एक जुलाई से खोले जा सकते है देशभर में स्कूल और कॉलेज, दूसरे शिक्षण संस्थानों को खोलने पर भी बन सकती है सहमति

एक जुलाई से खोले जा सकते है देशभर में स्कूल और कॉलेज, दूसरे शिक्षण संस्थानों को खोलने पर भी बन सकती है सहमति

एक जुलाई से खोले जा सकते है देशभर में स्कूल और कॉलेज, दूसरे शिक्षण संस्थानों को खोलने पर भी बन सकती है सहमति

नई दिल्ली: कोरोना (Covid) के मामले की कमी को देखते हुए देशभर में एक जुलाई से स्कूल- कॉलेज (School College ) खोले जा सकते हैं. इसके साथ दूसरे सभी शैक्षणिक संस्थान (Educational Institution) भी खोले जा सकते हैं, लेकिन अभी संस्थानों में परीक्षा, दाखिले और शोध कार्यों की ही अनुमति रहेगी. तीसरी लहर (Third Wave) के आने की संभावनाओं को देखते हुए कक्षाओं के संचालन को लेकर अभी असमंजस बरकरार है. ज्यादा संभावना है कि कक्षाओं को ऑनलाइन ही खोला जाए. शिक्षा मंत्रालय इसके लिए गाइडलाइन (Guideline) जारी कर सकता है.

यूपी में शिक्षण संस्थानों को खोलने की अभी तक घोषणा नहीं:
कोरोना प्रोटोकॉल (Covid Protocol) का पालन करते हुए स्कूल- कॉलेज चरणबद्ध तरीके से फिर से खुलेंगे. लगभग सभी राज्यों में बच्चों को स्कूलों और कॉलेजों में जाने की अनुमति देने के लिए एक लिखित सहमति आवश्यक होने की उम्मीद है. अभी तक यूपी सरकार ने राज्य में स्कूलों को फिर से खोलने की घोषणा नहीं की है. उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा था कि 20 मई से सभी राज्य के सभी स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे और छात्रों के लिए ऑनलाइन कक्षाएं (Online Classes) जारी रखी जाएंगी. 

जुलाई में स्कूलों के खुलने के बाद भी छात्रों को नहीं बुलाया जाएगा:
इस बारे में प्रदेश के शिक्षा विभाग (Education Department) के अधिकारी पीएन सिंह ने बताया कि प्रदेश में स्कूल एक जुलाई से खुल सकते हैं, लेकिन अभी बच्चों को स्कूल नहीं बुलाया जायेगा. शिक्षकों को स्कूल बुलाया जा सकता है. शिक्षक स्कूल से ऑनलाइन कक्षाएं लेंगे. इसके अलावा 10 और 12वीं की बोर्ड परीक्षा (Board Exam) के रिजल्ट के निर्धारण में ये शिक्षक अपनी भूमिका निभा सकते हैं. सरकार के आदेश पर ही स्कूल 30 जून तक के लिए बंद हैं और उनके आदेश पर ही आगे खुलेंगे.

शिक्षक स्कूले से ही लेंगे ऑनलाइन कक्षाएं: 
अभी तक यूपी सरकार ने राज्य में स्कूलों को फिर से खोलने की घोषणा नहीं की है. उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा था कि 20 मई से सभी राज्य के सभी स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे और छात्रों के लिए ऑनलाइन कक्षाएं जारी रखी जाएंगी. शिक्षकों को स्कूल बुलाया जा सकता है. शिक्षक स्कूल से ऑनलाइन कक्षाएं लेंगे. इसके अलावा 10 और 12वीं की बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट के निर्धारण में ये शिक्षक अपनी भूमिका निभा सकते हैं. सरकार के आदेश पर ही स्कूल 30 जून तक के लिए बंद हैं और उनके आदेश पर ही आगे खुलेंगे.

मध्य प्रदेश में खुल सकते हैं स्कूल:
कोरोना संक्रमण की रफ्तार में कमी आने के बाद मध्य प्रदेश के प्राइवेट स्कूलों में एडमिशन की प्रक्रिया शुरू हो गई है. ऐसे में संभावना है कि एमपी में कक्षा पहली से 12वीं तक के स्कूलों को जल्द खोला जाएगा. एमपी के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा कि अभी स्कूलों को खोलने को लेकर स्थिति साफ नहीं है. इस संबंध में कैबिनेट का सामूहिक फैसला लिया जाएगा.

{relaetd}

दिल्ली में चल रहे कोरोना संकट के बीच स्कूल ऑनलाइन मोड में काम करना जारी रखेंगे.

और पढ़ें