Live News »

सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा, सरपंच बनने की राह में बाधा बना तो उतार दिया मौत के घाट

सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा, सरपंच बनने की राह में बाधा बना तो उतार दिया मौत के घाट

डूंगरपुर: जिले में जब एक व्यक्ति सरपंच बनने की राह में बाधा बना तो विरोधी ने उसे मौत के घाट उतार दिया. डूंगरपुर पुलिस ने इस सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार गिया है. एसपी जय यादव ने बताया कि धम्बोला थाना क्षेत्र के डुका गांव में गत 3 जून की रात को दो अज्ञात व्यक्तियों ने घर के बाहर सो रहे कुबेर सिंह की तलवार के वार हत्या कर दी थी और फरार हो गए थे. मामले में पुलिस ने अनुसंधान करते हुए गांव के ही जेसा रामा और जैसा धीरा नाम के दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है. 

इस चुनाव में आरोपी 3 वोट से हार गया: 
पुलिस पूछताछ में सामने आया कि वर्ष 2015 के चुनाव में जेसा रामा, मृतक कुबेर सिंह और तीसरा व्यक्ति कल्याणसिंह सरपंच पद के उम्मीदवार थे. इस चुनाव में आरोपी जेसा रामा 3 वोट से हार गया था वही कल्याणसिंह चुनाव जीत गया था. इसके बाद से आरोपी जेसा रामा कुबेरसिंह को अपनी हार का कारन मानते हुए दुश्मनी पाल रहा था. आगामी पंचायत चुनाव में भी आरोपी जेसा रामा सरपंच का चुनाव लड़ना चाह रहा था लेकिन उसे डर था कि इस बार भी कुबेरसिंह पंचायत चुनाव में उसका खेल बिगाड़ सकता है. इसी डर के चलते जेसा रामा ने अपने साथी जेसा धीरा के साथ मिलकर घर के बाहर सो रहे कुबेर की तलवार से गला काटकर हत्या कर दी थी. एसपी जय यादव ने बताया कि आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल लिया है. वहीं वारदात में प्रयुक्त तलवार की बरामदगी के प्रयास किये जा रहे है. 

और पढ़ें

Most Related Stories

डूंगरपुर: प्रवासी मजदूरों ने बढ़ाई चिंता, 307 पहुंचा पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा

डूंगरपुर: प्रवासी मजदूरों ने बढ़ाई चिंता, 307 पहुंचा पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा

डूंगरपुर: जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 307 पहुंच गया है. आज सुबह जारी बुलेटिन में 6 नए रोगी सामने आये. जिले में प्रवासियों के आने के बाद से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण ने जिला प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है. जिले में अभी भी 14 हजार प्रवासी ऐसे है जिनका अभी भी 14 दिन का होम क्वारेंटाईन का समय पूरा नहीं हुआ है. जिन पर प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग पूरी निगरानी बनाये हुए है. इधर अब जिला प्रशासन ने गांव-गांव में सर्वे करवाते हुए रेंडमली सेम्पलिंग का कार्य शुरू कर दिया है.

सादुलपुर थानाधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई ने अपने क्वार्टर में फंदा लगाकर की आत्महत्या 

कुछ प्रवासी ऐसे भी जो की चोरी छिपे अपने घर पहुंचे: 
डूंगरपुर जिला कलेक्टर कानाराम ने बताया की जिले में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 307 हो चुका है. जिसमे सबसे अधिक संख्या महाराष्ट्र व गुजरात से आये प्रवासियों की है. उन्होंने बताया की बाहर से आये प्रवासी को संस्थागत क्वारेंटाईन सेंटर्स में थे उन सब की सेम्पलिंग पूरी होकर रिपोर्ट भी आ चुकी है. वहीं कुछ प्रवासी ऐसे भी जो की चोरी छिपे अपने घर पहुंच चुके है इसके लिए प्रत्येक ब्लाक में सर्वे का कार्य करते हुए लोगों के रेंडमली सेम्पलिंग करने का कार्य भी शुरू कर दिया है.

