी में आरोपी शख्स की कथित बहन भी शामिल है। इस लड़की को आरोपी इकलौती सगी बहन बताता है दोनों मिलकर जालसाजी का नाटक रचकर ठग लेते हैं।

एसएसपी ने प्रेस कांफेंस में बताया की इन दोनों के खिलाफ 2011 से लेकर अब तक मेरठ, लखनऊ, चंडीगढ़, इन्दौर, बनारस, भोपाल, नोएडा और अन्य राज्यों में भी इस तरह की करोडो रूपये की धोखाधडी की घटना को अंजाम दिया और नोएडा में फर्जीवाड़े के मामले दर्ज हो चुके हैं, लेकिन गिरफ्तारी नही हुई है। आरोपी ने लखनऊ में नौ स्कार्पियों अलग-अलग व्यक्तियों के नाम पर महिन्द्रा कम्पनी में बुक की और कम्पनी को एक करोड दस लाख रूपये के चैक दिये, जो सभी बाउन्स हो गये थे। अभियुक्त ने सभी गाडियो को धोखाधडी से बेच दिया और फरार हो गया। चंडीगढ़ में कई लड़कियों से शादी के नाम पर ठगी की और फिर 50 से ज्यादा लोगों को नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रुपए ठगकर फरार हो गया। यहां से लोगों ने तरुण व उसकी कथित बहन को वॉन्टेड बताते हुए 25 हजार रुपए का इनाम भी घोषित कर रखा है। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से एक कार आई-10, दो कार की नम्बर प्लेट, दो अदद फर्जी आरसी आई-10 कार की, पाँच मोबाइल, छह फर्जी आधार कार्ड, पाँच डेबिट कार्ड, सात चैकबुक, एक पासबुक, तीन फर्जी मोहर व फर्जी एग्रीमेन्ट बरामद किया गया है।  

और पढ़ें

Most Related Stories

Open Covid-19