नक्सली हमलाः केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बीच में छोड़ा असम दौरा

नक्सली हमलाः केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बीच में छोड़ा असम दौरा

नक्सली हमलाः केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बीच में छोड़ा असम दौरा

नई दिल्लीः केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में सुरक्षा बलों के 22 जवानों के शहीद होने के मद्देनजर रविवार को असम में चुनाव प्रचार के लिए अपना दौरा बीच में ही रोककर दिल्ली लौट रहे हैं. यह जानकारी अधिकारियों ने दी. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि शाह राष्ट्रीय राजधानी लौट रहे हैं और छत्तीसगढ़ में स्थिति की समीक्षा करने के लिए मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक कर सकते हैं.

 

दो स्थानों पर अपनी सभाओं को किया रद्दः 
गृहमंत्री अमित शाह असम के एक दिवसीय दौरे पर थे और उन्हें भाजपा और उसके सहयोगी दलों के उम्मीदवारों के लिए सरभोग, भवानीपुर और जलुकबाड़ी निर्वाचन क्षेत्रों में तीन चुनावी सभाओं को संबोधित करना था. असम में तीसरे और अंतिम चरण का मतदान छह अप्रैल को है. राज्य में पहले दो चरण का मतदान 27 मार्च और एक अप्रैल को हो चुका है. एक अधिकारी ने कहा कि शाह ने सरभोग में सभा को संबोधित किया लेकिन बाकी दो स्थानों पर अपनी सभाओं को रद्द कर दिया और दिल्ली लौट रहे हैं.

मुठभेड़ में 22 जवान हुए शहीदः 
छत्तीसगढ़ में बीजापुर और सुकमा जिलों की सीमा के साथ लगते जंगल में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में शनिवार को पांच सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई और 30 अन्य घायल हो गए थे. पुलिस ने बताया कि मुठभेड़ के बाद लापता हुए 18 जवानों में से 17 के पार्थिव शरीर रविवार को मिले, जिससे इस मुठभेड़ में शहीद हुए जवानों की संख्या बढ़कर 22 हो गई. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने पहले कहा था कि शाह ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बात की और मुठभेड़ के बाद उत्पन्न स्थिति का जायजा लिया.
सोर्स भाषा

और पढ़ें