मध्य प्रदेश में कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण का दूसरा चरण सोमवार से हुआ शुरू

मध्य प्रदेश में कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण का दूसरा चरण सोमवार से हुआ शुरू

मध्य प्रदेश में कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण का दूसरा चरण सोमवार से हुआ शुरू

भोपाल: मध्यप्रदेश में कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण का दूसरा चरण सोमवार से शुरू हो गया. टीकाकरण के इस चरण के तहत वरिष्ठ नागरिकों और गंभीर बीमारी से पीड़ित 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को टीके की खुराक दी जायेगी. भोपाल के सरकारी गांधी मेडिकल कॉलेज (जीएमसी) में प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग की उपस्थिति में टीकाकरण की शुरुआत हुई. जनसंपर्क विभाग के अनुसार चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने सोमवार को गांधी मेडिकल कॉलेज के कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र में पहुंचकर टीकाकरण अभियान का जायजा लिया. उन्होंने सुबह पहुंचे वरिष्ठ नागरिक डॉ. मोहन टंकवाल, सरदार कुलवंत सिंह, अंगूरी जैन और डॉ. एन.पी. मिश्रा सहित अन्य को अपनी देख-रेख में टीका लगवाया.

टीकाकरण के बाद वरिष्ठ नागरिकों को 30 मिनट तक देखरेख में रखा गया:

अस्पताल में टीका लगाने के बाद विशेष रूप से वरिष्ठजनों को 30 मिनट तक चिकित्सकों की देखरेख में रखा गया.
इन्दौर जिला में भी कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण का दूसरा अभियान शुरू हुआ. यहां टीके की पहली खुराक रवि कुमार जैन (65) को दी गई. जैन ने टीकाकरण के बाद मीडिया से कहा कि मैं पूरी तरह ठीक महसूस कर रहा हूं। मैं अपनी पत्नी को टीका लगवाने के लिए सोमवार को ही अस्पताल लेकर आ रहा हूं.


टीके को लेकर भ्रमित नही हो, सर​कारी दिशा निर्देशों का पालन जरूरी:

कोविड-19 टीके को लेकर फैली भ्रांतियों को सिरे से खारिज करते हुए जैन ने कहा कि बतौर जागरूक नागरिक हमें टीकाकरण को लेकर सरकारी दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए और सभी पात्र लोगों को टीका लगवाना चाहिए. चश्मदीदों ने बताया कि इन अस्पतालों में सोमवार सुबह जुटे कई वरिष्ठ नागरिकों ने बताया कि उन्हें टीकाकरण के लिए ऑनलाइन पंजीयन कराने में समस्या आई. अस्पताल के कुछ कर्मचारी इस पंजीयन में उनकी मदद करते भी देखे गए. 


रविवार को प्रदेशभर में मिले 363 नए कोविड मामले:
प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मध्यप्रदेश में रविवार को कोविड-19 के 363 नए मामले आये. इससे राज्य में संक्रमितों की संख्या अब तक 2,61,766 हो गयी है और संक्रमण से 3,864 लोगों की मौत हो चुकी है. अधिकारी ने बताया कि रविवार को प्रदेश के कुल 25 जिलों में से 16 जिलों में कोविड-19 का कोई नया मामला सामने नहीं आया है. बताया कि मध्यप्रदेश सरकार कोरोना को लेकर गंभीरता बरत रही है. प्रदेशभर में कोविड गाइडलाइन में लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी. (सोर्स-भाषा)

और पढ़ें