मुंबई Sensex Market: बाजार में चार दिन से जारी गिरावट थमी, सेंसेक्स 344 अंक चढ़ा

Sensex Market: बाजार में चार दिन से जारी गिरावट थमी, सेंसेक्स 344 अंक चढ़ा

Sensex Market: बाजार में चार दिन से जारी गिरावट थमी, सेंसेक्स 344 अंक चढ़ा

मुंबई: घरेलू शेयर बाजारों में पिछले चार दिनों से जारी गिरावट का सिलसिला शुक्रवार को थम गया और उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में सेंसेक्स 344 अंक की वृद्धि के साथ बंद हुआ. एफएमसीजी, वाहन और पूंजीगत वस्तुओं से जुड़ी कंपनियों के शेयर में लिवाली से तेजी आई. तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 344.63 अंक यानी 0.65 प्रतिशत चढ़कर 53,760.78 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह एक समय 395.22 अंक तक चढ़ गया था. 

इसी तरह, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी फिर से 16,000 अंक के ऊपर पहुंचने में सफल रहा. निफ्टी 110.55 अंक यानी 0.69 प्रतिशत की बढ़त के साथ 16,049.20 अंक पर बंद हुआ. इस तरह साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स में कुल 721 अंक यानी 1.32 प्रतिशत और निफ्टी में 171 अंक यानी 1.11 प्रतिशत की गिरावट आई है. शेयर बाजारों में अभी भी उतार-चढ़ाव का दौर जारी है लेकिन एफएमसीजी, वाहन, पूंजीगत वस्तुओं से जुड़ी कंपनियों और चुनिंदा बैंकों के शेयर में कारोबार के अंतिम घंटे के दौरान लिवाली से बाजार लाभ के साथ बंद हुआ. सेंसेक्स के शेयरों में हिंदुस्तान यूनिलीवर, टाइटन, मारुति, लार्सन एंड टूब्रो, एचडीएफसी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, नेस्ले और भारती एयरटेल प्रमुख रुप से लाभ में रहे. वहीं, टाटा स्टील, पावर ग्रिड, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, विप्रो, डॉ रेड्डीज और एक्सिस बैंक के शेयर गिरावट के साथ बंद हुए. जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘बाजार में फिर से उतार-चढ़ाव का दौर आ गया है और अमेरिकी मुद्रास्फीति में वृद्धि के बीच निवेशक फेडरल बैंक के अगले कदम पर अपनी नजर बनाए हुए है.’’ उन्होंने कहा कि कच्चे तेल की कीमतों में नरमी और विदेशी संस्थागत निवेशकों की बिकवाली में कमी से भी घरेलू शेयर बाजार को समर्थन मिला. 

वहीं, सूचना प्रौद्योगिकी कंपनियों के नतीजे उम्मीद के उलट रहने और रुपये में कमजोरी तथा वैश्विक मंदी की आशंका बाजार में वृद्धि को सीमित कर रहे हैं.’’ व्यापार बाजार में बीएसई का मिडकैप सूचकांक 0.84 प्रतिशत और स्मॉलकैप सूचकांक 0.52 प्रतिशत चढ़ गया. एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और जापान का निक्की बढ़त के साथ बंद हुए जबकि चीन के शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे. यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में मजबूती का रुख रहा. अमेरिका में शेयर बाजार बृहस्पतिवार को मिले-जुले रुख के साथ बंद हुए. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.60 प्रतिशत की बढ़त लेकर 99.72 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक गुरुवार को शुद्ध खरीदार रहे. उन्होंने 309.06 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे. सोर्स- भाषा

और पढ़ें