मुंबई शेयर बाजारों में तेजी का रुख जारी, सेंसेक्स, निफ्टी नई ऊंचाइयों पर, बैंक और आईटी शेयर चमके

शेयर बाजारों में तेजी का रुख जारी, सेंसेक्स, निफ्टी नई ऊंचाइयों पर, बैंक और आईटी शेयर चमके

शेयर बाजारों में तेजी का रुख जारी, सेंसेक्स, निफ्टी नई ऊंचाइयों पर, बैंक और आईटी शेयर चमके

मुंबईः शेयर बाजारों में मंगलवार को लगातार दसवें दिन तेजी रही और बीएसई सेंसेक्स 261 अंक उछलकर नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ. एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी, एक्सिस बैंक और टीसीएस की अगुवाई में यह तेजी आई.

सेंसेक्स में 260 और निफ्टी 66 अंकों की रही तेजीः
कारोबार की शुरुआत में नकारात्मक रुख के बावजूद 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स शुरूआती गिरावट से उबरते हुए अंत में 260.98 अंक यानी 0.54 प्रतिशत की तेजी के साथ 48,437.78 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 48,486.24 अंक का उच्चस्तर और 48,215.60 अंक का निचला स्तर भी छुआ. इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 66.60 अंक यानी 0.47 प्रतिशत की तेजी के साथ 14,199.50 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान एक समय यह 14,215.60 अंक तक चढ़ गया था.

एक्सिस बैंक के शेयरों को रहा सर्वाधिक लाभः
सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक लाभ में एक्सिस बैंक रहा. इसमें 6 प्रतिशत से अधिक की तेजी दर्ज की गई. इसके अलावा एचडीएफसी, इंडसइंड बैंक, टीसीएस, एशियन पेंट्स, टाइटन, एचसीएल टेक और आईसीआईसीआई बैंक लाभ में रहे. दूसरी तरफ, जिन शेयरों में गिरावट दर्ज की गयी, उनमें ओएनजीसी, बजाज फाइनेंस, एनटीपीसी, महिंद्रा एंड महिंद्रा और रिलायंस इंडस्ट्रीज शामिल हैं.

बैंक और आईटी कंपनियों की अगुवाई में बाजार में आई तेजीः
रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीतिक मामलों के प्रमुख विनोद मोदी ने कहा कि आज बाजार शुरूआती गिरावट से उबरते हुए मजबूत हुआ. मुख्य रूप से बैंक और आईटी कंपनियों की अगुवाई में यह तेजी आई. उन्होंने कहा कि कोविड-19 मामलों में सुधार के साथ जल्दी ही टीकाकरण शुरू होने तथा बेहतर आर्थिक आंकड़ों से बाजार पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा. टीसीएस के तीसरी तिमाही के वित्तीय परिणाम से पहले आईटी कंपनियों के शेयरों में लिवाली देखी गई.

जापान का निक्की नुकसान में रहाः
एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई कंपोजिट, दक्षिण कोरिया का कोस्पी और हांगकांग के हैंगसेंग में तेजी रही जबकि जापान का निक्की नुकसान में रहा. शुरूआती कारोबार में एशिया के अन्य बाजारों में मिला-जुला रुख रहा. इस बीच, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा 0.69 प्रतिशत मजबूत होकर 51.44 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया.
सोर्स भाषा

और पढ़ें