मुंबई Share Market: सेंसेक्स 372 अंक और टूटा, निफ्टी 16,000 अंक के स्तर से फिसला

Share Market: सेंसेक्स 372 अंक और टूटा, निफ्टी 16,000 अंक के स्तर से फिसला

Share Market: सेंसेक्स 372 अंक और टूटा, निफ्टी 16,000 अंक के स्तर से फिसला

मुंबई: यूरोपीय बाजारों के कमजोर रुख के बीच स्थानीय शेयर बाजार में बुधवार को लगातार तीसरे दिन गिरावट आई और सेंसेक्स 372 अंक टूट गया. बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 372.46 अंक यानी 0.69 प्रतिशत गिरकर 53,514.15 अंक पर बंद हुआ. इसी तरह नेशनल स्टॉक का निफ्टी भी 91.65 अंक यानी 0.57 प्रतिशत की गिरावट के साथ 16,000 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे 15,966.65 अंक पर आ गया.

सेंसेक्स कारोबार की शुरुआत में मजबूती पर खुला और दिन चढ़ने के साथ यह 54,211.22 अंक की ऊंचाई तक पहुंच गया. लेकिन यह अपनी बढ़त को कायम नहीं रखा पाया और यूरोपीय बाजारों के नरम पड़ने से 750 अंक तक लुढ़क गया. अंत में यह 53,514.15 अंक पर बंद हुआ. सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी, भारती एयरटेल, एचडीएफसी बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, टीसीएस, टाइटन और एचसीएल टेक्नोलॉजीज सर्वाधिक नुकसान में रहीं. वहीं हिंदुस्तान यूनिलीवर, एशियन पेंट्स, सन फार्मा, कोटक महिंद्रा बैंक, एनटीपीसी और नेस्ले फायदे के साथ बंद हुईं. जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘घरेलू अर्थव्यवस्था के मजबूत वृहद आंकड़ों और कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट से भारतीय सूचकांक बढ़त के साथ खुले थे लेकिन यूरोपीय बाजारों के नकारात्मक रुख ने इनकी तेजी को रोक दिया. 

अमेरिका के मुद्रास्फीति के आंकड़े आने से पहले वैश्विक बाजारों में बिकवाली का जोर रहा. एशिया के बाजारों में चीन का शंघाई कंपोजिट, दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और जापान का निक्की बढ़त के साथ बंद हुए जबकि हांगकांग के हैंगसेंग में हल्की गिरावट दर्ज हुई. यूरोप के बाजारों में दोपहर के सत्र में गिरावट देखी जा रही थी. अमेरिकी बाजार भी मंगलवार को सुस्त रहे. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड एक प्रतिशत बढ़कर 100.5 डॉलर प्रति बैरल पर रहा. विदेशी संस्थागत निवेशकों का भारतीय बाजारों से निकासी का सिलसिला जारी है. उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी निवेशकों ने मंगलवार को 1,565.68 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे. सोर्स- भाषा

और पढ़ें