अजमेर Salman Chishti Arrested: नूपुर शर्मा का सिर काटने पर इनाम का ऐलान करने वाला अजमेर दरगाह का खादिम सलमान चिश्ती गिरफ्तार, वीडियो वायरल होने के बाद था फरार

Salman Chishti Arrested: नूपुर शर्मा का सिर काटने पर इनाम का ऐलान करने वाला अजमेर दरगाह का खादिम सलमान चिश्ती गिरफ्तार, वीडियो वायरल होने के बाद था फरार

अजमेर: भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) को कथित तौर पर धमकाने का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर सामने आने के बाद अजमेर दरगाह (Ajmer Dargah) के एक खादिम (मौलवी) सलमान चिश्ती को गिरफ्तार (Salman Chishti Arrested) किया गया है. अजमेर ASP विकास सागवान ने जानकारी दी. अब पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है, जल्द ही मामले का खुलासा होगा. 

इससे पहले दरगाह पुलिस थाने में सोमवार रात को एक व्यक्ति ने सलमान चिश्ती के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी. वीडियो में वह दावा करता दिख रहा है कि वह नूपुर शर्मा का सिर लाने वाले को अपना घर सौंप देगा. वीडियो में चिश्ती ने कहा कि वह पैगंबर मोहम्मद का अपमान करने पर उसको खुले आम गोली मार देते. चिश्ती ने वीडियो में कहा है, जो कोई भी उस नूपुर शर्मा का सिर लाकर देगा वह उसे अपना घर दे देगा.

आपको सभी मुस्लिम देशों को जवाब देना होगा:
उन्होंने वीडियो में कहा कि आपको सभी मुस्लिम देशों को जवाब देना होगा. यह मैं अजमेर राजस्थान से कह रहा हूं और यह संदेश हुजूर ख्वाजा बाबा के दरबार से है. दरगाह थानाधिकारी दलवीर सिंह फौजदार ने बताया कि इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया और आरोपी की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे है. उन्होंने बताया कि आरोपी अपराधी प्रवृत्ति का है.

मामले में हाल ही में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया था:
उल्लेखनीय है कि 17 जून को अजमेर दरगाह के मुख्य द्वार से कथित भड़काऊ भाषण देने के मामले में हाल ही में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया था. हालांकि इसका वीडियो पहले से चल रहा था लेकिन उक्त गिरफ्तारियां उदयपुर में 28 जून को दर्जी कन्हैया लाल की हत्या के मामले के बाद की गईं.

इस तरह के संदेशो को दरगाह का संदेश नहीं माना जा सकता:
इस बीच वीडियो की निंदा करते हुए अजमेर दरगाह के दीवान जैनुल आबेदीन अली खान के कार्यालय ने कहा कि आरोपी खादिम द्वारा वीडियो में व्यक्त किये गये इस तरह के संदेशो को दरगाह का संदेश नहीं माना जा सकता. कार्यालय ने कहा कि यह उनका अपना व्यक्तिगत बयान है और निंदनीय है. उल्लेखनीय है कि उदयपुर में कन्हैयालाल हत्याकांड के मामले में दो मुख्य आरोपियों सहित पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. मामले की जांच राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण कर रहा है.

और पढ़ें