एसएमएस अस्पताल में सुरक्षा व्यवस्था रामभरोसे, अधिकांश जगहों पर तैनात अनफिट सुरक्षा गार्ड

Vikas Sharma Published Date 2019/09/09 09:46

जयपुर: प्रदेश के सबसे बड़े एसएमएस अस्पताल की सुरक्षा व्यवस्था "रामभरोसे" नजर आ रही है. अस्पताल प्रबन्धन ने वित्तीय कारणों का हवाला देते हुए हाल ही में एक्स सर्विसमैन से हटाकर सिविल एजेंसी को सुरक्षा का जिम्मा दिया है. नई एजेंसी ने अस्पताल में अधिकांश जगहों पर जिन गार्ड को लगाया है, वे पूरी तरह से अनफिट है. 

महिला सुरक्षा गार्ड को सौंप दिया जिम्मा:
हालात ये है कि अस्पताल में मुख्य प्रवेश द्वार पर अनफिट गार्ड न किसी को रोक रहे है और न ही उन्हें अस्पताल की कोई जानकारी है. ओपीडी से लेकर आईपीडी तक कई ऐसी संवेदनशील जगह है, जहां हर समय जबरदस्त भीड़ और लपकों का आतंक रहता है. ऐसी जगहों पर एजेंसी ने महिला सुरक्षा गार्ड को जिम्मा सौंप दिया है. ऐसे में अस्पताल में ओपीडी से लेकर वार्ड तक में व्यवस्था पूरी तरह बेपटरी होती नजर आ रही है. वार्ड में मौजूद चिकित्सकों के लिए सबसे बड़ी समस्या ये खड़ी हो गई है कि खानापूर्ति की सिक्योरिटी के चलते लोगों की जबरदस्त आवाजाही मरीज के आसपास होने लगी है. 

फिर से भूतपूर्व सैनिक लगाने की शुरू हुई कवायद:
कई पाइंट तो ऐसे भी देखने को मिल रही है, जहां के लिए गार्ड नियुक्त तो है, लेकिन एजेंसी ने पैसा बचाने के लिए उन पाइंट को खाली ही छोड़ दिया है. अस्पताल में अनफिट सुरक्षाकर्मियों के लिए बेपटरी हो रही व्यवस्था को लेकर प्रबन्धन स्तर तक शिकायतों का अम्बार लग गया है. ऐसे में अब हरकत में आया प्रशासन दावा कर रहा है कि फेजवाइज फिर से भूतपूर्व सैनिकों को लगाने की कवायद शुरू कर दी गई है. रेस्को के जरिए भूतपूर्व सैनिक लिए जा रहे है.

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in