रूस ने छह साल बाद मिस्र के रिजॉर्ट के लिए उड़ान सेवा बहाल की

रूस ने छह साल बाद मिस्र के रिजॉर्ट के लिए उड़ान सेवा बहाल की

रूस ने छह साल बाद मिस्र के रिजॉर्ट के लिए उड़ान सेवा बहाल की

काहिरा: रूस ने सोमवार को लाल सागर पर मिस्र के रिजॉर्ट के लिए उड़ानें फिर से शुरू कर दीं. एक रूसी विमान पर बमबारी की घटना के लगभग छह साल बाद प्रतिबंध को खत्म कर यह उड़ान सेवा शुरू की गई है. इस दुर्घटना में विमान में सवार सभी 224 लोग मारे गए थे.

इस्लामिक स्टेट समूह की स्थानीय शाखा ने कहा था कि उसने अक्टूबर 2015 में शर्म अल-शेख के लाल सागर रिसॉर्ट से विमान के उड़ान भरने के तुरंत बाद सिनाई के ऊपर विमान को गिरा दिया था. उस समय, रूसी अधिकारियों ने जोर देकर कहा था कि मिस्र के हवाई अड्डों पर सुरक्षा प्रक्रियाएं अपर्याप्त थीं. मिस्र राष्ट्रीय एयरलाइन ने एक बयान में बताया कि सोमवार सुबह इजिप्ट एयरफ्लाइट एमएस724 ने 300 सैलानियों के साथ लोकप्रिय रेड सी गंतव्य के लिए उड़ान भरा.

रूसी विमान का रस्मी  जल सलामी कर स्वागत किया गया. रूसी सैलानी मास्क पहने हुए थे, जिन्हें फूल और गुब्बरे देकर स्वागत किया गया. बयान में कहा गया है कि इजिप्टएयर सिनाई प्रायद्वीप की चोटी पर स्थित शर्म अल-शेख और हर्गहाडा से रूसी राजधानी के लिए सात उड़ानें संचालित करेगा. मॉस्को से शर्म अल शेख के लिए इजिप्टएयर की पहली उड़ान मंगलवार को होनी थी. रूसी सरकारी विमानन एजेंसी, रोसावियात्सिया ने रूस के 43 शहरों से हर्गहाडा और शर्म अल-शेख के लिए उड़ानें संचालित करने के वास्ते आठ रूसी एयरलाइनों को मंजूरी दी है. हालांकि, सूची में सेंट पीटर्सबर्ग शामिल नहीं है, जो सिनाई में मार गिराए गए रूसी विमान का गंतव्य था.

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के 2015 की दुर्घटना के बाद उड़ानों को निलंबित करने के अपने आदेश को रद्द करने के एक महीने बाद उड़ान सेवा शुरू हुई है.

और पढ़ें