Live News »

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद शांति व्यवस्थाओं के नजरिये से लगी धारा 144 शादियों पर पड़ रही भारी

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद शांति व्यवस्थाओं के नजरिये से लगी धारा 144 शादियों पर पड़ रही भारी

डूंगरपुर: अयोध्या विवाद को लेकर आये सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद शांति व्यवस्थाओं  के नजरिये से डूंगरपुर जिले में 18 नवंबर तक के लिए लागू की गई धारा 144 शादियों पर भारी पड़ रही है. धारा 144 के चलते शादी में डीजे बजाने और बिन्दोली निकालने की स्वीकृति नहीं मिल पा रही है जिसके चलते शादी वाले परिवारो में शादी की रौनक फीकी सी है और शादी वाले लोग परेशान है. दरअसल अयोध्या मामले के फैसले को लेकर डूंगरपुर जिला प्रशासन की ओर से 18 नवम्बर तक धारा 144 लगाई हुई है. पुलिस इसे लेकर काफी सख्त है और डीजे बजाने और बिन्दोली निकालने के लिए प्रशासनिक स्वीकृति लेना जरूरी कर दिया गया है. जिसके चलते शादी वाले परिवार परेशान है.

पुलिस बल भी आयोजन स्थल पर सुरक्षा के मद्देनजर तैनात: 
इसी के तहत डूंगरपुर शहर के नवाडेरा बस्ती में जुनेद नाम के दो पड़ोसियों की शादी बुधवार और गुरुवार को होनी है. लेकिन पुलिस ने बिना स्वीकृति बिन्दोली नहीं निकलने की हिदायत दे रखी है और जरूरी पुलिस बल भी आयोजन स्थल पर सुरक्षा के मद्देनजर तैनात है. इधर शादी वाले परिवारों ने एसडीएम से बिन्दोली निकालने की लिखित स्वीकृति की मांग कर रहे है. लेकिन दोनों परिवारों को अभी तक प्रशासन की ओर से स्वीकृति नहीं मिली है जिसके चलते शादी वाले परिवार परेशान है.  

और पढ़ें

Most Related Stories

डूंगरपुर जिले के राहत की खबर, 34 लोगों की सैम्पल रिपोर्ट आई नेगेटिव

डूंगरपुर जिले के राहत की खबर, 34 लोगों की सैम्पल रिपोर्ट आई नेगेटिव

डूंगरपुर: जिले में कोरोना पॉजिटिव के 5 मामले आने के बाद जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग अलर्ट है. इधर बुधवार को डूंगरपुर जिले के लिए एक राहत की खबर आई है. दो दिन पहले नए दो कोरोना पॉजिटिव केस आने के बाद उनके सम्पर्क में आये 34 लोगों के सेम्पल रिपोर्ट नेगिटिव आई है. स्वास्थ्य विभाग ने दो दिन पहले डूंगरपुर के आसपुर थाना क्षेत्र के एक गांव से पहले पॉजिटिव आये एक परिवार का 11 साल का बालक पॉजिटिव आया था. 

Rajasthan Corona Update: प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 348, देश में मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 149 

चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात:
वहीं सीमलवाडा कस्बे में तबलीगी जमात से जुड़ा युवक पॉजिटिव आया था जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने दोनों पॉजिटिव के सम्पर्क में आये 34 लोगों के सेम्प्ल लेकर उदयपुर लेबोटरी भेजे थे जिनकी रिपोर्ट नेगिटिव आई है. इधर सीमलवाड़ा में पॉजिटिव आने के बाद से कर्फ्यू जारी है. कस्बे में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात है. वहीं स्वास्थ्य विभाग की टीमे कस्बे में लगातार स्क्रीनिंग कर रही है. विभाग की ओर से सीमलवाड़ा कस्बे में अभी तक 1787 घरों का सर्वे करते हुए 9 हजार 60 लोगों की स्क्रीनिंग की गई है. 