1200 KM साइकिल चलाकर घायल पिता को लेकर बिहार पहुंची 15 साल की ज्योति, इवांका ट्रंप भी हुई मुरीद 

सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करने की अपील: 
इधर जिले में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिला कलेक्टर ने फ्रंटलाइन वर्कर्स को सुरक्षा उपकरणों के उपयोग करने के साथ-साथ जिलेवासियों से संक्रमण से बचाव के लिए मास्क लगाने व सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करने की अपील की है. गौरतलब है की डूंगरपुर जिले में अब तक 307 केस पॉजिटिव आये है. जिनमे 283 पॉजिटिव प्रवासी है. 

डूंगरपुर में लगातार बढ़ता जा रहा कोरोना संक्रमण का ग्राफ, कोरोना के 28 नए मामले आए सामने

डूंगरपुर में लगातार बढ़ता जा रहा कोरोना संक्रमण का ग्राफ, कोरोना के 28 नए मामले आए सामने

डूंगरपुर: जिले में कोरोना संक्रमण का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है. इस बीच एक बार फिर परेशान कर देने वाली खबर भी आई है. आज आई रिपोर्ट में कोरोना के 28 नए मामले सामने आए हैं. वहीं इस सूचि में एसपी बंगले के गेट पर तैनात गार्ड सहित तीन पुलिसकर्मी है, वहीं पुलिस लाइन का नाई और उसका साला भी संक्रमित पाए गए हैं. इस सूचना के साथ ही पूरे पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है.

Rajasthan Corona Updates:  पिछले 12 घंटे में तीन मौतें, 83 नए पॉजिटिव केस आए सामने 

पुलिसकर्मियों और अन्य लोगों के भी सैंपल लिए गए थे:
दरअसल 2 दिन पहले कोविड-19 वार्ड के गेट पर तैनात पुलिस जवान संक्रमित पाया गया था. उसके बाद संक्रमित जवान के संपर्क में आए पुलिसकर्मियों और अन्य लोगों के भी सैंपल लिए गए थे. इसी कड़ी में संक्रमित जवान के सहयोगी 3 अन्य पुलिस के जवान बीती रात जारी हुई लिस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं. वहीं 3 दिन पहले संक्रमित जवान के बाल काटने वाला नाई और उसका साला भी कोरोना पोजिटिव हो गया है.

लॉकडाउन 4 के बीच राज्यसभा चुनाव की कवायद, राजनीतिक गतिविधियां तेज 

3 जवानों में से एक जवान एसपी के बंगले के गेट पर गार्ड:
संक्रमित 3 जवानों में से एक जवान एसपी के बंगले के गेट पर गार्ड है. वहीं दूसरा कलेक्ट्री गेट पर गार्ड की ड्यूटी कर रहा था तथा तीसरा जवान चीतरी क्षेत्र में तैनात है. इधर आज आये शेष पॉजिटिव प्रवासी है जो की अलग-अलग क्वारेंटाईन सेंटर्स पर थे. इधर डूंगरपुर जिले में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमित ग्राफ ने जिला प्रशासन की नींद उड़ा रखी है. डूंगरपुर जिले में अब पॉजिटिव का कुल आंकड़ा 260 तक पहुंच गया है. 

मुंबई से डूंगरपुर पहुंचा कोरोना संक्रमण, 18 नए प्रवासी पाये गए कोरोना संक्रमित, कुल मरीजों की संख्या पहुंची 60 

मुंबई से डूंगरपुर पहुंचा कोरोना संक्रमण, 18 नए प्रवासी पाये गए कोरोना संक्रमित, कुल मरीजों की संख्या पहुंची 60 

डूंगरपुर: मुंबई से बड़ी संख्या में आए प्रवासियों के बाद जिले में लगातार दूसरे दिन भी कोरोना बम ब्लास्ट सामने आया है. रविवार सुबह आई रिपोर्ट में 18 नए प्रवासियों में कोरोनो पॉजिटिव की पुष्टि हुई है. ऐसे में जिले में कोरोना मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 60 तक पंहुच गया है.जिले में दो दिनों में कोरोना के 45 नए केस सामने आए है.

