पेशावर पाकिस्तानः मदरसे में बम विस्फोट में सात बच्चों की मौत, 70 से अधिक घायल

पाकिस्तानः मदरसे में बम विस्फोट में सात बच्चों की मौत, 70 से अधिक घायल

पाकिस्तानः मदरसे में बम विस्फोट में सात बच्चों की मौत, 70 से अधिक घायल

पेशावर: उत्तर-पश्चिमी पाकिस्तान के पेशावर शहर में एक मदरसे में मंगलवार को एक शक्तिशाली बम विस्फोट हुआ, जिसमें कम से कम सात बच्चों की मौत हो गई जबकि 70 से अधिक अन्य घायल हो गए.

मदरसे में नमाज के बाद हुआ विस्फोटः 
पेशावर शहर के पुलिस अधीक्षक वकार अज़ीम ने कहा कि पेशावर शहर की दीर कॉलोनी में स्थित मदरसे में फज्र (सुबह) की नमाज के बाद विस्फोट हुआ. किसी अज्ञात व्यक्ति ने विस्फोटक सामग्री से भरा बैग मदरसे की दीवार के पास रख था. विस्फोट में 7 बच्चे मारे गए और 70 से अधिक अन्य घायल हो गए. उन्होंने बताया कि माना जाता है कि बच्चे जब मदरसे में आ रहे थे, तब विस्फोट हुआ.

4 से 5 किलोग्राम विस्फोटक का किया इस्तेमालः 
आतंवाद निरोधक विभाग (सीटीडी) के एक अधिकारी ने बताया कि विस्फोट में 4 से 5 किलोग्राम विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया. अधिकारी ने बताया कि मरने वालों में ज्यादातर बच्चे 7-11 साल की उम्र के थे. इनमें से कई अफगानिस्तान के थे. अस्पताल के अधिकारियों ने पुष्टि की कि उन्हें विस्फोट में मारे गए सात बच्चों के शव मिले हैं और 70 लोग घायल हुए हैं.

प्रधानमंत्री इमरान खान ने हमले की निंदा कीः
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने हमले की निंदा की और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की. उन्होंने एक ट्वीट में कहा कि पेशावर में मदरसा पर हुए आतंकवादी हमले से बहुत दुखी हूं. मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की दुआ करता हूं. मैं अपने देश को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम इस कायरतापूर्ण बर्बर हमले के लिए जिम्मेदार आतंकवादियों को सख्त सजा मिलेगी.

विस्फोट के समय मदरसे के अंदर थें 40 से 50 बच्चेः 
खैबर पख्तूनख्वा के पुलिस प्रमुख सनाउल्ला अब्बासी ने मरने वालों की संख्या की पुष्टि की है. पुलिस के अनुसार, जब बम विस्फोट हुआ तब लगभग 40-50 बच्चे मदरसे के भीतर मौजूद थे. मदरसा प्रशासन ने कहा कि संस्था में लगभग 1,100 छात्र पढ़ते हैं. 

खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री महमूद खान ने भी की हमले की निंदाः
खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री महमूद खान ने बच्चों पर हमले की निंदा की. मुख्यमंत्री के सूचना सलाहकार कामरान बंगश ने कहा कि विस्फोट की पूरी तरह जांच की जाएगी और अपराधियों को सजा दी जाएगी. उन्होंने कहा कि जो लोग आतंक फैलाते हैं वे अपने मकसद में कभी कामयाब नहीं होंगे. उन्होंने कहा कि हमले में कम से कम 72 बच्चे घायल हुए हैं. इलाके की घेराबंदी कर दी गई है और पुलिस की टीमें सबूत इकट्ठा कर रही हैं. किसी भी समूह ने अभी तक हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. खैबर पख्तूनख्वा स्वास्थ्य मंत्री तैमूर सलीम झागरा ने घटना स्थल का दौरा किया. पत्रकारों से बात करते हुए, उन्होंने कहा कि घायल लोगों को जल्द ठीक करने के लिए हरसंभव उपचार प्रदान किया जा रहा है. पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरियम नवाज ने इसे कि दिल दहला देने वाली घटना करार दिया.
सोर्स भाषा

और पढ़ें