 VIDEO: मई-जून के लिए ट्रेनों में 60 फीसदी तक बुक हुई सीटें, रेलवे को एक साथ भीड़ होने से संक्रमण फैलने का डर 

डूंगरपुर में कोरोना मरीजों की संख्या हुई 3, 65 वर्षीय बुजुर्ग भी कोरोना पॉजिटिव

डूंगरपुर में कोरोना मरीजों की संख्या हुई 3, 65 वर्षीय बुजुर्ग भी कोरोना पॉजिटिव

डूंगरपुर: जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 2 से बढ़कर अब तीन हो गई है. पहले से ही पॉजिटिव पिता-पुत्र के परिवार का एक अन्य बुजुर्ग सदस्य पॉजिटिव आया है. इधर डूंगरपुर जिले में एक और कोरोना पॉजिटिव मरीज के आने से प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग में हडकंप मच गया है. दरअसल, डूंगरपुर जिले के पारडा सोलंकी निवासी पिता-पुत्र के इंदौर से लौटने के बाद 27 मार्च को कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई थी इसके बाद से प्रशासन ने पारडा सोलंकी गांव में कर्फ्यू लगाते हुए पीड़ितों के परिवार के सदस्यों के साथ गांव के अन्य घरो में सर्वे करते हुए स्क्रीनिंग की थी.

VIDEO- Rajasthan Corona Update: प्रदेश में पिछले 12 घंटे में 4 नए मरीज और आए सामने, कुल पॉजिटिव संख्या पहुंची 83 

देर रात आई रिपोर्ट में 65 वर्षीय बुजुर्ग भी कोरोना पॉजिटिव निकला:
इधर दो दिन पहले होम क्वारेंटाईन में मौजूद 65 वर्षीय में कोरोना जैसे लक्षण आने पर उसे डूंगरपुर जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करते हुए उसके सेम्पल उदयपुर लेबोरटरी में भिजवाये थे. इधर देर रात आई रिपोर्ट में 65 वर्षीय बुजुर्ग भी कोरोना पॉजिटिव निकला. इधर सुबह स्वास्थ्य ने विभाग ने कोरोना स्वास्थ्य बुजुर्ग को भी उदयपुर मेडिकल कॉलेज में शिफ्ट कर दिया. वहीं उदयपुर लेबोरेट्री से देर रात को आई रिपोर्ट में कोरोना पुष्टि होने के बाद चिकित्सा दल रात को हो पारडा सोलंकी पंहुचा ओर फिर से घर-घर सर्वे शुरू किया. गौरतलब है कि डूंगरपुर जिले में अभी तक 8० कोरोना संदिग्ध आये है जिसमे से 3 पॉजिटिव केस सामने आये है. वहीं 66 की रिपोर्ट नेगेटिव और 11 की रिपोर्ट आना शेष है. 

अजमेर में तीन दिन में एक ही परिवार के 5 सदस्य कोरोना पॉजिटिव 

डूंगरपुर में एक युवक ने पेड़ से लटक कर की आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस 

डूंगरपुर में एक युवक ने पेड़ से लटक कर की आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस 

डूंगरपुर: प्रदेश के डूंगरपुर जिले के रामसागड़ा थाना क्षेत्र के माडा गांव में एक युवक ने पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मामले के मुताबिक माडा गांव निवासी 21 वर्षीय सतीश डामोर हनुमानगढ़ जिले में जीएनएम की पढ़ाई कर रहा था और हाल ही में 20 मार्च को अपने घर आया था. सतीश के पिता लक्ष्मण लाल ने बताया कि सतीश जब से घर आया था तब से गुमसुम रहता था. 

India Lockdown: वित्त मंत्री ने की घोषणा, उज्जवला स्कीम के तहत मुफ्त में मिलेंगे अगले 3 माह तक 3 गैस सिलेंडर 

पेड़ पर फंदे से लटका मिला:
गुरुवार सुबह जब सतीश कमरे में नहीं मिला तो उसकी तलाश की गई. कुछ देर बाद सतीश घर के पीछे पेड़ पर फंदे से लटका मिला. परिजन सतीश को फंदे से उतारकर जिला अस्पताल लेकर आए जहां पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. फिलहाल आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है, वहीं पुलिस ने पोस्टमार्टम की कार्रवाई के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है और मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

India Lockdown: वित्त मंत्रालय का ऐलान, महिला जनधन खाता धारकों को अगले 3 माह तक दिए जाएंगे 500 रुपए

पत्थर मार होली खेलने से दो दर्जन से अधिक लोग घायल, परंपरा के तहत बरसाए पत्थर

पत्थर मार होली खेलने से दो दर्जन से अधिक लोग घायल, परंपरा के तहत बरसाए पत्थर

डूंगरपुर: जिले के भीलूड़ा गांव में प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी धुलण्डी पर पत्थर मार होली खेली गई. इस खूनी होली में दो दर्जन से अधिक लोग घायल हुए. परंपरा के तहत भीलूड़ा व आसपास के गांवों से आये सैकड़ों लोग एकत्रित हुए. इसके बाद हाथों में पत्थर, गोफन और ढाल लिये ये लोग दो टोलियों में विभक्त हुए और होरिया के उद्घोष के साथ एक दूसरे की टोली पर पत्थर बरसाना शुरू कर दिया. करीब डेढ़ घंटे तक चली इस राड में दोनों पक्षो ने एक दूसरे पर जमकर पत्थर बरसाए.

मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार पर संकट, कांग्रेस विधायक आएंगे जयपुर 

मान्यता के चलते खेली जाती है खूनी होली:
इधर इस खूनी होली में 2 दर्जन लोग घायल हुए जिनका भीलूड़ा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार किया गया. वहीं गंभीर घायलों को सागवाड़ा रेफर किया गया. ग्रामीणों की माने तो हजारो वर्ष पूर्व तत्कालीन शासक ने एक पाटीदार जाति के व्यक्ति का हत्या कर दी था जिसके बाद उसकी पत्नी वहां सती हो गई थी. जिसने श्राप दिया था कि होली के पर्व पर यहा इस धरती पर इंसान का खून गिरना चाहिए नहीं तो गांव पर संकट आ जायेगा. वहीं इसी मान्यता को लेकर यहा के लोग इस खूनी खेल को खेलते आ रहे हैं. 

Madhya Pradesh Political crisis: आज दोपहर साढ़े 12 बजे BJP ज्वाइन कर सकते हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया 

कलयुगी मां की काली करतूत, नवजात को कपड़े में लपेटकर फेंका सड़क किनारे 

कलयुगी मां की काली करतूत, नवजात को कपड़े में लपेटकर फेंका सड़क किनारे 

डूंगरपुर: प्रदेश के डूंगरपुर जिले में मां की ममता उस वक्त शर्मसार हो गई, जब एक कलयुगी मां अपनी नन्ही सी जान को सड़क किनारे फेंक कर चली गई. मामला उजागर होने के बाद इलाके में सनसनी फैल गई. आपको बता दें कि शुक्रवार को कलयुगी मां कोतवाली थानान्तर्गत हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में सड़क किनारे नवजात को कपडे में लपेट कर फेंक गई. 

लोकसभा 11 मार्च तक स्‍थगित, हंगामे की जांच के लिए समिति गठित

नवजात की रोने की आवाज आई:
पुलिस के मुताबिक हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में अटल बिहारी वाजपेयी सभा भवन के पास नगरपरिषद का सफाईकर्मी सफाई कर रहा था, इस दौरान उसे सड़क किनारे एक नवजात की रोने की आवाज आई. उसने देखा कि सड़क के किनारे कपडे में एक नवजात लिपटी हुई थी.  

VIDEO: एयरपोर्ट पर मिले 2 कोरोना संदिग्ध! दुबई से पहुंचे थे जयपुर

जांच में जुटी पुलिस:
सूचना पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और नवजात को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया. पुलिस के मुताबिक नवजात के शरीर पर चोट के निशान है, जिसका उपचार किया जा रहा है. पुलिस ने अज्ञात महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. 

बालिका की मौत पर परिजनों ने किया हंगामा, झोलाछाप डॉक्टर पर लगाया लापरवाही का आरोप

बालिका की मौत पर परिजनों ने किया हंगामा, झोलाछाप डॉक्टर पर लगाया लापरवाही का आरोप

डूंगरपुर: प्रदेश के डूंगरपुर जिले के रामसागडा थाना क्षेत्र के रातापानी निवासी 8 वर्षीय बालिका की मौत पर परिजनों ने हंगामा कर दिया. परिजनों ने गामडी अहाडा गांव के झोलाछाप डॉक्टर पर ईलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है. पुलिस के मुताबिक रातापानी निवासी 8 वर्षीय बालिका के बीमार होने पर परिजन छात्रा को लेकर गामडी अहाडा में एक झोलाछाप के क्लिनिक में ले गए थे.

