जालोर SOG ADG अशोक राठौड़ ने ली महत्वपूर्ण बैठक, कहा-रीट पेपर लीक मामले से जुड़ा एक भी आरोपी नहीं बचेगा

SOG ADG अशोक राठौड़ ने ली महत्वपूर्ण बैठक, कहा-रीट पेपर लीक मामले से जुड़ा एक भी आरोपी नहीं बचेगा

 SOG ADG अशोक राठौड़ ने ली महत्वपूर्ण बैठक, कहा-रीट पेपर लीक मामले से जुड़ा एक भी आरोपी नहीं बचेगा

जालोर: प्रदेश में रीट की परीक्षा का पेपर लीक के प्रकरण में आज SOG के ADG अशोक राठौड़ जालोर के सांचौर पहुंचे जहां पर जालोर, बाड़मेर, सिरोही तीन ज़िलों के पुलिस अधिकारियों व SOG के अधिकारियों के साथ महत्वपूर्ण बैठक की वहीं पेपर लीक प्रकरण से जुड़े आरोपियों की गिरफ़्तारी को लेकर निर्देश दिए. SOG ADG अशोक राठौड़ जयपुर से बाईरोड़ सिरोही से सांचौर पहुंचे जहां नर्मदा डाक बंगले में तीन ज़िलों जालोर, बाड़मेर, सिरोही के पुलिस अधिकारियों व SOG के अधिकारियों की महत्वपूर्ण बैठक ली जो बैठक शाम 5 शुरू होकर रात 7 बजे तक दो घंटे तक चली जिसमें रीट परीक्षा पेपर लीक के प्रकरण से जुड़े हर पहलू को लेकर समीक्षा की. 

इस बैठक को इसलिए भी प्रदेश में महत्वपूर्ण माना जा रहा हैं की पेपर लीक के प्रकरण में दो मुख्य आरोपी उदाराम और भजनलाल की गिरफ़्तारी के बाद जालोर से कनेक्शन और ठेकेदार भजनलाल व एक अभ्यर्थी की बाड़मेर से गिरफ़्तारी बाड़मेर कनेक्शन को जोड़ती हैं, पेपर लीक के प्रकरण में जालोर व बाड़मेर से जुड़ी अहम जानकारी SOG को मिली जिसके बाद से ही SOG की कई टीमें जालोर व बाड़मेर दोनों ज़िलों में पीछले 6 दिन से एक्टिव होने साथ ही हर रोज़ कई ठिकानों पर दबीश देने के साथ ही संदिग्धों की गिरफ़्तारी को लेकर लगातार डेरा डाले हुए हैं. 

 

दोनों ज़िलों के पेपर लीक से कनेक्शन होने के चलते इस बैठक को महत्वपूर्ण माना गया हैं. दोनों ज़िलों में कई शिक्षक, सरकारी कार्मिक और अन्य बदमाश SOG की रेडार पर हैं वहीं उनकी गिरफ़्तारी को लेकर SOG लगातार कई ठिकानों पर दबीचे दे रही हैं. SOG ADG अशोक राठौड़ ने फ़र्स्ट इंडिया के एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में कहा की रीट परीक्षा पेपर लीक प्रकरण से जुड़ा कोई भी हो , कितना ही बड़ा हो एक भी आरोपी नहीं बचेगी सभी तक SOG जल्द ही पहुंचेगी, SOG ने पेपर लीक में अभी तक 38 आरोपियों की गिरफ़्तारी कर चुकी हैं. 

 

वहीं इन आरोपियों से लम्बी पुछताछ में लगातार SOG को कई महत्वपूर्ण जानकारी भी मिली हैं. जालोर के पेपर लीक से जुड़े मामले में राजू ईराम की SOG को तलाश हैं जिस पर राजू ईराम फ़रार चल रहा हैं वहीं सोशल मीडिया पर एनकाउंटर होने की आशंका जताई हैं उस सवाल पर ADG अशोक राठौड़ ने कहा की SOG क़ानूनी प्रकिया के तहत चलती हैं, उन्हें SOG को जांच में मदद के लिये पेश होकर मदद करनी चाहिये. परीक्षा का पेपर एक दिन पूर्व ही लीक होने से कितने अभ्यर्थियों तक पेपर पहुंचने की आशंका हैं जिस पर अशोक राठौड़ ने कहा की यह सवाल हमारे भी मन में हैं जिस पर SOG जांच कर रही हैं.

और पढ़ें