सवाईमाधोपुर Sawai Madhopur: बनास नदी में डूबने से युवक की मौत, सुरक्षा प्रबंध नहीं होने से आए दिन हो रहे हादसे

Sawai Madhopur: बनास नदी में डूबने से युवक की मौत, सुरक्षा प्रबंध नहीं होने से आए दिन हो रहे हादसे

Sawai Madhopur: बनास नदी में डूबने से युवक की मौत, सुरक्षा प्रबंध नहीं होने से आए दिन हो रहे हादसे

सवाईमाधोपुर: मलारना डूंगर (Malarna Dungar) उपखंड के भारजा नदी कांच की झोपड़ी गांव के समीप बनास नदी (Banas River) के निर्माणाधीन एनीकट में दोस्तों के साथ नहाने आया 20 वर्षीय युवक इनायत खान पुत्र अल्ताफ खान निवासी सूरवाल बनास नदी के बीच गहरे पानी में जाने से डूब गया. हादसा गुरुवार शाम को हुआ. लेकिन परिजनों को घटना का देर शाम पता चला तब परिजनों ने घटना की जानकारी पुलिस और प्रशासन को दी‌. 

इस दौरान मलारना डूंगर तहसीलदार किशन मुरारी मीणा, थाना अधिकारी राजकुमार मीणा और सूरवाल थाना अधिकारी अमरेश सिंह घटनास्थल पर पहुंचे. अंधेरा होने के चलते रेस्क्यू ऑपरेशन नहीं हो पाया. घटनास्थल सूरवाल थाना क्षेत्र में होने से युवक को ढूंढने के लिए एसडीआरएफ सिविल डिफेंस और स्थानीय गोताखोरों की मदद से सूरवाल थाना पुलिस और सवाई माधोपुर प्रशासन की मौजूदगी में आज रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया. 

सवाई माधोपुर (Sawai Madhopur) तहसीलदार प्रीति मीणा ने बताया कि बनास नदी में डूबे युवक को ढूंढने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन किया जा रहा है. गौरतलब है कि भारजा बनास नदी के एनीकट पर 18 दिन में यह दूसरा हादसा हुआ. इससे पहले 31 जुलाई को अजनोटी निवासी 18 वर्षीय युवक आशीष मीणा के डूबने से मौत हो गई थी. 

एनीकट पर पानी की चादर चल रही है:

बनास नदी के ऊपरी इलाकों में बारिश के चलते एनीकट पर पानी की चादर चल रही है. जिसके चलते बड़ी संख्या में लोग जान जोखिम में डालकर बनास नदी के निर्माणाधीन एनीकट पर नहाने से बाज नहीं आ रहे. पुलिस और प्रशासन के द्वारा एनीकट पर सुरक्षा को लेकर कोई प्रबंध नहीं किए गए जिसके चलते आए दिन हादसे हो रहे हैं.

और पढ़ें