Coronavirus Updates: हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन राज्यसभा में बोले- अब तक 29 मामलों की पुष्टि, WHO के संपर्क में सरकार

झोलाछाप ने लगाया था बालिका को इंजेक्शन:
वहां पर झोलाछाप ने बालिका को इंजेक्शन लगाया था और उसके बाद तबियत बिगड़ने पर परिजन बालिका को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे थे, जहां पर बालिका ने ईलाज के दौरान दम तोड़ दिया. इसके बाद परिजन शव लेकर गामडी अहाडा झोलाछाप के क्लिनिक पर पहुंचे और इलाज में लापरवाही से मौत का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया.

कोरोनावायरस से इटली में मरने वालों का आंकड़ा 100 के पार, तबाही बनकर उभरा

सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंचे ओर परिजनों से समझाइश करते हुए शव को जिला अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया, जहां पर पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द किया, वहीं मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. 

डूंगरपुर में अवैध शराब पर कार्रवाई, एक कंटेनर से करीब 35 लाख की शराब जब्त, 2 आरोपी गिरफ्तार

डूंगरपुर में अवैध शराब पर कार्रवाई, एक कंटेनर से करीब 35 लाख की शराब जब्त, 2 आरोपी गिरफ्तार

डूंगरपुर: प्रदेश के डूंगरपुर जिले में अवैध शराब के खिलाफ पुलिस की ओर से चलाए जा रहे अभियान में बिछीवाड़ा थाना पुलिस को बड़ी सफलता मिली है.बिछीवाड़ा थाना पुलिस ने अवैध शराब से भरे कंटेनर को जप्त करते हुए 35 लाख रुपए की शराब बरामद की है, तो वहीं मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

सोशल मीडिया नहीं छोड़ेंगे पीएम मोदी, ट्विटर पर दी इसकी जानकारी

मिली थी अवैध शराब तस्करी की सूचना:
डूंगरपुर एसपी जय यादव ने बताया कि मुखबिर के जरिए NH8 पर अवैध शराब तस्करी की सूचना मिली थी जिस पर बिछीवाड़ा थाना पुलिस ने रतनपुर बॉर्डर पर नाकेबंदी की इस दौरान पुलिस ने एक कंटेनर को रुकवा कर उसकी तलाशी ली गई तो कंटेनर में भारी मात्रा में अवैध शराब भरी हुई थी. 

VIDEO: कोरोना वायरस को लेकर जयपुर समेत प्रदेशभर में 'अलर्ट', सीएम की समीक्षा बैठक के बाद केन्द्रीय मंत्रालय की VC

शराब की कीमत करीब 35 लाख रुपए:
जिस पर पुलिस ने कंटेनर चालक और खलासी को गिरफ्तार किया और कंटेनर से 334 कार्टन अवैध शराब के बरामद किए. एसपी यादव ने बताया कि ट्रक की कीमत 35 लाख रुपए बताई जा रही है. फिलहाल पुलिस आरोपियों से शराब तस्करी के संबंध में पूछताछ कर रही है.

नाबालिग लड़की के अपहरण और दुष्कर्म के दोषी को अदालत ने सुनाई 20 साल के कठोर कारावास की सजा

नाबालिग लड़की के अपहरण और दुष्कर्म के दोषी को अदालत ने सुनाई 20 साल के कठोर कारावास की सजा

डूंगरपुर: जिले की पॉक्सो कोर्ट ने नाबालिग का अपहरण कर दुष्कर्म के मामले में दोषी को 20 साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई है. वहीं मामले में दोषी पर 25 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है. विशिष्ठ लोक अभियोजक योगेश जोशी ने बताया की 9 मई 2019 को कोतवाली थाने में मामला दर्ज हुआ था. जिसमे बताया गया था कि आरोपी लक्ष्मण जो की नाबालिग का रिश्तेदार है. 

VIDEO: कोरोना वायरस की राजधानी जयपुर में दस्तक! SMS अस्पताल में मिला पॉजिटिव 

आरोपी रिश्तेदार ने गुजरात ले जाकर किया नाबालिग से दुष्कर्म:
आरोपी नाबालिग का अपहरण करके गुजरात ले गया था और उसके साथ वहा पर दुष्कर्म किया था. पीडिता की परिजनों की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी लक्ष्मण को गिरफ्तार किया था और कोर्ट में चालान पेश किया था. इसी मामले में पॉक्सो कोर्ट ने अंतिम सुनवाई करते हुए दोषी लक्ष्मण को 20 साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई वही 25 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया. 

VIDEO: विधानसभा में गूंजी मारवाड़ आदिवासी बोर्ड के गठन की मांग 

Open Covid-19