देशी शराब के ठेके के सेल्समैन की पत्थर से कुचल कर हत्या, अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज

इन क्षेत्रों में मिले कोरोना मरीज:
डूंगरपुर मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी विभाग से रविवार सुबह आई रिपोर्ट में 18 नए कोरोना पॉजिटिव केस की पुष्टि हुई है. इसमें सर्वाधिक 16 पॉजिटिव केस सागवाड़ा क्षेत्र से है. रातड़िया से 5, खुटवाड़ा से 3, खुमानपुरा से 2, ओबरी, गरियाता, उटिया, कानपुर व सागवाड़ा से 1-1 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए है. इसके अलावा एक केस धंबोला थाना क्षेत्र के घुवेड गांव से है. वहीं एक केस डूंगरपुर उपखंड क्षेत्र से है. 

6 मरीज ठीक होकर पंहुच चुके है घर: 
आपको बता दे कि 15 मई को डूंगरपुर जिले में 400 से ज्यादा प्रवासी मुंबई से डूंगरपुर लौटे थे. इसके बाद इन सभी प्रवासियों को कोविड केयर सेंटर में रखा गया था और उनके सैंपल लिए गए थे. अब जांच रिपोर्ट में कोरोना पॉजिटिव के आंकड़े बढ़ते जा रहे है. दो दिनों में अब तक 45 प्रवासी कोरोना पॉजिटिव आ चुके है. जबकि जिले में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा भी बढ़कर 60 हो चुका है, हालांकि इसमें से 6 मरीज ठीक होकर घर पंहुच चुके है.

राजस्थान में बनेगा लेबर एम्पलॉयमेंट एक्सचेंज, उद्योगों को श्रमिक और श्रमिकों को मिलेगा रोजगार

लॉकडाउन में फंसे लोगों की घर वापसी, रोजगार के लिए गए थे गुजरात और महाराष्ट्र 

लॉकडाउन में फंसे लोगों की घर वापसी, रोजगार के लिए गए थे गुजरात और महाराष्ट्र 

डूंगरपुर: कोरोना संक्रमण की वजह से देशभर में लॉकडाउन है. ऐसे में गुजरात, महाराष्ट्र सहित अन्य प्रदेशों में रोजगार करने को गए लोग बेरोजगार होकर डूंगरपुर अपने घर लोट आए हैं. इनके सामने आने वाले समय में रोजी-रोटी का संकट न हो, इस उद्देश्य से गुजरात से आये लीलवासा ग्राम पंचायत के जसपुर झापका गांव के कुछ लोग अब आठ वर्ष से अधिक समय से बंजर और नकारा पड़ी जमीन पर गन्ने की खेती करने में जुटे हुए हैं.

कोटा में आज भी तीन कोरोना पॉजिटिव आए सामने, 212 पहुंची मरीजों की संख्या

खेती छोड़कर गए थे गुजरात और महाराष्ट्र:
गुजरात से लौटे राजेन्द्र मीणा ने बताया की सोम कमला आंबा बांध की नहर में सीपेज के चलते करीब 20 से 25 बीघा जमीन कृषि भूमि बंजर हो गई थी, जिसके बाद हम सब खेती छोड़कर रोजगार के लिए गुजरात और महाराष्ट्र चले गए थे.

रोजी रोटी का संकट पैदा न हो:
इधर लॉकडाउन की वजह से गुजरात से 70 लोग परिवार सहित गांव वापस लौटे और सभी ने बैठक कर इस जमीन पर गन्ने की खेती का निर्णय लिया. इधर निर्णय करने के बाद अब सभी लोग इस बंजर भूमि पर गन्ने की खेती में जुटे हुए है ताकि लोक डाउन के वजह से आने वाले समय उनके और उनके परिवारों के समक्ष रोजी रोटी का संकट पैदा न हो.  

VIDEO: आखिर लंबे इंतजार बाद फिर शुरू हो गई मधुशाला ! दुकानें खुलते ही पहुंच गए शराब के दीवाने

डूंगरपुर में नदी में डूबने से 2 युवकों की मौत, पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंपा

डूंगरपुर में नदी में डूबने से 2 युवकों की मौत, पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंपा

डूंगरपुर: प्रदेश के डुंगरपुर जिले के निठाउवा थाना क्षेत्र में वलाई गांव के पास माही नदी में डूबने से दो युवकों की मौत हो गई. पुलिस के मुताबिक बांसवाड़ा जिले के मोटागांव निवासी 20 वर्षीय भाविक और 19 वर्षीय कल्पेश उर्फ प्रिंस कलाल 15 अप्रैल अपनी दादी के मौत के बाद समाजिक रस्म सूतकारा निभाने के लिए रणछोड़ मंदिर के पास श्मशान घाट गए थे.

