Business Update: वैश्विक स्तर पर बिकवाली दबाव से सेंसेक्स 525 अंक लुढ़का, निफ्टी 17,400 से नीचे

Business Update: वैश्विक स्तर पर बिकवाली दबाव से सेंसेक्स 525 अंक लुढ़का, निफ्टी 17,400 से नीचे

Business Update: वैश्विक स्तर पर बिकवाली दबाव से सेंसेक्स 525 अंक लुढ़का, निफ्टी 17,400 से नीचे

मुंबई: वैश्विक स्तर पर बिकवाली दबाव के बीच बीएसई सेंसेक्स सोमवार को 525 अंक लुढ़क गया. एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी, टाटा स्टील और आईसीआईसीआई बैंक में भारी नुकसान से बाजार में गिरावट आयी. तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 524.96 अंक यानी 0.89 प्रतिशत की भारी गिरावट के साथ 58,490.93 अंक पर बंद हुआ. इसी प्रकार, एनएसई निफ्टी 188.25 अंक यानी 1.07 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,396.90 अंक पर बंद हुआ.

10 प्रतिशत की गिरावट के साथ सर्वाधिक नुकसान में टाटा स्टील को हुआ
सेंसेक्स के शेयरों में करीब 10 प्रतिशत की गिरावट के साथ सर्वाधिक नुकसान में टाटा स्टील रहा. इसके अलावा, एसबीआई, इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी, डा. रेड्डीज और महिंद्रा एंड महिंद्रा भी प्रमुख रूप से नुकसान में रहें. दूसरी तरफ लाभ में रहने वाले शेयरों में एचयूएल, बजाज फिनसर्व, आईटीसी और एचसीएल टेक शामिल हैं. जुलियस बेअर के कार्यकारी निदेशक मिलिंद मुचाला ने कहा कि ऐसा लगता है कि अंतत: भारतीय बाजार में तेजी पर कुछ अंकुश लगा है. इसका प्रमुख कारण वैश्विक बाजारों में बिकवाली दबाव है. उन्होंने कहा कि निवेशकों के मन में दो चीजें चल रही हैं. पहला, फेडरल रिजर्व की बैठक और चीन में जमीन जायदाद के विकास से जुड़ी एक प्रमुख कंपनी पर दबाव के कारण रियल एस्टेट बाजार में अनिश्चितता.

यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी दोपहर कारोबार में गिरावट का रुख रहा
मुचाला के अनुसार बाजार उत्सुकता से फेडरल रिजर्व के बांड खरीद कार्यक्रम में कमी को लेकर समयसीमा और मात्रा के बारे में स्पष्ट रुख का इंतजार कर रहा है. हमारा मानना है कि इस सप्ताह होने वाली बैठक में बांड खरीद में कमी के बारे में पहले से सूचना दी जा सकती है. उसके बाद नवंबर में होने वाली बैठक में इसकी औपचारिक घोषणा की जा सकती है. एशिया के अन्य बाजारों में हांगकांग का हैंगसेंग 3 प्रतिशत से अधिक नीचे आ गया. चीन, जापान और दक्षिण कोरिया के शेयर बाजार अवकाश के कारण बंद थे. यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी दोपहर कारोबार में गिरावट का रुख रहा. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.92 प्रतिशत की गिरावट के साथ 73.89 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. सोर्स- भाषा
 

और पढ़ें