यादगार शुक्रवार: सेंसेक्स रिकॉर्ड ऊंचाई पर, कंपनियों का बाजार पूंजीकरण भी नए रिकॉर्ड स्तर पर

यादगार शुक्रवार: सेंसेक्स रिकॉर्ड ऊंचाई पर, कंपनियों का बाजार पूंजीकरण भी नए रिकॉर्ड स्तर पर

यादगार शुक्रवार: सेंसेक्स रिकॉर्ड ऊंचाई पर, कंपनियों का बाजार पूंजीकरण भी नए  रिकॉर्ड स्तर पर

नई दिल्ली: बड़ी कंपनियों के शेयरों में लिवाली और सकारात्मक वैश्विक रुख से शुक्रवार को बीएसई के 30 शेयरों वाले सेंसेक्स ने अपने सर्वकालिक उच्चस्तर 52,641.53 अंक को छुआ. दिन में कारोबार के दौरान सेंसेक्स अब तक के सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंचा और कारोबार की समाप्ति पर यह सर्वकालिक उच्चस्तर 52,474.76 अंक पर बंद हुआ. इससे एशिया के सबसे बड़े एक्सचेंज की सभी सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) 2,31,11,214.71 करोड़ रुपये के रिकॉर्ड स्तर पहुंच गया. पिछले सिर्फ दो दिन में निवेशकों की पूंजी 3,26,165.82 करोड़ रुपए बढ़ी है.

शुक्रवार को सेंसेक्स 174.29 अंक या 0.33 प्रतिशत की बढ़त के साथ 52,474.76 अंक के अपने नए रिकॉर्डस्तर पर बंद हुआ. दिन में कारोबार के दौरान एक समय सेंसेक्स 341.06 अंक चढ़कर 52,641.53 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंच गया था. यस सिक्युरिटीज में इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज के वरिष्ठ अध्यक्ष और शोध प्रमुख अमर अंबानी ने कहा कि व्यापक आधार पर बाजार काफी मजबूती में है. सेंसेक्स में शामिल 10 बड़ी कंपनियां इसमें भागीदारी बढ़ा सकतीं हैं. रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले ही बढ़त के रास्ते पर है. इससे भारतीय शेयरों को और मजबूती मिलेगी.

अंबानी का मानना है कि बाजार भविष्य को ध्यान में रखते हुये बढ़ रहा है. उसकी उम्मीद है कि 2021 में बड़ी संख्या में वयस्कों को टीका लगा जाएगा और लॉकडाउन खुलने के साथ अर्थव्यवस्था तेजी से आगे बढ़ेगी. कंपनियों के चौथी तिमाही के परिणाम भी उत्साहवर्धक रहे हैं.जियोजित फाइनेंसियल सविर्सिज के मुख्य रनिवेश रणनीतिकार वी के विजयकुमार ने कहा कि सेंसेक्स में आज की तेजी की सूत्रधार अमेरिकी बाजार रहा जहां एसएण्डपी-500 सूचकांक रिकार्ड ऊंचाई पर पहुंच गया. देश के सबसे पहले इक्विटी सूचकांक सेंसेक्स की शुरुआत 1986 में हुई थी. 25 जुलाई 1990 को यह 1,000 अंक से ऊपर बंद हुआ था. उसके बाद 16 साल बाद यह 10,000 अंक से ऊपर निकला.

और पढ़ें