Covid-19 Updates: उत्तराखंड के 9 माह के बच्चे ने कोरोना को हराया, महज 6 दिन में ठीक हुआ बच्चा

डूबने से हुई मौत:
जहां पर मुंडन करवाने के बाद दोनों माही नदी में नहाने वलाई पुल के पास पहुंच गए. जहां नहाते समय दोनों पानी में डूबने लगे, वहीं उनके चिल्लाने पर परिजन समेत अन्य ग्रामीण नदी में कूदे पर इससे पहले उनकी मौत हो गई.

पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंपा:
फिलहाल दोनों के शव को आसपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाये गए है जहां निठाउवा थाना प्रभारी लालसिंह मय जाप्ता पहुंचे और आवश्यक कार्रवाई के बाद पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सुपर्द किए. गौरतलब है कि दोनों मृतक परिवार के चिराग थे जो बुझ गए.

डूंगरपुर में दो परिवारों में पुरानी रंजिश को लेकर विवाद,बुजुर्ग महिला को मारा जोर से धक्का, हुई मौत

डूंगरपुर में दो परिवारों में पुरानी रंजिश को लेकर विवाद,बुजुर्ग महिला को मारा जोर से धक्का, हुई मौत 

डूंगरपुर में दो परिवारों में पुरानी रंजिश को लेकर विवाद,बुजुर्ग महिला को मारा जोर से धक्का, हुई मौत 

डूंगरपुर: प्रदेश के डूंगरपुर जिले के दोवडा थाना क्षेत्र के रामपुर बियोला गांव में दो परिवारों में पुरानी रंजिश को लेकर विवाद हो गया. इस दौरान बीच बचाव करने आई एक बुजुर्ग महिला को दुसरे पक्ष के दो भाइयो ने जोर से धक्का मारा, जिससे महिला नीचे गिर गई और उसकी मौत हो गई.

विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, ससुराल वालों के दहेज मांग से थी परेशान

बुजुर्ग महिला को जोर से धक्का मारा:
इधर घटना के बाद दोनों आरोपी फरार हो गए. पुलिस के मुताबिक रामपुर बियोला गाँव में दो परिवारों के बीच पुरानी रंजिश चल रही है. इसी रंजिश के चलते उनके बीच विवाद हो गया इस दौरान एक पक्ष की बुजुर्ग महिला बीच बचाव करने आई तो दुसरे पक्ष के प्रकाश और अमृत कलासुआ ने बुजुर्ग महिला को जोर से धक्का मारा और महिला नीचे गिर गई और उसकी मौके पर ही मौत हो गई.

आरोपियों की तलाश जारी:
सुचना पर पुलिस मौके पर पहुंचे और शव को जिला अस्पताल की मोर्चरी में पहुंचाया. जहां  पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द किया वही ह्त्या का मामला दर्ज करते हुए दोनों आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है. 

राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस: पीएम मोदी ने की देशभर के सरपंचों से बातचीत, कहा-गांवों ने दिया दो गज दूरी का संदेश

बिना मास्क लगाए घूमने वालों पर पुलिस की कार्रवाई, डूंगरपुर में एक युवक गिरफ्तार 

बिना मास्क लगाए घूमने वालों पर पुलिस की कार्रवाई, डूंगरपुर में एक युवक गिरफ्तार 

डूंगरपुर: प्रदेश के डूंगरपुर जिले में बिना मास्क लगाए घूमने वाले लोगों पर पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है. इसी कडी में कोतवाली थाना पुलिस ने शहर में एक मेडिकल स्टोर पर बिना मास्क लगाए दवाइयां बेचने पर एक युवक के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया. 

मॉडिफाइड लॉकडाउन के तहत खुली जरूरत के सामान की दुकानें, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना

आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत मामला दर्ज:
कोतवाली थाना इंचार्ज चांदमल सिंगारिया ने बताया कि सरकार के आदेश अनुसार हर व्यक्ति ओर दुकानदार को मास्क लगाना अनिवार्य है, लेकिन शहर में जिला अस्पताल के सामने रिद्धि-सिद्धि मेडिकल स्टोर पर स्टोर संचालक की अनुपस्थिति में अक्षय श्रीमाली नाम का युवक बिना मास्क लगाए लोगो को दवाई बेचते नजर आया जिस पर पुलिस ने आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत मामला दर्ज करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस जुटी जांच में:
प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया है कि अक्षय श्रीमाली के पास दवा बेचने संबंधी कोई डिग्री नहीं है और वो दवा बेचने के लिए अधिकृत नहीं हो सकता. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है.

Covid-19 Updates: दिल्ली में एक कारोबारी की कोरोना से मौत, जांच रिपोर्ट आई पॉजिटिव!

डूंगरपुर में जिला प्रशासन की कुशल कार्ययोजना, सात दिन बाद भी नहीं आया नया कोरोना पॉजिटिव

डूंगरपुर में जिला प्रशासन की कुशल कार्ययोजना, सात दिन बाद भी नहीं आया नया कोरोना पॉजिटिव

डूंगरपुर: जिला प्रशासन ने अपनी कुशल कार्ययोजना के चलते कोरोना पर विजय पाई है. जिले में सात दिन बाद भी कोई नया पॉजिटिव केस सामने नहीं आये है. वहीं अब तक आये 5 पॉजिटिव मरीजों की रिपोर्ट अब नेगेटिव आ चुकी है. पांच में से चार की दो बार रिपोर्ट नेगेटिव आई है तो वहीं एक की रिपोर्ट एक बार नेगेटिव आई है. जिन्हें उदयपुर के मेडिकल कॉलेज अस्पताल के पॉजिटिव वार्ड से अब नेगेटिव वार्ड में शिफ्ट किया गया है. 

राजधानी जयपुर में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच चार श्रेणी में बांटे गए मरीज, अलग-अलग अस्पताल किए चिन्हित 

जिले में कोरोना की दस्तक के बाद से ही कड़े कदम उठाये गए:
जिला कलक्टर कानाराम ने बताया की डूंगरपुर जिले में सबसे पहले 27 मार्च को पिता-पुत्र दो पॉजिटिव केस सामने आये थे वहीं उसके  बाद 31 मार्च को एक और 6 अप्रैल को फिर दो केस पॉजिटिव आये थे. कलक्टर ने बताया की जिले में कोरोना की दस्तक के बाद से ही कड़े कदम उठाये गए जिसके तहत पॉजिटिव केस वाले व्यक्तियों के क्षेत्रो में कर्फ्यू लगाया. वहीं उनके सम्पर्क में आये लोगो व क्षेत्रवासियों के घरो में सर्वे करवाते हुए स्क्रीनिंग करवाई गई. 

रामगंज थाने के 2 कांस्टेबलों की रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव, थानाधिकारी ने कहा- जंग जारी रहेगी 

जिलेभर में अब तक दो बार स्क्रीनिंग हो चुकी:
कलक्टर ने बताया की इसके अलावा जिला प्रशासन ने कदम उठाते हुए जिलेभर में स्वास्थ्य टीमे लगाते हुए लोगों की स्क्रीनिंग करवाई गई. जिसमे 53 हजार लोग ऐसे भी थे जो की अन्य राज्यों से डूंगरपुर से लौटे थे. कलक्टर कानाराम ने बताया की जिलेभर में अब तक दो बार स्क्रीनिंग हो चुकी है. वही इसके बाद जिला प्रशासन अब पल्स पोलियो अभियान की तर्ज पर बूथ वार टीमे बनाकर माइक्रो स्क्रीनिंग करवाई जा रही है. कलक्टर ने बताया की जिले में अब तक 421 संदिग्ध लोगों के सेम्पल लेकर जांच करवाई थी इसमें से 382 सेम्प्ल्स की रिपोर्ट नेगेटिव आई है. वही 34 रिपोर्ट का अभी इन्तजार है. 

Open Covid-19